महारूद्राभिषेक चारों पहर की चार विशेष आरती

महारूद्राभिषेक चारों पहर की चार विशेष आरती

मंदसौर.
भगवान भपशुपतिनाथ महादेव मंदिर पर महाशिवरात्री पर्व के उपलक्ष्य में अभूतपूर्व आयोजन किए जाएंगे। प्रात:काल आरती मंडल के तत्वाधान में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी महारूद्राभिषेक होगा। इस दिन सुबह 4 बजे गर्भगृह के पट खुलेंगें तथा सुबह 6 बजे विशेष पूजन अभिषेक किया जाएगा। रात में 4 पहर के 4 महारूद्राभिषेक, 4 आरती होगी।
भगवान पशुपतिनाथ प्रात: काल आरती मंडल के अध्यक्ष दिलीप शर्मा ने बताया कि इस वर्ष महाशिवरात्री पर्व पर भगवान पशुपतिनाथ महादेव की अष्टमुखी प्रतिमा का पहला अभिषेक मंडल की ओर से सुबह 6 बजे किया जाएगा। सुबह से ही साबुदाने एवं मिष्ठानों से युक्त खीर 11 क्विंटल का भोग लगाकर वहीं पर वितरित किया जाएगा।
रात भर होगा विशेष श्रृंगार
भगवान आशुतोष की रात्रिकालीन आराधना के संदर्भ में प्रतिमाह का विशेष श्रृंगार किया जाएगा। चारों अभिषेक व आरती के समय प्रतिमा का श्रृंगार बदला जाएगा। हर बार आकर्षक श्रृंगार किया जाएगा। 4 आरती की जाएगी। अखंड रामायण पाठ का आयोजन शुरू सर्किट हाउस के समीप पशुपतिनाथ मंदिर द्वार के यहां स्थित भटनागर कृषि फॉर्म हाउस पर स्थित अति प्राचीन नर्मदेश्वर महोदव मंदिर पर तीन दिवस की अखंड रामायण पाठ का आयोजन विधि विधान से गुरूवार को शुरू होगा। यहां अखंड रामायण का पाठ तीन दिवस तक चलेगा व महाशिवरात्री पर्व पर विशेष संतुष्ट के साथ चौपाईयों का अनुवादन भजन मंडलियों द्वारा किया जाएगा। राम लोकेंद्र भटनागर ने बताया कि नर्मदेश्वर महादेव मंदिर पर विगत 37 वर्षो से महाशिवरात्री के उपलक्ष्य में पाठ होता चला आ रहा है।

Nilesh Trivedi Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned