Video डोडाचूरा में झूठा प्रकरण बनाने की शिकायत लेकर एसपी के पास पहुंचे ग्रामीण

गांव राजाखेड़ी के ग्रामीण गुरुवार को एसपी मनोजकुमारसिंह के पास पहुंचे।

By: harinath dwivedi

Updated: 10 Jan 2019, 07:41 PM IST

मंदसौर.
गांव राजाखेड़ी के ग्रामीण गुरुवार को एसपी मनोजकुमारसिंह के पास पहुंचे। जहां उन्होंने डोडाचूरा मामले में पूर्व सरपंच भारतसिंह पर बनाए गए प्रकरण को गलत बताया और झूठे प्रकरण की शिकायत करते हुए दोषियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए प्रकरण वापस लेने की मांग की। इस दौरान उन्होंने एसपी को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष नरेंद्र पाटीदार भी मौजूद थे। पाटीदार के नेतृत्व में ग्रामीण एसपी के पास पहुंचे थे। एसपी ने मामले की जांच सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल को सौंपी है। एसपी को ग्रामीणों ने कोतवाली थाने पर मौजूद एसआई की शिकायत करते हुए रुपए मांगने की शिकायत की और भूमिका को संदिग्ध बताया। एक दिन पहले एसपी द्वारा एसआई को लाईन अटेंच किेया गया। उसे इसी मामले से जोडक़र देखा जा रहा है।
ज्ञापन में भेरुसिंह ने बताया कि भारतसिंह खुद के कार्यालय के सामने निजी वाहन से राजाखेड़ी पहुंचे थे। वहां खड़े थे। तभी कुछ अज्ञात लोग आए और वाहन में बैठाकर जबरन ले गए। आसपास स्थित दुकानों पर मौजूद लोगों के सामने का घटनाक्रम है। शहर कोतवाली पर एसआई गोपालसिंह गुणावत ने भारतसिंह को छुपा दिया और छोडऩे के लिए २५ लाख रुपए की मांग भी की। रुपए देने से मना किया तो गुणावत ने नहीं सुनी और मामला बना दिया। फूटेज में भारत सिंह को गोपाल गुणावत द्वारा ले जाते हुए देखा गया। मामले में ग्रामीणों ने भारतसिंह पर गलत मामला दर्ज करने और एसआई गुणावत की भूमिका की शिकायत करते हुए जांच की मांग की। इस दौरान श्यामलाल, अनिल मकवाना, भागीरथ सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण यहां पहुंचे थे।


आंवले की बोरियों के नीचे बेैंगलोर ले जा रहे थे डोडाचूरा
मंदसौर.
उल्लेखनीय है कि कोतवाली पुलिस ने गत दिवस ट्रक क्रमांक एमपी १४ एचबी ११२९ से डोडाचूरा ले जाने की मुखबिर से सूचना मिली थी कि १० नंबर नाके पर नाकेबंदी की ओर ट्रक की तलाशी ली। जिसमें आंवले की बोरियों के नीचे डोडाचूरा था। जिसका तोल करने पर २ क्विटंल ५० किलोग्राम निकला। ट्रक चालक सुमैर ङ्क्षसह निवासी अमृतपुरा राजगढ़ ब्यावरा और भारतसिंह उम्र ५५ साल निवासी राजाखेड़ी को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी भारत ङ्क्षसह ने बताया कि वह डोडाचूरा बैगलोर ले जा रहा था।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned