राहुल के बाद 'आप' नेताओं ने की मंदसौर जाने की कोशिश, टोल नाके पर ही रोका

राहुल के बाद 'आप' नेताओं ने की मंदसौर जाने की कोशिश, टोल नाके पर ही रोका
aap

राहुल गांधी के मंदसौर दौरे के अगले ही दिन शुक्रवार को नई दिल्ली से आम आदमी पार्टी के नेता भी पहुंचने वाले हैं। वे मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन में पुलिस की गोलियों से मारे गए किसानों के परिजनों से मिलने शुक्रवार को पहुंच रहे हैं।


नई दिल्ली/भोपाल। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के मंदसौर दौरे के अगले ही दिन शुक्रवार को नई दिल्ली से आम आदमी पार्टी के नेताओं को भी मंदसौर जाने से पहले ही माननखेड़ा टोल नाके पर रोक दिया गया। काफी देर तक यहां झूमाझटकी और सरकार विरोधी नारे लगाने के बाद आप नेताओं को वापस लौट जाने का कह दिया गया है। वे मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन में पुलिस की गोलियों से मारे गए किसानों के परिजनों से मिलना चाहते थे। इससे पहले रतलाम और मंदसौर के एसपी ने पत्रिका से कहा था कि यदि आम आदमी पार्टी के नेता आते हैं तो उन्हें कड़ाई से रोक दिया जाएगा।

पार्टी की दिल्ली इकाई के संयोजक गोपाल राय ने गुरुवार को कहा था कि आप का पांच सदस्यीय दल 9 जून को मंदसौर पहुंचने की योजना है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी कर्फ्यू और तनाव के बीच मंदसौर जाने की कोशिश कर चुके हैं, लेकिन प्रशासन ने उन्हें जाने की अनुमति नहीं दी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें देर शाम को रिहा किया गया

#Live
शाम 5.30 बजे
-रतलाम जिले के माननखेड़ा टोल नाके पर आम आदमी पार्टी के नेताओं को रोक दिया गया है।
-पुलिस ने उन्हें वापस लौटने काे कहा है।
-पुलिस और आम आदमी पार्टी के नेताओं के साथ जमकर हुई बहस।

शाम 5 बजे
रतलाम की सीमा में घुसे आप नेता
आम आदमी पार्टी के नेताओं ने उज्जैन-जावरा टूलेन से मंदसौर जाने के लिए रतलाम की सीमा में प्रवेश कर लिया है। भूतेड़ा से रतलाम जिले की सीमा में प्रवेश किया है। आप नेता संजय सिंह, आशुतोष और आलोक अग्रवाल एक वाहन में दूसरे वाहन में सांसद भगवंत मान एवं अन्य नेता बैठे हैं। यह लोग जावरा फोरलेन पर पहुंचेंगे।

शाम 4 बजे
टोल नाके को सील कर दिया
यहां माननखेड़ा टोल नाके पर सीएसपी दीपक शुक्ला पुलिस फोर्स के साथ तैनात हो गए हैं। पुलिस का कहना है कि आप नेताओं को माननखेड़ा से ही वापस लौटा दिया जाएगा। वहीं रतलाम शहर में भी पुलिस और प्रशासन ने किसी भी प्रकार की रैली पर रोक लगा दी है। ऐसे में आप नेताओं को वापस इंदौर या उज्जैन की ओर लौटने के लिए कहा जा सकता है।

दिल्ली से मिली जानकारी के मुताबिक आप के प्रतिनिधिमंडल में नेता संजय सिंह, आशुतोष, सोमनाथ भारती, भगवंत मान और साधू सिंह शामिल होंगे। यह नेता किसानों से मिलना चाहते हैं।


एसपी का बयान आप नेताओं को नहीं जाने देंगे मंदसौर
रतलाम अमित सिंह ने बताया कि कानून और सुरक्षा की दृष्टि से रतलाम से मंदसौर जाने वाले रास्ते पर फोर्स बढ़ा दी गई है। आम आदमी पार्टी के नेताओं के आने पर उन्हें भी फोरलेन पर ही रोक दिया जाएगा। फोरलेन के माननखेड़ा और अन्य टोल नाकों पर एएसपी गोपाल खांडेल और सीएसपी दीपक शुक्ला जावरा को अलर्ट कर दिया गया है। संभावना है कि आम आदमी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल इंदौर से रतलाम होते हुए फोरलेन के जरिए मंदसौर पहुंचेगा। मंदसौर एसपी मनोज सिंह ने भी फिलहाल आप नेताओं के आने की अनुमति सबंधी पुष्टि नहीं की है। एसपी का कहना है कि कर्फ्यू में ढील स्थानीय लोगों को दी गई है। बाहरी लोगों की आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी। फिलहाल मंदसौर में स्थिति नियंत्रण में है।

सरकार पर लगाए आरोप
इससे पहले गुरुवार को दिल्ली में गोपाल राय ने किसान आंदोलन में गोलीकांड की निंदा की थी। उन्होंने कहा कि किसानों की हत्या के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार है। किसान अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे थे, जो भाजपा के चुनावी वायदे से ही जुड़ा था। पार्टी ने सरकार पर कृषि क्षेत्र को लेकर किए गए वायदे से पीछे हटने का भी आरोप लगाया।






एक क्लिक पर यह भी पढ़ें
Farmers Protest

Farmers Protest



Farmers Protest


Farmers Protest


Farmers Protest


Farmers Protest

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned