भाजपा नेता ने फेसबुक पोस्ट पर किसानों को बताया चांडाल

किसानों को अमीर बताते हुए की पोस्ट, कमेंट के बाद किसानों को कहावत देकर बताया चांडाल

By: harinath dwivedi

Published: 23 May 2018, 06:51 PM IST

मंदसौर.
गत वर्ष हुए किसान आंदोलन की आंच एक बार फिर उठने लगी है और किसान संगठन किसान आंदोलन की तैयारी में लगे हैं। दूसरी ओर भाजपा और अन्य राजनैतिक पार्टियां किसानों को मनाने में लगी हुई है। कुछ ही दिनों में प्रदेश के मुखिया शिवराजसिंह चौहान किसानों से संवाद करने के लिए मंदसौर आ रहे हैं। ऐसे में उनकी ही पार्टी के एक नेता फेसबुक पर पोस्ट पर कमेंट के जवाब में इशारों में किसानों को चांडाल बता दिया।
मंदसौर के जिला मंत्री गणपत सिंह आंजना ने सोमवार को किसानों को समृद्ध बताते हुए फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर की थी। इस पोस्ट में कुछ फोटो के साथ उन्होंने लिखा था तरक्की करता किसान, किसानों के बनते पक्के मकान, फर्नीचर बनवाता किसान, मकान में पीवीसी लगवाता किसान, तभी तो कहते हैं भैय्या, फिर भाजपा, फिर शिवराज, सदा रहे मोदी राज।
इस पोस्ट के बाद उज्जैन के अभिभाषक यशवंत अग्रिहोत्री ने इस पोस्ट पर कमेंट कर सवाल किया तो आत्महत्या कौन और क्यों कर रहें हैं।
यशवंत अग्रिहोत्री के इस कमेंट के बाद गणपतसिंह आंजना ने पोस्ट किया, जिसमें उन्होंने आत्महत्या करने वाले किसानों को चांडाल की संज्ञा दे दी। उन्होंने पोस्ट किया
अकाल मृत्यु वो मरें, जो कार्य करें चांडाल का,
काल उसका क्या करें, जो भक्त हो महाकाल का।
भाजपा नेता की इस पोस्ट के बाद यशवंत अग्निहोत्री ने उनसे सवाल भी किया मतलब आप (अर्थात बीजेपी) आत्महत्या कर रहे किसानों को चांडाल मानते हैं। धन्य आप और आपकी पार्टी। उन्होंने यह भी कहा कि आपका यह बयान वायरल किया जाना चाहिए। इसके बाद भी गणपतसिंह आंजना ने कहा कि किसान आत्महत्या नहीं करता है, कांग्रेस किसान को बदनाम करती है। यशवंत अग्रिहोत्री ने जब यह बयान अखबारों में पढऩे की बात कहीं तो उन्होंने कहा कि मेरे सारे बयान अखबारों में छपवा देना, तुम हुडदंगी कर भी क्या सकते हो। इस प्रकार की अन्य पोस्ट भी उन्होंने की है, जिसमें कांग्रेस के साथ पोस्ट पर कमेंट करने वाले लोगों को जवाब दे रहे हैं। इस प्रकार करीब ५० सेअधिक पोस्ट है, जिनमें वे किसानों को लेकर बात कर रहे हैं। इस संबंध में गणपतसिंह आंजना से सवाल किया तो वे कोई स्पष्ट जबाव नहीं दे सके उनका कहना था कि वे किसानों के लिए बल्कि उन लोगों के लिए कह रहे थे, जिनकी अकाल मृत्यु होती है। वहीं जिलाध्यक्ष देवीलाल धाकड़ का कहना था कि फेसबुक पर उनके द्वारा की गई पोस्ट की मुझे जानकारी नहीं हैं। हालांकि अगर उन्होंने ऐसा कुछ कहा है तो उसका भावार्थ समझना होगा।

BJP president
harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned