Video 1 करोड़ के पैदल पुल को बनाने में लगा दिया पूरा साल

Video 1 करोड़ के पैदल पुल को बनाने में लगा दिया पूरा साल

harinath dwivedi | Publish: Jan, 14 2019 05:17:52 PM (IST) | Updated: Jan, 14 2019 05:19:31 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

1 करोड़ के पैदल पुल को बनाने में लगा दिया पूरा साल

 

मंदसौर.
शहर में सबसे अधिक विवादो के साथ सुर्खियों में रहे तैलिया तालाब पर नगर पालिका ने १ करोड़ की लागत से पैदल पुल बनवाया। यह प्रोजेक्ट जुलाई में ही पूरा होना था, लेकिन अपने ही वादे को नपा ६ माह बाद भी पूरा नहीं कर पाई और अब भी यह पैदल पुल जनता के लिए शुरु नहीं हो पाया है।

यहां एप्रोच रोड से लेकर रैलिंग लगने और फिनिशिंग सहित अन्य काम अब भी बारी है। जबकि पूर्वके बाद वर्तमान कलेक्टर यहां निरीक्षण कर इसे जल्द पूरा करने के निर्देश दे चुके है। इस पैदल पुल को लेकर शिकायतें भी खूब हुई। नपा पर किसी का कोईअसर नहीं दिखा और इस पैदल पुल के मामले में नपा अब तक लापरवाह बनी हुई है।अब जब इस प्रोजेक्ट को सालभर होने आया तब भी जवाबदार इसे टालते ही नजर आ रहे है। इधर तालाब के किनारें घुमने आने वाले शहरवासियों को इस

पुल के शुरु होने का इंतजार है।
छोटे से पुल में लगा दिया पूरा साल, अभी और लगेगा समय
नपा ने तालाब के बीच से होकर ऋषिनानंद कुटिया तक लोगों की आवाजाही का रास्ता कर तालाब पर घुमने आने वाले शहरवासियों के लिए एक सौगात तैयार करने और इस पिकनिक स्थल को बेहतर करने के लिए नपा ने इसका काम शुरु किया और दो-तीन माह में पूरा करने का दावा किया। फिर देरी हुई तो तत्कालीन कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव ने यहां निरीक्षण कर मानसून के पहले इसे पूरा करने की कहा। देरी पर नपा ने मानसून के बाद इसे पूरा करने का दावा किया। फिर नवंबर में चुनाव से पहले पूरा कर इसका लोकार्पण करवाना तय किया। लेकिन तमाम डेटलाईन निकलती गई और नपा के जवाबदार दर्शक बन अब तक सिर्फ देख रहे हैऔर अभी भी यहां काम बाकी है।बावजूद न तो नपा के अफसर इसे पूरा करने में गंभीरता दिखा रहे हैऔर न हीं ठेकेदार। नपा अपनी ही प्रक्रियाओं में इस प्रकार उलझी है कि लंबे समय तक अधर में लटके इस प्रोजेक्ट का जिम्मा जिसे दिया।उस पर भी नपा सख्ती नहीं दिखा पा रही है।

कब पूरा होगा पता नहीं
आलम तो यह हैकि पैदल पुल कब पूरा होगा।इस पर भी असंमजस्य बना हुआ है। यह कब पूरा होगा।इसका किसी के पास जवाब नहीं है। एप्रोच का काम होना है, लेकिन एप्रोच बनाने की शुरुआत भी नहीं हुई है।रैलिंग लगाना है, लेकिन यह भी अधुरी है तो यहां लाईटिंग से लेकर कलर व फिनिशिंग का काम भी बाकी है।स्वच्छता अभियान से लेकर अन्य बड़े प्रोजेक्ट में लगी नपा इस कछुआ चाल से चल रहे प्रोजेक्ट को पूरा करने में रुचि नहीं दिखा रही है।


प्रोजेक्ट में देरी पर जवाबदारों के बयानों में ही विरोधाभास
सबसे बड़ी विडबंना तो यह है कि पैदल पुल के इस प्रोजेक्ट को समय पर पूरा करना तो दूर इसमें होने वाली प्रक्रियाओं सहित अन्य कामों में हो रही देरी भी इसकी बड़ी वजह है। बावजूद इसे जल्द पूरा करवाने के बजाए अभी भी टाला जा रहा है। जवाबदारों के बयानों में ही इसे लेकर विरोधाभास इसमें बरती जा रही लापरवाही को उजागर कर रहा है। अभी यहां कई काम बाकी है, लेकिन अधिकारी का तर्क है कि चार-पांच दिन में काम शुरु हो जाएगा तो अध्यक्ष कह रहे हैकि 20 दिन का काम बाकी है। अब ऐसे में यह पैदल पुल नपा शुरु कब करेगी। इस पर भी असमंजस्य है।

जल्द हो जाएगा शुरु
पूरा होने को हैकाम। चार-पांच दिन में शुरु हो जाएगा। १ करोड़ की लागत का प्रोजेक्ट है। -बीबी गुप्ता, एई, नपा
20 दिन का काम बाकी
पैदल पुल काम में देरी हुई है। 20 दिन का और काम बाकी है। इसके बाद इसे शहरवासियों के लिए शुरु कर दिया जाएगा। -प्रहलाद बंधवार, नपा

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned