एक को पद देना कांग्रेस को इतना भारी पड़ा कि ६० ने दे दिए इस्तीफे

- क्या है पूरा मामला, क्यों विरोध पर उतरे है कांग्रेसजन

By: harinath dwivedi

Published: 24 May 2018, 02:08 PM IST

मंदसौर.
प्रदेश कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनाव के मध्येनजर गत दिवस प्रदेश समन्वय सहित अन्य समितियों की घोषणा की। सूची में समन्वय समिति में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राजेंद्र ङ्क्षसह गौतम को सदस्य बनाने का विरोध ने बुधवार को और बड़ा रूप ले लिया। बुधवार को हर घंटे में चार से पंाच कांगे्रस पदाधिकारियों ने अपने पद से इस्तीफे दे रहे थे। जो शाम तक करीब ६० से अधिक का आंकड़ा पार गया। दिनभर सोश्यल मीडिया पर पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन द्वारा पद से इस्तीफे की अफवाह चलती रही। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी छह जून को मंदसौर के पिपलियामंडी में आएंगे। वे यहां पर अटल बिहारी शासकीय महाविद्यालय खोखरा के परिसर में किसान श्रद्धाजंलि सभा को संबोधित करेगें।


विधायक ने कहा पूर्व सांसद को विश्वास में लेना था
विधायक हरदीप ङ्क्षसह डंग ने भी प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रतिनिधि पद से इस्तीफा प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ को भेजा। उन्होंने कहा कि जो निर्णय लिया गया है। उसमेंं पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन को विश्वास में लेकर करना था। विश्वास में नहीं लिया इसलिए प्रतिनिधि पद से इस्तीफा दिया। वहीं इससे पहले मल्हारगढ़ विधानसभा में दो बार चुनाव में उम्मीदवार रहे और अनूूसूचित जाति प्रदेश संयोजक श्यामलाल जोकचंद्र ने इस्तीफा दिया। इसके बाद आठ ब्लॉक अध्यक्ष मल्हारगढ़ ब्लॉक अध्यक्ष कमलेश पटेल, मंदसौर ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष यूनूस मेव, मंदसौर शहर ब्लॉक अध्यक्ष मोहम्मद हनीफ शेख, धुंधडक़ा ब्लॉक अध्यक्ष् शक्तिदान ङ्क्षसह, संजीत ब्लॉक अध्यक्ष ईश्वरलाल धाकड़, जिला कंाग्रेस महामंत्री भानुप्रतापसिंह, मोहम्मद हुसैन रिसालदार, संगठन मंत्री शंकरलाल पाटीदार, नागूलाल चौहान, नौंदराम गुर्जर सहित ४४ मडलम अध्यक्षों ने अपने इस्तीफे प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ को भेजे।


पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन के प्रभाव वाली विधानसभाओं में अधिक इस्तीफें
संसदीय क्षेत्र में आठ सीटें है। इन आठ सीटों में पांच सीटों पर पिछले विधानसभा चुनाव में पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन के करीबियों को ही टिकट मिला था। वहीं मनासा और जावद मेंं ज्योतिरादित्य सिंधिया और गरोठ विधानसभा सीट से दिग्विजय सिंह के करीब सुभाष कुमार सोजतिया को टिकट मिला था। वर्तमान परिस्थिति में देखे तो जहां-जहां पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन के करीबियों को टिकट मिला था वहां-वहां पर समन्वय समिति में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष गौतम का विरोध अधिक हो रहा है। और इस्तीफे अधिक हो रहे है। वहीं मनासा, जावद और गरोठ विधानसभा में नहीं तो कही कुछ ही इस्तीफे हुए है। हांलाकि की जावरा में भी सिंधिया गुट की गहरी पेठ है।


आज आएंगे कांग्रेस सचिव एवं कार्यकारी अध्यक्ष
राहुल गांधी की सभा को लेकर एक बड़ी बैठक पिपलियामंडी में गायत्री शक्तिपीठ पर २४ मई को आयोजित की जा रही है। इस बैठक में कांग्रेस के सचिव संजय कूपर, प्रदेश कांगे्रस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन लेगें। इस बैठक में मंडलम, ब्लॉक, कांग्रेस जनप्रतिनिधि, पूर्व मंत्री से लेकर सभी पदाधिकारी शामिल होगें। इस बैठक में मीनाक्षी नटराजन गुट के सभी कांग्रेस पदाधिक ारी समन्वय समिति में गौतम को लेने का विरोध करने की संभावनाएं है।


अनमुति लेने वाले ब्लॉक अध्यक्ष ने भी दिया इस्तीफा
मल्हारगढ़ ब्लॉक अध्यक्ष कमलेश पटेल ने भी समन्वय समिति वाले मामले में बुधवार को इस्तीफा सौंपा है। और पटेल ने ही राहुल गांधी के कार्यक्रम की अनुमति ली है। ऐसे में यदि पटेल का इस्तीफा स्वीकृत होता है तो अनुमति फिर से लेने की संभावना बन सकती है। जिलाअध्यक्ष प्रकाश रातडिय़ा ने कहा कि यदि इस्तीफा स्वीकार होता है तो दूसरे कार्यकर्ता को ब्लॉक अध्यक्ष पद नियुक्त किया जाएगा। और फिर से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि ब्लॉक अध्यक्ष पद से अनुमति ली गई है व्यक्ति से नहीं।

 

आज है समन्वय समिति की बैठक
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता केके मिश्रा ने कहा कि सभी को साथ लेकर चलना है। ऐसे मेंं इस्तीफे स्वीकार नहंी होगें। प्रदेशअध्यक्ष भोपाल में ही है। वे क्या संज्ञान लेते है। गुरुवार को समन्वय समिति की बैठक भी है।


इधर, कई कांगे्रस पदाधिकारी उतरे गौतम के समर्थन में कहा निर्णय बदलने पर देंगे सामूहिक इस्तीफे
दूसरी और समन्वय समिति के सदस्य एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राजेंद्र ङ्क्षसह गौतम के समर्थन में कई पदाधिकारी और कांगे्रस नेता उतर गए है। कांग्रेस नेता शंकरलाल आंजना जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष, अजहर हयात मेव (उपाध्यक्ष जिला कांग्रेस), डॉ अजीत कुमार जैन महामंत्री जिला कांग्रेस, गणपतलाल पंवार उपाध्यक्ष जिला कांग्रेस, ईस्माइल मेव महामंत्री जिलाकांग्रेस, मदनलाल कुणेचा पूर्व अध्यक्ष ब्लॉक, रमेशचंद्र शर्मा मंडी संचालक पिपलियामंडी, चोथमल गुप्ता पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष, विजय गुर्जर, संजय सोनी ने कहा है कि प्रदेश नेतृत्व द्वारा निर्णय बदलने पर सभी पदाधिकारी अपने समर्थकों सहित इस्तीफा देगे। यह जानकारी शहर कांग्रेस महामंत्री कमलेश जैन ने दी।

 

Congress
harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned