किसान आंदोलन में किसानों पर दर्ज हुए प्रकरण सरकार बनते ही वापस लेगी कांग्रेस

किसान आंदोलन में किसानों पर दर्ज हुए प्रकरण सरकार बनते ही वापस लेगी कांग्रेस

harinath dwivedi | Publish: Nov, 10 2018 06:05:25 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

किसान आंदोलन में किसानों पर दर्ज हुए प्रकरण सरकार बनते ही वापस लेगी कांग्रेस

मंदसौर । विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने वचन पत्र शनिवार को जारी किया। इसे लेकर जिला कांग्रेस कार्यालय पर प्रेसवार्ता के दौरान जिलाध्यक्ष ने कांग्रेस के वचन पत्र में प्रदेश के सभी वर्गों के लिए शामिल की गईयोजनाओं के साथ प्रदेश के विकास का रोडमैप बताया। इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिय़ा, मुकेश काला, कमलेश पटेल, महेंद्र गुर्जर,तरुण खिंची, हनीफ शेख, बबीतासिंह तोमर के साथ ही कांग्रेस के अन्य नेता मौजूद थे। हालांकि शनिवार को चर्चाके दौरान जिला कांग्रेस ने मंदसौर जिले के लिए अलग से किसी मुद्दे को इसमें शामिल नहीं किया और प्रदेश कांग्रेस द्वारा जारी वचन पत्र को ही सार्वजनिक करते हुए उसमें शामिल बिंदुओं को बताया। किसान आंदोलन से जुड़े मुद्दे भी कांग्रेस के वचन पत्र में शामिल है। इसमें किसान आंदोलन के दौरान जितने भी किसानों पर प्रकरण दर्जकिए गए उन्हें वापस लेने से लेकर जैन आयोग की रिपोर्ट की जांच का मामला भी इसमें शामिल है।
दो लाख तक का होगा कर्ज माफ
कांग्र्रेस के वचन पत्र में मुख्य रुप से किसानों के कर्जमाफी की बात है। इसमें किसाों का दो लाख तक का कर्ज माफ करने का मुद्दा शमिल है। युवाओ को रोजगार, व्यापारियो को इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिलेगी और हर गांव में गोशाला खोलने के मुद्दें भी शामिल है। किसान गोलीकांड व लाठीचार्ज की उच्च न्यायालय के वर्तमान न्यायाधीश से जांच करवाने की बात भी इसमें शमिल है। इसके साथ ही सामान्य से लेकर समाज के अन्य सभी वर्गों व खेल से लेकर विद्युत, सिंचाईव किसानों के साथ अन्य क्षेत्रों से जुड़़े मुद्दें भी वचन पत्र में शामिल किए गए है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned