समस्याएं सुनने पहुंचे जनपद सीईओ

समस्याएं सुनने पहुंचे जनपद सीईओ

harinath dwivedi | Publish: Jun, 14 2018 09:12:26 PM (IST) Mandsaur, Madhya Pradesh, India

पंचायत के दस्तावेज जप्त कर सीईओ ले गए गरोठ

मंदसौर । शामगढ़ नगर से 3 किमी दूर ग्राम पंचायत बरखेड़ा उदा में जलसंकट के साथ ही अन्य समस्याओं को लेकर बुधवार को ग्रामीण महिलाओं ने पंचायत पर धरना दिया था। इसे लेकर गुरुवार को समस्याओं को सुनने के लिए जनपद सीईओ राकेश ठाकुर गांव पहुंचे। जनपद सीईओ ठाकुर जब पंचायत पहुंचे तो वहां ग्रामीण एकत्रित हो गए और सीईओ से चर्चा का दौर शुरु हुआ। इसे दौरान विधायक हरदीपसिंह डंग को देखकर वहां जनता ने हो-हल्ला शुरु कर दिया और नारे लगाना शुरु हो गए। तभी वहां उपस्थित महिलाओं ने पानी जैसी ज्वलंत समस्या का तुरंत समाधान करने के लिए जनपद पंचायत सीईओ से कहा एवं पंचायत में सचिव कृष्णा बोराना एवं रोजगार सहायक भवानी शंकर मीणा पर लापरवाही बरतने एवं समस्या नहीं सुनने के कारण ग्रामीणों में आक्रोश की बात कही। इसलिए उन्हें हटाने की मांग की गई।
सीईओ के बुलाने पर भी नहीं पहुंचे सचिव व जीआरएस
ठाकुर ने सचिव और रोजगार सहायक को पंचायत में आने के लिए कहा लेकिन दोनों मौके पर नहीं पहुंचे। इसके चलते जांच अधूरी रह गई। सीईओ के आदेश से पंचायत समन्वय अधिकारी जयंत उपाध्याय ने ग्रामीणों द्वारा पंचायत का ताला तोड़ा और पंचायत में रखे सभी दस्तावेज जप्त करते हुए पटवारी नितीन कटलाना ने पंचनामा बनाया और ग्राम पंचायत बरखेड़ा उदा के सभी दस्तावेज सीईओ के सुर्पद किए। वह सभी दस्तावेज अपने साथ गरोठ ले गए।
पंचायत में आएगा नया सचिव
सीईओ ने बताया कि ग्रामीण जनता की समस्याएं सुनी है और पेजयल के लिए टंैकरों की व्यवस्था करेंगे। साथ ही उनकी अन्य समस्याएं जिनमें पीएम आवास पूर्व में जो सर्वे हुआ था उसमें यह गांव जो छूट गए था इसलिए पीएम आवास लोगों को नहीं मिल पाए उन्होंने यह समस्या लिख ली और आगे भिजवाने का आश्वासन दिया और शीघ्र ही सर्वे करवाकर पुन: लोगों को पीएम आवास के लिए आवेदन भी लिए और अन्य लोगों को कहा कि जो लोग छूट गए जिन लोगों को आवेदन देना है वह नया सचिव कल ज्वाइन कर लेगा। उसे यह अपनी समस्याएं या पीएम आवास के लिए आवेदन करके बता सकते हैं। जनपद सीईओ ने बताया कि ग्राम पंचायत सचिव कृष्णा बोराना और ग्राम रोजगार सहायक भवानी शंकर मीणा के खिलाफ प्रस्ताव बनाकर उसे हटा दिया है।
महिलाओं ने विधायक को घेरा
विधायक भी लोगों की समस्याओं को सुनने के लिए पहुंचे लेकिन वहां महिलाओं व ग्रामीणों के आक्रोश का सामना उन्हें करना पड़ा। लोगों ने उन्हें घेर लिया और खरी खोटी सुनाई। इस पर विधायक मौका पाकर वहा से निकल गए। विधायक के साथ बरखेड़ा उदा में पहुंचे विधायक प्रतिनिधि महेश सोनी जब अधिकारियों के साथ वापस लौट रहे थे। सोनी ने बताया कि इस दौरान पीछे से किसी कान्हा नाम लड़के ने मुझे पकड़ लिया और मारपीट की वहां मौजूद टीआई ब्रजभूषण हिरवे, महेश सोनी विधायक प्रतिनीधि को थाने लाए और प्रकरण दर्ज किया।

Ad Block is Banned