जावरा-आगर टू-लेन के लिए खोदे गड्ढों ने ली दो बच्चों की जान

जावरा-आगर टू-लेन के लिए खोदे गड्ढों ने ली दो बच्चों की जान

Mukesh Mahawar | Updated: 15 Jul 2019, 05:55:48 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

मौत के गड्ढे: बारिश शुरू होने के बाद जिले में चौथी घटना, एक दंपती सहित पांच बच्चों की मौत

रतलाम/आलोट. जिले में सड़कों के निर्माण के दौरान मिट्टी निकालने के लिए खोदे गए गड्ढे अब बारिश में जानलेवा साबित हो रहे है। तालाब की शक्ल में बदले इन गड्ढों में नहाने उतर रहे बच्चों की मौत हो रही है। रविवार को आलोट क्षेत्र के ग्राम खासपुरा में जावरा-आगर टू-लेन बनाने के दौरान खोदे गए गड्ढे में डूबने से दो बच्चों की मौत हो गई। बारिश शुरू होने के बाद इन गड्ढों ने अब तक एक दंपती सहित पांच बच्चों को निगल लिया है। वहीं, जिम्मेदार निर्माण फर्मो और ठेकेदारों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रहे है।
आलोट विकासखंड के ग्राम पंचायत गुलबालोद के ग्राम खासपुरा निवासी दो बालकों की रविवार को डूबने से मौत हो गई। पुलिस ने सूचना मिलने पर दोनों बालक के शव पानी से भरे गड्ढे से बाहर निकलवाकर शासकीय चिकित्सालय पहुंचाए। जहां डॉ. पीवी फुलम्ब्रिकर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पीएम के बाद दोनों के शव परिजनों को सौंप दिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर विवेचना में लिया है। मृतक ८ वर्षीय अरुण पिता रंगलाल बागरी निवासी खासपुरा एवं ७ वर्षीय विजय पिता प्रभुलाल निवासी किटिया (राजस्थान) दोनों आपस में मामा- बुआ के लड़के थे। ये सुबह अपने खेत पर गए और पास ही बने बड़े गड्ढे में भरे पानी में नहाने लगे। इसी दौरान दोनों डूब गए। पुलिस ने दोनों बच्चों को गड्ढे से निकलवाया और शासकीय चिकित्सालय आलोट भिजवाया। जहां उन्हें मृत घोषित किया गया।


टू-लेन बनाने के दौरान खोदा था गड्ढा
ग्राम गुलबालोद सरपंच तंवरसिंह परिहार एवं ग्रामीणों ने बताया कि जिस गड्ढे में डूबने से दोनो बच्चों की मौत हुई है, उसे जावरा- आगर टू-लेन सड़क निर्माण के दौरान ठेकेदार दिलीप बिल्डकॉन कम्पनी ने खोदा था। यहां से निकले मटेरियल का उपयोग रोड निर्माण कार्य में किया गया है। बारिश में इन गड्ढों में पानी भर जाता है और ऐसे में बच्चे इनमें नहाने के दौरान डूब रहे है।

इस तरह मौत के गड्ढें ले रहे जान...
01 जुलाई: खारूआकलां में नाले के उफान में गड्ढेंं में फंसने से दंपती की हुई थी मौत।
10 जुलाई: नामली की पंचेड़ पंचायत के ग्राम रघुनाथगढ़ में दो बच्चों की डूबसे से मौत।
10 जुलाई: आलोट क्षेत्र के ग्राम बरखेड़ा में सड़क किनारे के गड्ढें में डूबा एक बच्चा।
14 जुलाई: आलोट क्षेत्र के ग्राम खासपुरा में दो बच्चों की गड्ढें मेंं डूबने से हुई मौत।

स्टाप डेम में डूबने से 10 वर्षीय बालक की मौत
औद्योगिक क्षेत्र थाना के हमीरपाड़ा (ताजपुरिया) में रविवार दोपहर को गांव से कुछ दूरी पर नाले पर बने 20 फीट गहरे स्टापडेम में डूबे 10 वर्षीय बालक की मौत हो गई। हमीरपाड़ा निवासी कमल पिता पीरू मईड़ा रविवार दोपहर को बड़े भाई पिंटू और गांव के अन्य बच्चों के साथ मवेशी चराने गया था। मवेशी चराने के दौरान ही दोपहर करीब 2 बजे गांव के पास स्टापडेम में कुछ बच्चे नहा रहे थे। इन बच्चों को देख वह भी पानी में कूद गया। उसे तैरना नहीं आने के कारण वह डूबने लगा तो बड़े भाई पिंटू ने घर जाकर जानकारी दी। गांव के जितेंद्र, लालू तथा अन्य युवक स्टाप डेम में कूदे और कमल को बाहर निकाला। स्टापडेम से शव को निकालकर पुलिस को सूचना दी। औद्योगिक थाना एएसआई सुरेश शिंदे ने शव को जिला अस्पताल पहुंचाया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned