शुभ मुर्हत में विराजे प्रथम पूज्यनीय, चहुओर छाया एकदंत की भक्ति का उल्लास

शुभ मुर्हत में विराजे प्रथम पूज्यनीय, चहुओर छाया एकदंत की भक्ति का उल्लास

मंदसौर । शहर सहित अंचल में गुरुवार को गणपति बप्पा मोरिया की गुंज रही। सुबह से शाम तक बाजारों में गणपति को घर और पांडाल में ले जाने के लिए भक्तों की टोलियां पहुंची। बच्चों में भी अपार उत्साह दिखा। आसमान में उड़ते रंग-गुलाल व ढोल-ढमाकों के बीच हर और लगते जयकारों के साथ चहुंओर एकदंत की भक्ति का उल्लास छाया। गुरुवार से १० दिनी प्रथम पूज्यनीय की भक्ति का दौर शुरु हुआ। गणपति पांडालों में आकर्षक सजावट की गई तो घर-घर में भी सुख-संपत्ति के दाता की स्थापना कर मोदर का भोग लगाया गया।
गणेश चतुर्थी पर्व को लेकर गुरुवार को शहर सहित जिले भर में उत्साह रहा। शहर के प्रमुख बाजार हो अथवा गली मोहल्ले, हर जगह ढोल-ढमाकों, बाजे-गाजे व डीजे साउंड की धुन पर थिरकते युवा व महिलाएं गुलाल उड़ाते हुए विभिन्न मुद्राओं की गणेश प्रतिमाओं को पांडालों व घरों तक ले गए। कहीं मंगलमूर्ति ने ट्रैक्टर पर तो कहीं टैक्सी पर, कहीं बैलगाड़ी पर तो कहीं बाईक पर बैठ शहर भ्रमण करते हुए घरों तक पहुंचे।इस दौरान पूरा वातावरण गणपति की भक्ति से सराबोर हो गया। मंगलमुहूर्त में विघ्नहर्ता भगवान गणेश को विराजित कर विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर आरती की। इसके साथ ही १० दिवसीय गणेशोत्सव की शुरुआत हुई। दिनभर स्थापना का दौर चला तो शाम को पांडालों में महाआरती के साथ गणपति की स्तुति का दौर शुरु हुआ। जो अनंत चतुदर्शी तक जारी रहेगा।
गतवर्ष की तुलना में अधिक दिखा उत्साह
एक दिन पहले से शुरु हुईबप्पा की प्रतिमाओं की गुरुवार को खासी बिक्री हुई। गत वर्षकी अपेक्षा इस वर्ष अधिक प्रतिमाओं की बिक्री हुई। इतना ही नहीं बाजार में बप्पा की प्रतिमाएं भी अलग-अलग रुपों में सजी हुई आई। ५० रुपए से लेकर ९० हजार तक की प्रतिमाएं शामिल थी। इसके साथ ही पूजा-अर्चना के लिए फूल, मालाएं, दुर्वा, नारियल, लड्डू, चुनरी सहित अन्य सामग्रियां भी खूब बिकी। शहर के गोल चौराहा, नगरपालिका कार्यालय परिसर, आजाद चौक, सम्राट मार्केट, कालाखेत, बड़ा चौक, शुक्ला चौक, केन्द्रीय सहकारी बैंक, बीपीएल चौराहा, गांधी चौराहा, संजीत नाका क्षेत्र, रामटेकरी स्थित के साथ ही अन्य जगहों पर दिनभर प्रतिमाओं के साथ पूजन सामग्रियों की ब्रिकी हुई तो फलों और मोदक की भी खूब बिक्री हुई।
सजे पांडालें में शुरु हुआ भक्ति का दौर
शहर में अनेक जगहों पर पांडाल बप्पा की स्तुति के लिए जाए गए। शुभ मुर्हत में स्थापना के साथ ही भक्ति का यह क्रम शुरु हुआ। पांडालों में आकर्षक विद्युत साज-सज्जा की गई। शहर में करीब २०० से अधिक सार्वजनिक स्थानों पर भगवान गणेश की प्रतिष्ठा की गई। तो घर-घर में भी बप्पा की स्थापना के साथ पूजन-अर्चन का दौर शुरु हुआ। गणपति की स्थापना के साथ हर किसी ने भगवान से घर में सुख-समृद्धि की कामना की।
बाजार में सुबह से देर शाम तक रही भीड़
शहर के बाजारोंं में खासकर बीपीएल चौराहा से गांधी चौराहा मार्ग तक दिनभर गणेश प्रतिमा खरीदारों की भीड़ रही। कोई ढोल की थाप पर नाच रहा था तो कोई बैंड-बाजों के साथ गणेश प्रतिमा को प्रतिमा स्थल तक ले जाने की तैयारी कर रहा था। कोई फूल मालाएं तो कोई पूजन सामग्री खरीदने में व्यस्त था। शाम करीब ६ बजे तक प्रतिमाएं खरीदने का दौर जारी था। दिनभर ढोल-ढमाकों की थाप के साथ बप्पा को ले जाया गया।

harinath dwivedi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned