कोरोना इफ्फेक्ट:-नवरात्रि पर होने वाले आयोजन निरस्त, माता के मंदिरों में नहीं हो सकेंगे दर्शन

कोरोना इफ्फेक्ट:-नवरात्रि पर होने वाले आयोजन निरस्त, माता के मंदिरों में नहीं हो सकेंगे दर्शन

मंदसौर.
शहर सहित पूरे जिले में आज से शुरु हो रही चैत्र नवरात्रि और गुड़ी पड़वा पर होने वाले कार्यक्रम कोरोना वायरस के चलते निरस्त कर दिए गए है। यहां तक की अधिकांश माता मंदिरों व देवालयों में दर्शन भी नहीं हो सकेंगे। हमेशा अनेक संस्थाओं द्वारा नए साल के अवसर पर कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते है तो नो दिनों तक मंदिरों में होने वाले धार्मिक आयोजनों की शुरुआत भी होती है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस के प्रभाव के कारण सभी जगहों पर कार्यक्रम निरस्त किए है। घर पर ही लोगों को भक्ति व आराधना करना होगी।


नालछा माता पर कार्यक्रम निरस्त
शहर में स्थित नालछा माता मंदिर पर चैत्र नवरात्रि में होने वाले सभी आयोजनों को निरस्त कर दिया गया है। मंदिर पर नवरात्रि के दौरान सिर्र्फ पुजारी द्वारा नियमित आरती व पूजा की जाएगी। लेकिन मंदिर पर होने वाले ज्योत से लेकर हवन-पूजन के साथ माता की भक्ति में होने वाले सभी धार्मिक आयोजनों का निरस्त कर दिया गया है। मंदिर पर भीड़ न हो इसके लिए कार्यक्रम निरस्त किए गए है। तहसीलदार नारायण नांदेड़ा ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण मंदिर पर होने वाले आयोजन को निरस्त किया गया है।


नववर्ष पर आयोजित भगवान सूर्य अध्र्य कार्यक्रम निरस्त
सामाजिक समरसता मंच द्वारा 25 मार्च को चैत्र नवरात्रि गुड़ी पड़वा का स्वागत भगवान सूर्य को अध्र्य प्रदान का कार्यक्रम निरस्त कर दिया गया। सामाजिक समरसता जिला संयोजक जितेंद्र गेहलोद एवं समरसता मंच अध्यक्ष रवीश राय गौड़ ने बताया कि कोरोना वायरस से फैलने वाली महामारी के चलते लॉकडाउन है। ऐसे में कार्यक्रम का निरस्त किया गया है। भगवान पशुपतिनाथ मंदिर पर होने वाले सूर्य अध्र्य कार्यक्रम को निरस्त किया है।

पशुपतिनाथ का श्रृंगार भी हुआ निरस्त
अंनत सेना द्वारा नववर्ष के अवसर पर भगवान पशुपतिनाथ का आकर्षक श्रृंगार का आयोजन था। जो कोरोना वायरस के चलते निरस्त किया गया। पशुपतिनाथ मंदिर पर अब सिर्फ नियमित पूजा ही होगी। वहीं नववर्ष को लेकर मंदिर पर हर साल भीड़ लगती है लेकिन इस बार बिना दर्शन के ही भक्तों को अपने नए साल की शुरुआत करना होगी।

Nilesh Trivedi Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned