scriptOBC women will take over the command of Mandsaur Napa from District Pa | प्रवाहमान हो शिवना के संकल्प के साथ कर रहे है शिवना शुद्धिकरण में श्रमदान | Patrika News

प्रवाहमान हो शिवना के संकल्प के साथ कर रहे है शिवना शुद्धिकरण में श्रमदान

प्रवाहमान हो शिवना के संकल्प के साथ कर रहे है शिवना शुद्धिकरण में श्रमदान

मंदसौर

Published: June 01, 2022 10:36:18 am

मंदसौर.
मां शिवना फिर से प्रवाहमान होकर शुद्ध हो इसी संकल्प के साथ शिवना शुद्धिकरण अभियान में हर दिन श्रमदान करने के लिए बड़ी संख्या में शहरवासी सामाजिक संगठनों के साथ पहुंच रहे है। इसमें ७ से लेकर ८४ वर्ष उम्र तक के लोग उत्साह के साथ यहां आकर श्रम कर रहे है। मां शिवना के 21 वर्ष लगातार जो भी शिवना के प्रति प्रेम रखते हैं उन्होंने प्रतिवर्ष अपनी जिम्मेदारी निभाई है उनके उत्साह को उनके संकल्प को प्रशासन ने ध्यान दिया है। इसके लिए जो दैनिक श्रमदान करने आ रहे जिसमें 84 वर्ष तक के लोग भी मौजूद थे। 20 सदस्य ऐसे हैं जिन्होंने संकल्प लेकर प्रतिदिन शिवना तट पर आकर अपनी जवाबदारी का निर्वहन किया है। इसी आस के साथ की इस बार प्रशासन स्थायी समाधान की और कदम बढ़ाएगा। गंदे नाले पूर्ण प्रतिबंधित होंगे।
प्रवाहमान हो शिवना के संकल्प के साथ कर रहे है शिवना शुद्धिकरण में श्रमदान
प्रवाहमान हो शिवना के संकल्प के साथ कर रहे है शिवना शुद्धिकरण में श्रमदान

१२ जून तक अभियान चलाने का लक्ष्य, मानसून के साथ होगी समीक्षा
शिवना शुद्धिकरण अभियान में मंगलवार को सुबह कलेक्टर गौतमसिंह शिवना तट पर पहुंचे और श्रमदान से लेकर शुद्धिकरण अभियान की समीक्षा करते हुए इसका निरीक्षण भी किया। शुद्धिकरण अभियान में चल रहे काम को लेकर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि शिवना के प्रति जनता का उत्साह है जिसके परिणाम भी दिखने लगे हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए गहरीकरण का कार्य और तेजी से करने के लिए बड़ी जेसीबी मशीन लगाई जाएगी। यह कार 12 जून तक वर्तमान में चलाने का लक्ष्य रखा रहे हैं फिर मानसून पर आधारित रहेगा। कलेक्टर द्वारा पूरे क्षेत्र का अवलोकन किया। साथ ही नोडल अधिकारी से अब तक हुए कामों की जानकारी ली। साथ ही इस काम को और गति देने के निर्देश भी दिए। इसमें नगर पालिका एवं मशीनों का उपयोग लिए जाने की बात कही।

अभियान की सफलता पर इसे १२ जून तक बढ़ाया
शिवना शुद्धिकरण अभियान को लेकर कार्य जो हुआ है। इसके परिणाम दिखने लगे है। ऐसे में अब इसे १२ जून तक बढ़ा दिया है। इसमें 1 जून को महिला बाल विकास, 2 जून को खनिज, प्रधानमंत्री सड़क विभाग प्राधिकरण, लोक निर्माण विभाग, 3 जून को ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, जल संसाधन, लोक स्वास्थ यांत्रिकी, 4 जून को मध्य प्रदेश पश्चिमी क्षेत्र विद्युत मंडल, 5 जून को स्वास्थ्य विभाग, 6 जून को शहर के निजी शैक्षणिक संस्थान, 7 जून को खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग, 8 जून को कृषि उपज मंडी एवं व्यापारी, 9 जून को परिवहन विभाग, 10 जून को श्रम कर विभाग, 11 जून को अग्रणी बैंक शहर व्यवसाई और 12 जून को केंद्रीय विद्यालय, बीएसएनएल, डाकघर एवं आयकर विभाग की इसमें ड्युटी लगाई गई है। इनके अधिकारी व कर्मचारी सामाजिक संगठनों के साथ यहां पहुंचकर श्रमदान का हिस्सा बनेंगे। प्रशासन ने शिवना के इस महाअभियान में सभी की भागीदारी बड़े उत्साह से स्वीकार करने की बात कही। प्रशासन और सभी विभाग इसमें हर दिन अपनी सहभागिता कर रहे है।
...
मशीनों के साथ आस्था भी कर रहे है काम
शिवना शुद्धिकरण के प्रभारी सुनील व्यास ने बताया कि शिवना शुद्धिकरण और गहरीकरण कि इस महाअभियान में बहुत संतोष एवं जनता का पूरा सहयोग उत्साह के साथ मिल रहा है। इसका मुझे पूर्ण विश्वास है हमारे किए गए प्रयासों से टीम वर्क से काम हो रहा है। सभी अधिकारी एवं कर्मचारी साथ में सामाजिक संगठन और नगर की जनता मां शिवना के प्रति अपनी श्रमदान के द्वारा आस्था को प्रकट कर रहे हैं। इसके परिणाम भविष्य में सुखदाई होंगे। मशीनों के साथ आस्था काम कर रही है।

शिवना का जल अमृततुल्य है इसका संरक्षण जरुरी
उद्यानिकी महाविद्यालय की डीन डॉ मृदुला बिल्लोरे ने पूरे स्टॉफ एवं छात्रों के साथ शिवना तट पर पहुंचकर श्रमदान किया। उन्होंने कहा कि हमारा मूल कार्य इन बच्चों को शिक्षा है वह मूलत कृषि और जल इनके संरक्षण और इनका उपयोग हम अपने जीवन में करते हुए जो हमारे प्राचीन संस्कृति जिस पर भारत की अर्थव्यवस्था आधारित है। हम बहुत सौभाग्यशाली हैं भारत के अंदर नदियों का जल के कारण ही बहुत बड़े क्षेत्र में कृषि कार्य होता है और शिवना नदी तो साक्षात पशुपतिनाथ और शिवलिंग महादेव के देवस्थान के सभी बहती है इसका जल अमृततुल्य है। इसको हम साफ व स्वच्छ रखने के लिए काम कर सकते है।

नदियों को मां का दर्जा है
डॉ ओपी सिंह असिस्टेंट प्रोफेसर उद्यानिकी महाविद्यालय ने कहा भारत दुनिया का वह देश है जहां नदियों को मां का दर्जा दिया गया है और भारत के अंदर वर्तमान में हजारों नदियां समस्त देवस्थान इन नदियों के समीप बने हुए हैं हमारी आस्था का केंद्र है। लोग हमारी इन नदियों के दर्शन के साथ पर्यटक स्थल है इनके संरक्षण के लिए हमारे श्रम काम आता है तो श्रमदान अवश्य करना चाहिए। श्रमदान का मौका जो मिला इसे मैं सौभाग्य मानता हूं।

किया गया श्रम नहीं होगा बेकार
आबकारी विभाग के आरएन प्रजापति ने कहा कि शिवना के प्रति अपनी आस्था प्रकट करने का हर किसी के पास मौका है। 20 कर्मचारियों के साथ आज शिवना तट पर पहुंचे और डेढ़ घंटे तक श्रमदान करते हुए इस विश्वास के साथ कि हमारा किया हुआ कर बेकार नहीं जाएगा। हमें पूर्ण विश्वास है हम अपने शुद्धिकरण के लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। इसमें प्रशासन जनता का सहयोग मिल रहा है इसलिए परिवर्तन आकर रहेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र के सियासी संकट में अमित शाह ने मारी एंट्री, बीजेपी हुई एक्टिव; बनाई ये खास रणनीतिMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस बरकरार, सुप्रीम कोर्ट पर टिकी सभी की नजरें; जानें सियासी संग्राम में अब आगे क्या?Maharashtra Floor Test: मुंबई लौटने से पहले एकनाथ शिंदे ने भरी हुंकार, कहा- हमारे पास बहुमत है, हमें कोई नहीं रोक सकताबिहार में बड़ा सियासी बवाल, Owaisi की पार्टी के 5 में से 4 विधायक RJD में हुए शामिलपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMaharashtra Political Crisis: मुंबई की पूर्व मेयर किशोरी पेडणेकर को मिली जान से मारने की धमकी, लेटर में लिखा-तुम्हें रास्ते पर लाकर मारेंगेMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पास
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.