मांगों के निराकरण के बिना नहीं समाप्त होगा धरना आंदोलन

By: vikram ahirwar

Published: 22 Apr 2017, 11:48 AM IST


मन्दसौर/रतलाम.
सरपंच सचिवो का आंदोलन अब और तेज होता जा रहा है। भारत उदय से ग्राम उदय अभियान फ्लॉप हो चुका है। जिले से भोपाल आंकड़े भेज कर उच्चाधिकारियों को संतुष्ट किया जा रहा है। जब तक मांगों का निराकरण नहीं होगा, आंदोलन जारी रहेगा। यह बात सचिव संगठन के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने कहीं। वे शुक्रवार को जनपद पंचायत परिसर में आयोजित सरपंच-सचिवों के धरने को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मन्दसौर जिला प्रशासन द्वारा संगठन के पांच पदाधिकारियों को दोहरी सजा दी गई है जो गलत है। प्रशासन इन पदाधिकारियों को तत्काल बहाल करें। 24 अप्रेल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस पर विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। पूरे प्रदेश भर के सरपंच- सचिवो ने संकल्प लिया है कि हमारी जायज मांगों को सरकार तत्काल पूरा करें। इस अवसर पर संगठन के पदाधिकारियों ने नंदकिशोर कुमावत के सरपंच संघ का जिला अध्यक्ष बनाने पर बधाई दी। धरना स्थल पर पहुंचकर मंदसौर जनपद उपाध्यक्ष परशुराम सिसोदिया, मल्हारगढ़ जनपद उपाध्यक्ष गणपत लाल पंवार, चंद्रशेखर जैन ने मांगों का समर्थन किया। इस अवसर पर संगठन के जिलाध्यक्ष सुभाष शर्मा, उपाध्यक्ष दशरथ मालवीय, लालसिंह, दशरथसिंह भाटी उपस्थित थे।


vikram ahirwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned