भजनों से माहौल हुआ भक्तिमय, पुष्पवर्षा कर एकात्म यात्रा का किया स्वागत

150 से अधिक तांबे के कलश किए संग्रहित

By: harinath dwivedi

Published: 15 Jan 2018, 08:22 PM IST

मंदसौर । गरोठ में एकात्म यात्रा का नगर में करीब 11.55 पर आगमन हुआ। यात्रा का स्वागत सर्वप्रथम भानपुरा रोड स्थित सरस्वती शिशु मंदिर की छात्राओं ने स्काउट बैंड की थाप एवं पुष्प वर्षा के साथ किया। बाद में क्षेत्र एवं नगर के जनप्रतिनिधियों ने यात्रा की अगुवाई कर सम्मिलित हुए। तहसील कार्यालय के सामने यात्रा के साथ करीब ४ हजार से अधिक महिलाएं सर पर कलश लिए यात्रा में चल रही थी। तहसील कार्यालय से लेकर कार्यक्रम स्थल तक सड़क के दोनों ओर यात्रा का स्वागत करने के लिए सड़क के दोनों और लंबी-लंबी कतारें लगी हुई थी। स्वागत के दौरान नगर की सड़कें पुष्प की पत्तियों से पट गई। ढोल, ताशे, बैंड-डीजे की धुन पर चल रहे भजन से सारा माहौल भक्तिमय हो गया। वाहनों पर बने रथो पर कुछ संत विराजित थे तो कुछ पैदल चल रहे थे। बारी- बारी से जनप्रतिनिधि आदि गुरु शंकराचार्यजी की चरण पादुका शिरोधार्य कर चल रहे थे। तहसील कार्यालय से शुरू हुई कलश यात्रा नगर के प्रमुख मार्गो से होती हुए पुराना बस स्टैंड स्थित शहीद चौक पहुंची। जहां मुख्य कार्यक्रम आयोजित हुआ। आदि शंकराचार्य की प्रतिमा के लिए गरोठ-भानपुरा क्षेत्र से 150 से अधिक तांबे और पीतल के कलश को संग्रहित किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम संतो द्वारा शंकराचार्य जी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया। यहां जूनियर अन्नू कपूर ने भजनों की प्रस्तुति दी। इसके बाद जनप्रतिनिधियों ने संबोधन किया। तत्पश्चात संत स्वामी सोम गिरी महाराज ने कहा कि कहा कि हिंदू धर्म विभिन्न जातियों में बटा हुआ है जिसे एकता की माला में पिरोने के लिए आगे आना होगा हिंदू समाज एक लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ेगा। समाज शब्द संस्कृत से लिया गया है जिसका वास्तविक अर्थ सम्यक रुप से गति करते हुए अपने लक्ष्य की प्राप्ति करना है। मनुष्य को लक्ष्य का निर्धारण करना चाहिए।

patrika
IMAGE CREDIT: jagdish vasuniya

2 घन्टे देरी से पहुंची यात्रा
एकात्म यात्रा नगर में 10 बजे प्रवेश करना थी। लेकिन यात्रा करीब 12 बजे नगर में पहुंची। यात्रा के इंतजार ने महिलाएं सिर पर कलश लिए खड़ी रही। वही प्रशासन व्यवस्थाएं दुरुस्त करने में लगा रहा। कार्यक्रम स्थल पर छांव की व्यवस्था नहीं होने से लोग धूप में तपते रहे। अधिक गर्मीहोने के कारण कुछ समय के संबोधन के बाद लोग उठकर जाने लगे। वही यात्रा के स्वागत के लिए शामगढ़ रोड खड़े स्कूली बच्चे सड़क पर बैठे नजर आए। यात्रा भानपुरा से 10 बजे गरोठ की और रवाना हुई। जो 10.32 बजे बाबुल्दा पहुंची। 10.45 बजे दुधाखेड़ी माता चौराहा, 11 बजे बर्डिया इस्तमुरार, 11.20 बजे जोड़मा, 11.30 बजे कुण्डालिया, 11.45 गरोठ पेट्रोल पंप और 11.55 बजे तहसील कार्यालय के सामने पहुंची। इसके बाद शहीद चौक स्थित कार्यक्रम स्थल पर 12.30 पहुंची। संबोधन के 1.30 बजे यात्रा शामगढ़ के लिए रवाना हुई।

patrika
IMAGE CREDIT: jagdish

प्रमुख रूप से यह थे उपस्थित
यात्रा में सांसद सुधीर गुप्ता, जिला यात्रा प्रभारी मदनलाल राठौर, विधायक चंदरसिंह सिसोदिया, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रियंका गोस्वामी, किसान मोर्चा जिला महामन्त्री दिनेश पाटीदार, नप अध्यक्ष गरोठ अनोख पाटीदार, जप सदस्य रंजना, चन्द्रप्रकाश पण्डा, विनीत यादव, एएसपी डॉ इंद्रजीत बाकरवाल, एसडीएम आरपी वर्मा, एसडीओपी बीएस सिसोदिया, तहसीलदार अजय पाठक, थानाप्रभारी प्रतीक राय, बीईओ बीएस चौहान, बीआरसी प्रवीण व्यास सहित गरोठ-भानपुरा क्षेत्र के विभिन्न विभागों के कर्मचारी और अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned