क्षेत्र को रेलवे की मिलेगी एक और सौगात

रेलवे बोर्ड को भेजा गया है प्रस्ताव महाकौशल अंचल से सीधा जुड़ जाएगा विदर्भ

By: Mangal Singh Thakur

Published: 21 Jan 2021, 09:38 AM IST

नैनपुर. ब्राडगेज की शुरुआत के साथ ही एक और नई सौगात क्षेत्र के रहवासियों को जल्द मिलने की संभावनाएं है। गया से होकर चेन्नई तक चलने वाली फेस्टिवल यात्रीगाड़ी के बाद अब जबलपुर से नैनपुर गोंदिया होकर नागपुर के बीच इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। 16 जनवरी को भेजे गए इस प्रस्ताव में जबलपुर से नागपुर के बीच एक इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन चलाने की अनुमति मांगी गई है। इस प्रस्ताव के स्वीकृति मिलते ही जिले वासियों को एक बड़ी सौगात मिल जाएगी। यह ट्रेन एक सुपर फास्ट यात्रीगाडी होगी जो न केवल जबलपुर से नागपुर को कम समय में जोड़ देगी वरण महाकौशल अंचल का सीधा संपर्क विदर्भ क्षेत्र से हो जाएगा। बताया जा रहा है कि उपरोक्त ट्रेन सुबह पांच बजे जबलपुर से रवाना होगी जो 11 बजे महज 6 घंटो में नैनपुर, गोदिंया होकर नागपुर पहुंच जाएगी। जिसकी वापिसी शाम पांच बजे नागपुर से छूटकर रात 11बजे जबलपुर पहुंचकर होगी। इस यात्री गाड़ी को हबीबगंज जनशताब्दी की तर्ज पर चलाने की तैयारी की जा रही है। ताकि जबलपुर एवं महाकौशल अंचल से अपने उपचार के लिए नागपुर जाने वाले लोगो को इसका सीधा लाभ मिल सके।


अभी नागपुर की ट्रेन इटारसी-बैतूल होकर जाती है। जिससे यात्रियों को अधिक किराया और समय भी लगता है। जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज पर अभी गया-चेन्नई एक्सप्रेस ट्रेन ही संचालित हो रही है। जल्द ही उत्तर से दक्षिण भारत को जाने वाली कुछ और ट्रेनों का रूट डायवर्ट करने की तैयारी भी की जा रही है। क्योंकि यह ट्रैक अभी पूर्णत: खाली है। सप्ताह में एक दिन गया-चेन्नई एक्सप्रेस संचालित होने से इस रूट के नियमित यात्रियों को ज्यादा लाभ नहीं मिल पा रहा है। जबकि इंटरसिटी ट्रेन के संचालन से इस क्षेत्र के लोगों को जबलपुर व नागपुर की सीधी कनेक्टिविटी मिल जाएगी।


इंटरसिटी के लिए ये रूट प्रस्तावित
जबलपुर रेल मंडल की ओर से भेजे गए प्रस्ताव में इंटरसिटी एक्सप्रेस को जबलपुर से गढ़ा, ग्वारीघाट, बरगी, घंसौर, नैनपुर, लामता, बालाघाट, बिरसोला, गोंदिया, तुमसर, भंडारा होकर चलाने की बात शामिल की गई है। इससे जबलपुर से नैनपुर बालाघाट का भी ट्रेन से सीधा जुड़ाव हो जाएगा। इस रूट से नागपुर की दूरी भी इटारसी-बैतूल के वर्तमान मार्ग की तुलना में कम हो जाएगी। नए रूट से यात्रियों को नागपुर तक जाने का ट्रेन का नया विकल्प मिलेगा।

Mangal Singh Thakur
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned