फिर निरस्त हुआ इनका दौरा, किसानों का बढ़ा इंतजार

फिर निरस्त हुआ इनका दौरा, किसानों का बढ़ा इंतजार

harinath dwivedi | Publish: Sep, 07 2018 03:52:09 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India

फिर निरस्त हुआ इनका दौरा, किसानों का बढ़ा इंतजार

मंदसौर.
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का मंदसौर जिले में दौरा लगातार टल रहा है। 7 सितबंर को होने वाला दौरा लगातार तीसरी बार टला है। सीएम 7 को सुवासरा आने वाले थे, लेकिन अब नहीं आ रहे है। दौरा निरस्त होने के पीछे की बड़ी वजह एट्रोसिटी एक्ट को लेकर चल रहे विरोध को बताई जा रही है। जिले की सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में ही सबसे ज्यादा सांसद सुधीर गुप्ता का इसे लेकर विरोध पिछले दिनों हुआ था। इधर सीएम के बार-बार टलते दौरें के बीच भावांतर की राशि मिलने का इंतजार कर रहे किसानों का इंतजार भी बढ़ रहा है। रतलाम-मंदसौर व नीमच तीन जिलों के 50 हजार से अधिक किसानों को भावांतर की राशि मिलने का इंतजार है। अब 14 सितबंर को सीएम के जिले में आने की संभावना बताई जा रही है।


अभी-अभी तीन बार टल गया दौरा
मंदसौर में मुख्यमंत्री की ३० मई को सभा हुई थी। इसके बाद ५ अगस्त को जिले की मल्हारगढ़ विधानसभा में मल्हारगढ़ के अलावा पिपलियामंडी व नारायणगढ़ से होकर सीएम गुजरे थे। इसके बाद २५ अगस्त को मंदसौर का दौरा तय हुआ। अंतिम समय में यह दौरा निरस्त हुआ और इसके पीछे रक्षाबंधन पर्व होना बताया। इसके बाद ४ सितबंर को फिर से दौरा तय हुआ, लेकिन सीएम की जहां सभा होना थी, वहीं पर निर्माणाधीन शेड मंडी में गिर गया। और सभा की तैयारियों के बीच यहां का दौरा फिर निरस्त हो गया। तीसरी बार ७ सितबंर को सीएम का आना तय हुआ, लेकिन आखरी में मंदसौर के बजाए जिले के सुवासरा में सीएम का आना तय हुआ, लेकिन गुरुवार को फिर से यहां का दौरा भी सीएम का निरस्त हो गया। हर बार तमाम तैयारियों के बाद दौरा निरस्त हो रहा है। अब १४ को सीएम के आने की संभावना जताई जा रही है। इधर मंदसौर, सुवासरा व गरोठ विधानसभा के लिए अब तक सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा की तारीख भी तय नहीं हो पाई है।


सरकारी धन की भरपाई सीएम या भाजपा पूरी करें
इधर जिले में बार-बार मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर की जा रही तैयारियों में सरकारी धन का जो व्यय हो रहा है। उसकी भरपाई भाजपा या मुख्यमंत्री से व्यक्तिगत करवाई जाने की मांग मंदसौर शहर के ब्लॉक अध्यक्ष डॉ. राघवेंद्रसिंह तोमर ने की। उन्होंने बताया कि इस तरह तैयारियों में जनता के हक के पैसों का दुरुपयोग हो रहा है। इसकी भरपाई पार्टी या सीएम को करना चाहिए। और सीएम सिर्फ के कार्यक्रम के लिए हजारों किसानों को मिलने वाली राशि भी अटका रखी है। इसी भी अनुचित बताते हुए किसानों को तत्काल राशि जारी करने की मांग की है।

Ad Block is Banned