नहीं थम रहा एट्रोसिटी एक्ट का विरोध

नहीं थम रहा एट्रोसिटी एक्ट का विरोध

harinath dwivedi | Publish: Sep, 05 2018 01:19:05 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India


नहीं थम रहा एट्रोसिटी एक्ट का विरोध


मंदसौर.
सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद भी एट्रोसिटी एक्ट में किए गए संशोधन को लेकर क्षेत्र के ग्रामीण अंचल में लगातार जनप्रतिनिधियों का विरोध बढ़ता जा रहा है। ग्रामीणों ने अब एससीएटी एक्ट के विरोध में खुले तौर पर होर्डिंग गांवों में लगा दिए है। इसमें राजनीतिक दलों को गांव में वोट मांगने नहीं आने की चेतावनी दी गई है। पहले पुतले फूंकने के बाद अब गांवों में इस एक्ट के विरोध में फ्लैग्स लगाकर अपना विरोध जताने का चलन चल पड़ा है। एट्रोसिटी को लेकर खुला विरोध हो रहा है। क्षेत्र की सुवासरा विधानसभा के गांव देवरिया विजय व जिले के ही गांव सुजानपूरा में ग्रामीणों ने इसे लेकर होर्डिंग लगाते हुए प्रदर्शन किया। गांव की चौपाल पर हुए प्रदर्शन से राजनीतिक दल भी सकते में है।
देवरिया विजय के ग्रामीण बोले वोट मांगकर हमें शर्मिदा न करें
सुवासरा विधानसभा के गांव देवरिया विजय में ही सबसे पहले विरोध का दौर शुरु हुआ। जहां सांसद सुधीर गुप्ता व पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार का पार्टी के कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों ने विरोध किया था और सांसद से एट्रोसिटी एक्ट पर संसद में नहीं बोलने को लेकर तीखे सवाल किए थे। इसके बाद अन्य गांवों में भी विरोध का दौर चला। अब इसी गांव में ग्रामीणों ने फिर प्रदर्शन किया और गांव में होर्डिंग लगा दिए। (यह गांव स्वर्ण समाज व पिछड़ा वर्ग के लोगों का है। कृपया राजनीतिक पार्टिया वोट मांगकर हमें शर्मिदा न करें। हम अपना वोट नोटा को देगें।) लिखते हुए विरोध किया।
सुजानपुरा मेंं लिखा अपनी बेईज्जती नहीं करवाएं दल
वहीं जिले के ही गांव सुजानपुरा में भी ग्रामीणों ने चौपाल लगाकर नारे लगाते हुए एट्रोसिटी का विरोध किया। यहां ग्रामीणों ने लगाए फ्लैग्स पर लिखा कि यह गांव स्वर्ण समाज व पिछड़ा वर्ग के लोगों का है। कोई भी राजनीतिक दल वोट मांगकर अपनी बेईज्जती नहीं करवाए। एट्रोसिटी को लेकर ही ग्रामीणों ने जमकर नारे लगाते हुए विरोध व्यक्त किया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned