scriptDue to the flowing of the culvert on Chambal, the contact with Rajasth | चंबल पर बनी पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क तो शहर में भी क्षतिग्रस्त पुलिया पर नहीं हुआ काम | Patrika News

चंबल पर बनी पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क तो शहर में भी क्षतिग्रस्त पुलिया पर नहीं हुआ काम

चंबल पर बनी पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क तो शहर में भी क्षतिग्रस्त पुलिया पर नहीं हुआ काम

मंदसौर

Updated: July 01, 2022 10:44:12 am


मंदसौर.
जिले में वर्ष २०१९ में आई बाढ़ के जख्म अब भी जिलेवासियों के जेहन में ताजा है। उस समय हुए घटनाक्रम और नदियों का उफान हर किसी को याद है। और हो भी क्यों ना। जिले में नदी-नालों पर बने पुल-पुलिया जो उस बाढ़ में बह गए थे वह तीन साल बाद भी नहीं बन पाए है। ऐसे में आवागमन में तीन साल बाद भी लोगों को परेशानियां झेलना पड़ रही है। और इन पुल-पुलियाओं को देख हर किसी को बाढ़ के दौरान के दृश्य याद आ जाते है। पुल-पुलिया तो अपनी जगह लेकिन बाढ़ में जितनी सडक़ो का नुकसान जिले और शहर में हुआ था और विभागों ने रिपोर्ट भेजी थी उनकी मरम्मत और उनका कायाकल्प भी पूरी तरह नहीं हो पाया है और कही मंजूरी मिली भी गई है तो विभागीय प्रक्रियाओं में ही सडक़े और पुल-पुलियाएं उलझी हुई है। राजस्थान को जिले से जोडऩे वाला चंबल का बहा पुल और शहर में गांधीनगर क्षेत्र में पुलिया के कटाव से प्रोफेसर के परिवार के बहने वाली पुलिया तीन साल बाद भी यथास्थिति में है।
चंबल पर बनी पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क तो शहर में भी क्षतिग्रस्त पुलिया पर नहीं हुआ काम
चंबल पर बनी पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क तो शहर में भी क्षतिग्रस्त पुलिया पर नहीं हुआ काम

पुलिया कटने से प्रोफेसर का बहा था परिवार अब भी ताजा है जख्म
इधर शहर के गांधीनगर क्षेत्र में शिक्षक नगर वाले क्षेत्र में नाले में तेज बहाव के दौरान जब शहरवासी तेज बहाव देखने एकत्रित हुए और नाले पर बनी पुलिया पर सेल्फी लेने और आवागमन का दौर चल रहा था। तब पीजी कॉलेज के प्रोफेसर का परिवार भी पुलिया पर गुजरने के दौरान पानी के तेज बहाव से पुलिया का कटाव होने के कारण पुलिया का हिस्सा बह गया। इस हादसे में प्रोफेसर का परिवार भी बह गया था। तीन साल बाद भी इस रोड पर पुलिया के हालात ऐसे ही है। यहां से गुजरने वाले लोगों को उस हादसे के जख्म अब भी ताजा लगते है।

पुलिया बहने से राजस्थान से टूटा संपर्क, अब मिली मंजूरी
वर्ष २०१९ की बाढ़ के दौरान जिले की सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में चंबल नदी पर बनी पुलिया जो राजस्थान के चोमहला क्षेत्र को जिले से जोड़ती है वहां पुलिया का आधा हिस्सा बह गया था। इसके बाद राजस्थान और मंदसौर जिले के इस पुलिया से आवाजाही करने वाले लोगों को पिछले तीन सालों से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। तो यात्री वाहनों को भी दिक्कत हो रही है। दो राज्यों को जोडऩे वाले पुल के बहने से दो राज्यों का संपर्क टूट गया था। इस बीच प्रदेश में सत्ता परिवर्तन भी हुआ लेकिन पुल नहीं बन पाया। राजस्थान क्षेत्र के लोगों की परेशानियों को देखते हुए वहां की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिङ्क्षधया ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से भी पुल के निर्माण को लेकर बात की थी। इधर कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग ने भी लगातार इसके निर्माण को लेकर शासन स्तर पर कवायद की और इस बार प्रदेश के बजट में इसे मंजूरी मिली। हालंाकि अभी प्रक्रियाओं के बाद इसका काम शुरु होगा। इस बीच मानसून फिर आ गया है। ऐसे में अभी और इंतजार करना पड़ेगा।

बाढ़ में जितने रोड़ हुए थे क्षतिग्रस्त उनसे से अधिकांश को कायाकल्प का इंतजार
तीन साल पहले आई बाढ़ में शहर सहित जिले में अधिकांश जगहों पर सडक़े बदहाल हो गई थी। सरकार ने आनन फानन में सडक़ों की नुकसानी की रिपोर्ट तो मांगी थी और विभाग ने आंकलन कर रिपोर्ट भी भेजी लेकिन सडक़ो का पूरी तरह जिले में अब भी कायाकल्प नहीं हो पाया है। और कही मंजूरी मिली भी है तो मामला प्रक्रियाओं में उलझा हुआ है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar News: तेज प्रताप भी बन सकते हैं मंत्री, बिहार में 16 अगस्त को मंत्रिमंडल विस्तारBilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.