शिवना गार्डन को किया जा रहा तेजी से विकसित

- वैकल्पिक मार्ग पर जेसीबी से लेवलिंग का कार्य जारी
- 24 घंटे काम चलाकर वर्षाकाल के पूर्व निपटाएं अधिकांश कार्य- कलेक्टर

By: harinath dwivedi

Published: 24 May 2018, 05:06 PM IST

मंदसौर.
शिवना सौंदर्यकरण एवं संरक्षण अभियान अपने 23वें दिन को पूर्ण कर चुका है। लगातार श्रमदानी अभियान में जुड़ रहे हैं। कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव प्रशासनिक अमले के साथ शिवना तट पर पहुंचें। उन्होंने कार्य की प्रगति का अवलोकन किया। साथ ही निर्देशित किया कि आगामी वर्षाकाल के पूर्व हमें अधिक से अधिक कार्य को निपटाना है। कलेक्टर ने कहा कि जैसे भी हो 24 घंटे कार्य चलाकर शिवना सौंदर्यकरण एवं गहरीकरण का कार्य होना चाहिए। तकनीकी विशेषज्ञों की रिपोर्ट के आधार पर ही सारे निर्माण कार्य किए जाएं। तकनीकी टीम यहां हो रहे निर्माण कार्याे को गंभीरता से लें। यहां हो रहे विकास कार्य से जनता के बीच एक अच्छा संदेश जाएं। बुधवार को शिवना तट पर जैन सोश्यल गु्रप, श्री बड़े बालाजी सेवा मंडल, नवयुवक गवली ग्वाला समाज एवं आदिमजाति कल्याण विभाग सहित तकरीबन 150 श्रमदानियों ने श्रमदान कर तीन ट्रॉली मिट्टी निकाली। सुबह 7 बजे से 8 बजे तक एक घंटा श्रमदान चल रहा है।
नदी से निकाली 20 डंपर गाद
अभियान के दौरान पशुपतिनाथ मंदिर के सामने स्थित शिवना नदी के मध्य पोकलेन मशीन ने उतरकर गाद निकालने का कार्य भी प्रारंभ कर दिया है। तकरीबन 20 डंपर गाद पोकलेन मशीन की सहायता से निकालकर तट पर डाई गई। जेसीबी मशीन द्वारा नवनिर्मित वैकल्पिक रोड़ की लेवलिंग का कार्य किया जा रहा है। 60 ट्रॉली मिट्टी बगीचे के निर्माण के लिए डाली गई। शिवना नदी से लगातार मिट्टी व गाद निकालने का जो क्रम चल रहा है। बुधवार को 23वें दिन 60 ट्रॉली मिट्टी निकालकर बगीचे के लिए बिछाई जा रही है। गौरतलब है कि यहां शिवना गार्डन की परिकल्पना की गई है। यहां मिट्टी डलने के उपरांत नीम, पीपल, बरगद सहित विभिन्न प्रजाति के वृक्षों का रोपण किया जाएगा। बुधवार को जैन श्वेताम्बर सोश्यल गु्रप के अध्यक्ष राकेश दुग्गड़ ने शपथ दिलाई। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीवास्तव, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष मदनलाल राठौर, डॉ क्षितिज पुरोहित, प्रकाश सिसौदिया, मनीष भावसार, विनय दुबेला, जितेन्द्र गेहलोत, एसडीएम शिवलाल शाक्य, प्रतीक डोसी, संदीप धींग, सत्येन्द्र सिंह सोम , बंशीलाल टांक, विनोद
कुमार मेहता, विक्रम भटनागर, रविन्द्र पांडे उपस्थित थे।
-----------------------------

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned