भाजपा के 7 विधायकों को छोड़ केवल कांगे्रस विधायक के क्षेत्र में 'कर्जमाफी सम्मेलन

भाजपा के 7 विधायकों को छोड़ केवल कांगे्रस विधायक के क्षेत्र में 'कर्जमाफी सम्मेलन

मंदसौर.
जिले ही नहीं वरन् प्रदेश में भेदभाव की राजनीति के आरोप-प्रत्यारोप विपक्षी दल के जनप्रतिनिधि से लेकर पदाधिकारी लगाते आ रहे है। वही अब इन आरोपों को अब ओर बल कर्जमाफी के होने वाले सम्मेलन दे रहे है। संसदीय क्षेत्र में कर्जमाफी के सम्मेलन के लिए कांग्रेस विधायक हरदीप ङ्क्षसह डंग का यही क्षेत्र का चिह्ंित किया गया है। जबकि भाजपा समर्थित आठ विधायकों के क्षेत्र में कब होगा यह तारीख भी अधिकारी बताने का तैयार नहंी है। भाजपा विधायक अब इस मुद्दे को विधानसभा में उठाने की बात कह रहे है।


प्रभारी मंत्री हुकुमसिंह कराड़ा २० फरवरी को जिले की सुवासरा विधानसभा क्षेत्र की सीतामऊ तहसील में दूसरे चरण में किसानों को कर्जमाफी के प्रमाण पत्र बांटने के साथ सम्मान के तौर पर ताम्रपत्र भी वितरित करेंगे। पहला चरण समाप्त होने के बाद लंबे समय बाद किसानों को कर्जमाफी का इंतजार था, दूसरे चरण में १ लाख तक कर्जमाफ होने की प्रक्रिया शुरु तो हुई लेकिन उन किसानों को अभी भी इंतजार करना पड़ेगा। जिले के एकमात्र कांग्रेस विधायक हरदीपसिंह डंग की विधानसभा की सीतामऊ तहसील में यह कार्यक्रम हो रहा है। वहीं जिले की तीन विधानसभा जहां के विधायक भाजपा का है।

वहां कर्जमाफी के सम्मेलन तय ही नहीं हुई। उसी तरह रतलाम जिले में भी सैलाना व आलोट विधानसभा में जहां कांग्रेस विधायक है। वहीं कर्जमाफी के सम्मेलन हुए तो नीमच जिले में तीना सीटों पर भाजपा के विधायक होने के कारण अभी सम्मेलन तय भी नहीं हुआ है। ऐसे में जिले के भाजपा विधायकों ने शासन की इस प्रकार कर्जमाफी पर सवाल खड़े कर दिए तो सदन में इसे लेकर सवाल उठाने तक की बात कही है।


२६ करोड़ ५७ लाख का कर्ज होगा माफ
कर्जमाफी के दूसरे चरण में सीतामऊ तहसील के ४ हजार ६९० किसानों का करीब २६ करोड़ ५७ लाख रुपए का कर्जमाफ होगा। दूसरे चरण में १ लाख तक के और एनपीए का २ लाख तक का अभी सीतामऊ तहसील में ही कर्जमाफी हो रही है। इसके बाद अगले चरण में जिले की अन्य तहसीलों में दूसरे चरण का कर्जमाफ होगा। इसमें सीतामऊ तहसील में बैंकों से जुड़े करीब ३२६ किसानों में से पीए में २८९ तो एनपीए ३९ किसानों का माफ होगा। वहीं सोसायटियों से जुड़े पीए के करीब ३ हजार २१२ तो एनपीए के १ हजार १५२ किसानों का कर्जमाफ होगा। वहीं सीतामऊ को छोड़ जिले की मंदसौर, दलोदा, गरोठ-भानपुरा, मल्हारगढ़ के साथ शामगढ़-सुवासरा के किसानों को दूसरे चरण में कर्जमाफी के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा।


सीतामऊ में है २० को सम्मेलन
जिले में सीतामऊ तहसील में दूसरे चरण का कर्जमाफी को लेकर सम्मेलन २० को होना है। इसलिए सभी तैयारियंा की जा रही है। सीतामऊ में सम्मेलन के दौरान करीब साढ़े चार हजार किसानों का साढ़े २६ करोड़ का कर्जमाफ होगा।-डॉ. एएस राठौर, उपसंचालक, कृषि


सदर के हर फ्लोर पर हर मुद्दा उठाएंगे
जिले में भाजपा के जनप्रतिनिधियों की संख्या ज्यादा है। ऐसे में प्रशासन शासन के दबाव में प्रोटोकॉल को तिलांजली देकर सरकारी आयोजन कर रहा है। न तो भाजपा से जुड़े जनप्रतिनिधियों के नाम होते है और न हीं उन्हें आमंत्रित किया जा रहा है। अब कर्जमाफी में जहां भाजपा के विधायक है। वहां सम्मेलन ही नहीं करवाएं जा रहे है। जो हो रहा है। उसे लेकर विधानसभा में हर फ्लोर पर हर मुद्दा उठाया जाएगा। -यशपालसिंह सिसौदिया, विधायक, मंदसौर


द्वेषता से काम कर रही सरकार और प्रशासन
सरकार द्वेषता से काम कर रही है और प्रशासन सरकार के दबाव में काम कर रहा है। भाजपा ने हमेशा सबका साथ सबका विकास के ध्येय को लेकर काम किया है। जहां कांग्रेस विधायक वहीं पर कर्जमाफी करते हुए सम्मेलन किए जा रहे है। बजट में भी सरकार ने सड़कों की वहीं स्वीकृतियां दी। जहां कांग्रेस विधायक है। बजट सत्र में विधानसभा में सरकार के सामने इस मामले को उठाऊंगा। -देवीलाल धाकड़, विधायक गरोठ


जनता की उपेक्षा कर रही सरकार
सिर्फ कांग्रेस विधायक के यहां सम्मेलन कर भाजपा के विधायको वाले क्षेत्र को नजरअंदाज कर शासन जनता की उपेक्षा कर रही है। किसान भी सरकार की नियत व नीतियों को समझ चुके है। इस मामले को विधानसभा में उठाएंगे।-डॉ. राजेंद्र पांडेय, विधायक, जावरा


विपक्ष को सरकार के अच्छे कामों की प्रशंसा भी करना चाहिए
कर्जमाफी के सम्मेलन बारी-बारी से सभी जगह होंगे। प्रदेश के सभी किसानों का कर्जमाफ हो रहा है। विपक्ष को सरकार के अच्छे कामों की प्रशंसा भी करना चाहिए। -प्रकाश रातडिय़ा, जिलाध्यक्ष, कांग्रेस

Nilesh Trivedi Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned