ठंड से अन्नदाताओं के चेहरे पर चिंता , फसलों को नुकसान

ठंड से अन्नदाताओं के चेहरे पर चिंता , फसलों को नुकसान

By: harinath dwivedi

Published: 30 Dec 2018, 04:21 PM IST

मंदसौर । दो दिन से जारी शीत लहर के कारण अन्नदाताओं के चेहरे पर चिंता की लकीरे खींच गई है। शीत लहर के कारण खेतों में खड़ी फसलों पर बर्फ जम गई है। जिससे कई फसलों को नुकसान हुआ है। इसमें धनिया, चना, गेंहू, अफीम, मैथी सहित सब्जियों में नुकसान हुआ है।है। मंदसौर से लेकर भैसोदा तक व मंदसौर से लेकर मल्हारगढ़ व पूरे जिले में ठंड का असर फसलों पर पड़ा है।
भानपुरा क्षेत्र में नुकसान, जला धनिया
भानपुरा क्षेत्र में दो दिनों से रात में पाला गिरा इससे रबी फसलों को भारी नुकसान हुआ है।धनिया, अफ ीम, चने की फसल प्रभावित हुई। तहसील के गांव कुंतलखेड़ी, सांतलखेड़ी, हरनावदा, परोनिया, लेदी, बोरदा, ढाबला, सानडा, कालाकोट, लोटखेड़ी, बाबुल्दा, दुधाखेड़ी सहित तहसील के अधिकाश गांवों में पाला गिरा।इससे धनिए की फसल जली व अफीम के पौधे भी क्षतिग्रस्त हुए है।किसानों का कहना है इससे अफीम में काली मिस्सी का रोग लगेगा। जिससे उत्पादन प्रभावित होगा। खेतों में बर्फ की चादर सी बिछ गई थी किसान उमरावसिंह चौहानए मुकन्दलाल धाकड़, देवीसिंह चौहान, मदनलाल रावत सहित अन्य किसानों ने फसलों को भारी नुकसान की आशंका जताकर फसलों का सर्वे करने की मांग की।
शीत लहर के कारण धनिए की फसल हुई चौपट
भैंसोदा सहित आसपास के क्षेत्र में गत दिनों से जारी शीत लहर एवम् कड़ाके की ठण्ड से खेतो में धनिया,सरसों, मसूर, चना सहित आलू की सब्जी पर भी नुकसान हुआ है।किसान शिवनारायण पाटीदार ने बताया कि हमारे करीब 5 बीघा खेत में धनिये की फसल थी जिसमे फूल सहित डोडिया आने लगी थी ।शनिवार सुबह जब खेत पर जाकर देखा तो शीत लहर के कारण धनिए की फसल करीब 8 0 प्रतिशत जल कर नष्ट हो गई। बुगलिया के आसपास लगे सभी गाव में शुक्रवार की रात में अधिक ढंड के कारण नुकसान हुआ। परशुराम जाट, रामनारायण जाट, बालकिशन जाट सहित अन्य किसानों ने बताया कि चना, रायडा, बैगन में बहुत नुकसान हुआ है।बाजखेड़ी के किसानों का कहना है कि पाला गिरने से फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई है। किसानों को तो घाटा ही घाटा है। 50 प्रतिशत ही फसल पकने का आसार है।मगरना के किसान वगत राम , सुनील शर्मा, डालूराम पाटीदार, भगवती प्रसाद का कहना है कि चना, अफीम, धनिया, सरसों की फसल मेंंं आज सुबह बर्फ जम गई।इससे नुकसान हुआ है।खेताखेड़ा में भी नुकसान हुआ है।
दलौदा क्षेत्र में भी नुकसान की खबर एमएन
दलौदा क्षेत्र के ग्राम पटेला, दलौदा रेल, बानीखेड़ी, एलची, मजेसरा, मजेसरी, सेमलिया हीरा में फसलों को नुकसान हुआ। फसलों पर बर्फ की परत जम गई। किसान बंशीलाल पाटीदार ने कहा कि पाले के चपेट में फसले आ गई है।कालू शर्मा ने कहा कि मैथी, सरसो, चने की फसल का अभी पकने का समय है।ऐसे में पाला गिर गया। ग्राम कचनारा सहित आसपास के क्षेत्र में ठंड के कारण फसलों को नुकसान हुआ है। किसान चम्पालाल पाटीदार, दशरथ पाटीदार, भेरूलाल राठौर, शंकरलाल पाटीदार सहित कई किसानों का कहना है कि नुकसानी का उचित आंकलन कर मुआवजा मिले ।
धमनार सहित आसपास के गांव धुँधडक़ा, गुलियाना, हतुनिया सहित कई गांव में ठंड के कारण फसलों को नुकसान पहुंचा है। गांव के कमलेश बामता, रमेश माली ने बताया कि ठंड के कारण टमाटर, चना, मटर सहित कई फसलों को नुकसान हुआ है। निंबोद के लक्ष्मी नारायण गोयलच उमेद सिंह सिसोदियाच पुष्कर टांक ने बताया कि दिनों दिन हमारे यहां पाले की मार पढ़ रही और अधिकारी ध्यान देने रही है और नई सर्वे कर रहे हैं।फसलें खराब हो गई है।
लदुसा सहित बाबरेचा में मौसम में आए अचानक बदलाव से किसान फसलों को लेकर चिंतित होने लगे हैं। किसान प्रहलाद सिंह सोनगरा ने कहा कि इस समय फसलों में फुल आ रहे हैं शीत लहर से फसलें मुरझाने लगी हैं और पत्ते भी पीले हो गए।धनिया, मटर, चने की फसल पर ज्यादा नुकसान हुआ है
मुख्यमंत्री और कलेक्टर को लिखा पत्र
मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री महेंद्रसिंह गुर्जर ने बताया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर सूचित किया है कि गत दिनों शीतलहर से प्रभावित हुई रबी फसल धनिया, चना, गेहू,अफीम, सब्जियां,जीरा, इसबगोल आदि फसलों को भारी नुकसान हुआ है। जिले के किसानों की फसलों को हुए नुकसानी का मैदानी स्तर पर निष्पक्ष आंकलन कर किसानों को फसल बीमा योजना एवं शासन द्वारा निर्धारित राहत योजना के अन्तगर्त प्रभावित किसानों को शासन स्तर पर यथायोग्य राहत प्रदान कर किसानों को राहत प्रदान करे।
इनका कहना.........
मैं स्वयं सोमवार को फील्ड में देखूंगा। मैंने सभी को निर्देश दिए है कि फील्ड में ध्यान रखें।
धनराजू एस, कलेक्टर।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned