अतिवृष्टि दे गई शहर को 12 करोड़ 7 लाख के जख्म

अतिवृष्टि दे गई शहर को 12 करोड़ 7 लाख के जख्म
अतिवृष्टि दे गई शहर को 12 करोड़ 7 लाख के जख्म

Nilesh Trivedi | Updated: 20 Sep 2019, 11:29:35 AM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

अतिवृष्टि दे गई शहर को 12 करोड़ 7 लाख के जख्म

मंदसौर.
अतिवृष्टि ने शहर को १२ करोड़ ७ लाख के जख्म दिए है। जिसे भरने के लिए नपा ने शासन से अनुदान मांगा है। नगर पालिका ने नुकसानी के आंकलन की रिपोर्ट बनाकर शासन को भेजी है और अनुदान मांगा है। अब बाढ़ से हुए नुकसान को सुधारने और सड़को को संवारने के लिए नपा को शासन से अनुदान मिलने का इंतजार है।

शहर में पुलियाओं के साथ सड़के पूरी तरह बेदम हो गई है तो रिंगरोड के यहां पोल व लाईन बह गई तो पेयजल लाईन को भी बाढ़ ने नुकसान पहुंचाया है। पूरे शहर में बड़े पैमानें पर सड़के कही तो पूरी उखड़ गई तो कही छलनी हो गई। लेकिन अतिवृष्टि शहर की सड़के नहीं झेल पाई और उत्कृष्ट से लेकर गारंटी वाली सड़कें भी बेदम हो गई। शहर में कई क्षेत्रों में गारंटी वाली सड़क है। जो अभी बारिश में बेदम हो गई। नपा ने गारंटी वाली सड़को और उनके ठेकेदारों की सूची बनाई है। उन्हीं ठेकेदारों से इन सड़को की मरम्मत करवाई जाएगी।


248 किमी नपा की तो 15 किमी लोनिवि की सड़के हुई खराब
नपा से मिली जानकारी अनुसार शहरीय क्षेत्र में प्रमुख व आंतरिक मार्ग के साथ के अलावा कॉलोनियों व गली मोहल्लों में डामरीकृत व सीसी की करीब ३४८ किमी की सड़के है। इसमें २९८ किमी डामरीकृत व बाकी अन्य है। इसमें ४ उत्कृष्ट सड़के भी है।

इसके अलावा नयाखेड़ा से लेकर गुराडिय़ादेदा बालाजी तक १३ किमी व आंबेडकर चौराहे से कोर्ट सहित अन्य क्षेत्रों में करीब १५ किमी की सड़के लोनिवि की है। बारिश में यह सभी सड़कें बेदम हो गई है और मुख्य मार्गों पर सड़कों पर कई जगह विकराल गड्ढे हो गए है। सड़को पर जानलेवा और विकराल हो चुके इन गड्ढों के कारण हर दिन डेढ़ लाख से अधिक लोगों को आवागमन में परेशानियां झेलना पड़ रहा है। नपा ने वार्डवार खस्ताहाल हो चुकी सड़को की नुकसानी का आंकलन निकाला है। और पुल-पुलियाओं का भी। इसमें १२ करोड़ से अधिक का नुकसान हुआ है।


कलेक्टर को पत्र लिखकर कहा पंप स्टेशन पर बनाए कार्ययोजना
विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने कलेक्टर को पत्र लिखा। इसमें उन्होंने पंप स्टेशन के लिए जल्द कार्ययोजना बनाने की बात कही। इस बार बारिश में धूलकोट बांध की बाढ़ नियंत्रण योजना धानमंडी के पंप हाउस, पुराने कलेक्टर कार्यालय के पास पंप हाउस तथा नीलम शाह दरगाह के पास की प्रोटक्शन वॉल की व्यवस्था फेल हो गई। इसके कारण पूरे शहर में पानी जमा हो गया था। उन्होंने इसके लिए विधायक निधि से मैंने 50 लाख रु की स्वीकृति दी है तो सांसद ने भी पंप के लिए ५० लाख देने की बात कही है।


शासन से मांगा है अनुदान
शहर में सड़को के साथ पुल-पुलिया क्षतिग्रस्त हुई है तो रिंगरोड पर पोल सहित लाईन व रामघाट पर गेट लगाने की कडिय़ा और पाईप लाईन बह गई है। गारंटी वाले सड़को की मरम्मत संबंधित ठेकेदार से कराने के लिए इंजीनियरों को निर्देश दिए है। आंकलन में शहर में बाढ़ से १२ करोड़ ७ लाख के नुकसान की जानकारी शासन को भेजकर अनुदान मांगा है। प्रभारी मंत्री को भी इसके लिए चि_ी दी है। मुख्यमंत्रीजी जिले में आ रहे है तो उनसे भी इसके लिए मांग करेंगे। -हनीफ शेख, अध्यक्ष, नपा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned