मौत के मंजर को दिखाकर हाईवे पर दे रहे सुरक्षा व सावधानी का संदेश


मौत के मंजर को दिखाकर हाईवे पर दे रहे सुरक्षा व सावधानी का संदेश


मंदसौर.
फोरलेन स्टेट हाईवे पर हादसों को रोकने के लिए पुलिस विभाग व परिवहन विभाग ने अनोखे ढंग का नया तरीका अपनाया है। इसमें हाईवे के उन चौराहों को चिंहित किया है। जहां पर आए दिन हादसे होते है और कई मौतें हो चुकी है। इन हादसों के पर्याय बन चुके चौराहों पर पूर्व में ही एक्सीटेंड के उन वाहनों को स्टेंड बनाकर बेहतर ढंग से हाईवे के बीच डिवाईडर पर रखकर संदेश देने की कोशिश की जा रही है। इसमें जगह-जगह मौत के मंजर को दिखाकर विभाग यहां से गुजर रहे वाहन चालको को धीमें और सुरक्षित चलने के साथ ही सावधानी के लिए आगाह कर रहा है।
ताकि इन्हें देखकर कोई अन्य ने करें लापरवाही
फोरलेन पर जिन चौराहों पर आए दिन हादसें हो रही है। वहीं पर पूर्व में एक्सीटेंड में जो वाहन पूरी तरह चकनाचूर हो गए है। इन वाहनों को ही रखा। ताकि इन वाहनों को देखकर हाईवे से गुजरने वाले वाहन चालक इन वाहनों की स्थिति देख अपनी रफ्तार पर अंकुश लगाने के साथ ही सावधानी भी रखें। विभाग ने इस प्रकार के वाहन रखने के पीछे यहीं तर्क दिया कि इन वाहनों को देख कोई हाईवे पर ड्रायविंग के दौरान लापरवाही नहीं बरतें।
५० किमी में कई जगह रखे ऐसे वाहन
परिवहन व पुलिस विभाग द्वारा हाईवे क्षेत्र में कई जगहों पर पूर्व में हादसों में पूर्ण रुप से क्षतिग्रस्त हो चुके वाहनों को बीच डिवाईडर पर रख रखा है। जिसे देखकर रफ्तार पर अंकुश लगाने के साथ ही हाईवे पर चलने वाले वाहन चालक सुरक्षित चले। मंदसौर से जावरा के बीच फोरलेन पर नयाखेड़ा, भावगढ़, भीमाखेड़ी चौराहा और उज्जैन बायपास चौराहा से लेकर अनेक जगहों पर कही कार तो कही मारुती वेन तो कही अन्य चारपहिया वाहन स्टेंड लगाकर रख दिए गए है।
सुरक्षा के लिखें संदेश
इन वाहनों पर पुलिस ने सुरक्षा के संदेश लिख रखे है। इसमें वाहन चलाते समय सावधानी रखने से लेकर धीमें चलने के संदेश हादसों में भंगार हो चुके इन वाहनों के माध्यम से विभाग दे रहा है।
सुरक्षित चलने की सीख के लिए
हाईवे पर तेज रफ्तार से हो रहे हादस होते है। ऐसे में हादसे में पूरी तरह क्षतिग्रस्त इन वाहनों को इस प्रकार चौराहों पर रखकर लोगों को धीमी व सुरक्षित चलने के संदेश देने के लिए इस प्रकार वाहनों को रखा जाता है। -ज्ञानेंद्र वैश्य, आरटीओ

Nilesh Trivedi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned