पर्यटन मंत्री करेंगे औपचारिक शुभारंभ, सीएम भी आएंगे

पर्यटन मंत्री करेंगे औपचारिक शुभारंभ, सीएम भी आएंगे

harinath dwivedi | Publish: Feb, 15 2018 10:26:26 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India

गांधीसागर में 10 दिवसीय झील महोत्सव आयोजित


मंदसौर । तहसील भानपुरा के गांधीसागर में 17 से 26 फरवरी तक आयोजित होने वाले 10 दिवसीय झील महोत्सव के लिए भानपुरा के जनपद पंचायत के सभाकक्ष में बैठक आयोजित हुई। बैठक में झील महोत्सव से संबंधित विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी गई। महोत्सव के प्रभारी अधिकारी जेके जैन ने कहा कि महोत्सव 17 तारीख को ही प्रारंभ हो जाएगा परंतु मध्यप्रदेश के पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा इसका औपचारिक रूप से शुभारंभ आगामी 19 फरवरी की दोपहर 12 बजे करेंगे। आगामी 22 से 26 फरवरी के मध्य मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के भी झील महोत्सव में आने की संभावना है। बैठक में उपस्थित कई क्षेत्रवासियों ने झील महोत्सव की विभिन्न गतिविधियों के शुल्क को अधिक बताया। परंतु हंसा इवेंट कंपनी के प्रतिनिधियों ने उपरोक्त शुल्कों को देश के अन्य क्षेत्रों में लिए जाने वाले शुल्कों के मुकाबले काफी कम बताया। बैठक में एसडीएम आरपी वर्मा, तहसीलदार नारायण नांदेड, जनपद पंचायत के सीईओ टीबी सिंह, नगर परिषद भानपुरा की अध्यक्ष रेखा मांदलिया सहित कईजनप्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी- कर्मचारी, हंसा इवेंट कंपनी के संचालक उपस्थित थे।

झील महोत्सव में आने वाले पर्यटकों के लिए रोड़ा बनेगा निर्माणाधीन रोड, ३० प्रतिशत ही हुआ कार्य
- 45 दिन में बनना था 1 किलोमीटर, बोट क्लब तक फैला है रॉ-मटेरियल
गरोठ/गांधीसागर । शनिवार से गांधीसागर में आयोजित होने वाले झील महोत्सव की तैयारियां जोरों पर चल रही है। लेकिन नोका विहार और बोटिंग के लिए उत्सुक पर्यटकों यहां बोट क्लब तक पहुंचने का करीब 1 किलोमीटर का सफर खतरों भरा रह सकता है। जिसका कारण मोड़ी माता से बोट क्लब तक जाने वाला निर्माणाधीन सीसी रोड है। करीब 1 करोड़ 20 लाख की लागत से बनने वाले इस रोड का निर्माण 20 दिन में 30 प्रतिशत ही हुआ है। अभी 70 प्रतिशत रोड निर्माण और बाकी है।
घुमावदार उतार वाली राह पर फैला है रॉ मटेरियल
एसएसएन कंपनी भोपाल द्वारा बनाए जा रहे इस रोड का अधूरा निर्माण ही हुआ है और शनिवार से 10 दिवसीय झील महोत्सव आरंभ हो रहा है। इस महोत्सव में मुख्यमंत्री के आने की भी संभावनाएं जताई जा रही है। लेकिन इस अधूरे घुमावदार उतार वाले रोड से गुजरना भी पर्यटकों के लिए खतरों भरा है। क्योंकि पूरे रोड पर रॉ-मटेरियल जैसे गिट्टी, रेत आदि फैले हुए है। हालांकि जिम्मेदार अधिकारी रॉ मटेरियल हटाने और पर्यटकों के लिए वाहन सुविधा उपलब्ध कराने की बात कर रहे है।
इनका कहना...
पर्यटकों के लिए वाहन सुविधा उपलब्ध कराए जाने पर विचार किया जा रहा है। फैले हुए रॉ- मटेरियल को झील महोत्सव से पहले हटा लिया जाएगा। सड़क निर्माण का समय 45 दिन का था। अभी 25 दिन और शेष है। इसमें ठेकेदार को 70 प्रतिशत सड़क का निर्माण किया जाना है।
- कमल पटेल, अधिकारी पर्यटन विभाग मंदसौर



MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned