नियमितिकरण को लेकर सहायक सचिवो का धरना प्रारंभ

सचिवों को सातवां वेतन नहीं दिया तो होगा आंदोलन

By: harinath dwivedi

Published: 16 May 2018, 09:16 PM IST

मंदसौर । ग्राम पंचायतो के सहायक सचिव सरकार के भेदभाव वाले रवैये से नाराज होकर बुधवार से हडताल पर चले गए। प्रदेश संगठन के आव्हान पर जिले की 441 ग्राम पंचायतो के ग्राम रोजगार सहायक जनपद पंचायत मन्दसौर में धरने पर बैठ गए। मप्र पंचायत सहायक सचिव संगठन के जिला अध्यक्ष सुरेशसिंह परमार ने बताया कि पिछले कुछ समय से प्रदेष सरकार से सहायक सचिवों ने आश्वासन के आधार पर नियमित होने की आस लगाए रखी किन्तु सरकार ने आश्वासन के अलावा कुछ नहीं दिया। सरकार के नुमाइन्दो के कहने पर आज दिनांक तक सहायक सचिवों ने बिना किसी संगठन को सहयोग किए बिना सरकार का साथ दिया, किन्तु सरकार के इस उदासीन रवैये से अब रोजगार सहायको में आक्रोष है। अब आश्वासन से काम नहीं चलेगा, अब सहायक सचिवो की हडताल का आगाज हो चुका है, और ये तब तक चलती रहेगी जब तक हमारे नियमितिकरण का आदेष जारी नही हो जाता।

- पंचायत सचिवों के साथ सौतेला व्यवहार बर्दाश्त नहंी होगा
- कलेक्टर को सौंपा जिला पंचायत की कार्यशैली सुधारने का ज्ञापन

मंदसौर । जब आईएस और आईपीसी से लेकर हल्के के पटवारी तक 7वां वेतनमान लागू हो सकता है तो प्रदेश के 23 हजार पंचायत सचिवों को 7वे वेतनमान से वंचित किया जाना पंचायत सचिवों के साथ घोर अन्याय व उपेक्षा है। यह बात मप्र पंचायत सचिव संगठन के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने कहीं। वे बुधवार को जनपद पंचायत में जिला स्तरिय सचिव संगठन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार को बचे हुए 6 माह में पंचायत सचिवों को 7 वां वेतनमान, 50 प्रतिशत पदों पर परमोशन, धारा 92 में संशोधन, सेवाकाल की गणना नियुक्ति वर्ष से किये जाने, अंशदायी पेंशन योजना की जगह स्थाई पेंशन योजना लागू करना होगी। मंदसौर जिला पंचायत द्वारा सचिवों के विरूद्ध की जा रही एक तरफा कार्रवाईऔर कार्यशैली को सुधारने के लिए कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में जिले की समस्याओं में मुख्य रूप से सचिवों के खिलाफ फर्जी एफआईआर दर्ज कराने, धारा 92 के तहत कार्रवाई स्थगित करने, बिना सूचना व जांच के निलंबित करने, वर्षो से निलंबित रखने, अनुकंपा के नव नियुक्त सचिवों को 150 किमी दुर नियुक्त करने आदि मुददों पर कार्रवाईकरने की मांग की है। संगठन के जिला अध्यक्ष सुभाष शर्मा ने भी संबोधित किया। जिले के विभिन्न ब्लाक मल्हारगढ़ से ब्लाक अध्यक्ष पृथ्वीराज गौड़, मंदसौर के ब्लाक अध्यक्ष जगदीश शर्मा, सीतामऊ के ब्लाक अध्यक्ष दशरथ भाटी, सुवासारा के ब्लाक अध्यक्ष विरेन्द्र सिंह, भानपुरा के ब्लाक अध्यक्ष सत्यनारायण रावत, गरोठ के प्रभारी रवि नागरआदि ने सम्मेलन को संबोधित किया।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned