ग्रामीणों ने दी आंदोलन की चेतावनी, लगाया जाम

ग्रामीणों ने दी आंदोलन की चेतावनी, लगाया जाम

By: Jagdish Vasuniya

Published: 07 Feb 2019, 08:17 PM IST

मंदसौर । लिंबावास गांव कितुखेडी पंचायत में तीन दिन से ग्रामीण राशन के लिए चक्कर लगा रहे है। गुरुवार को ग्रामीण लामबंद हुए और राशन नहीं मिलने की स्थिति में उन्होंने आंदोलन की चेतावनी दी है। ग्राम पंचायत कितुखेडी में चार दिन से सर्वर नहीं चलने कि वजह से चार गांवो के ग्रामिणों को राशन नही मिल रहा। इसके कारण गुरूवार को दिन में सेल्समेन का घेराव कर पंचायत में ग्रामीणों ने करीब एक घंटे तक धरना दिया और नारेबाजी की। और कहा कि समस्या का समाधान नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा।वही 20 मिनट तक चक्काजाम किया।
गांव के शैतानसिंह राठोर, गोपालगिरी गोस्वामी, हरिसिंह, खुमान सिंह चोहान, मोतीलाल, गणपतलाल सहित ग्रामिणों ने बताया कि पंचायत में चार गांव जुडे है। चार दिन से सर्वर के कारण ग्रामिणों को राशन नही मिल रहा है। इसके कारण परेशान होना पड़ रहा है। कितुखेडी, फतेहपूर, खेजडी़, चंद्रपूरा गांवो के लोगों को राशन के लिए कितुखेडी में वितरण होता है।ऐसे में यहां आना पड़ता है। राशन नहीं मिलने के कारण गांव वालें चार दिन से चक्कर काट रहे है। सभी काम छोड़ कर राशन के लिए 5 किमी दूरी तय कर यहां पहुंचते हैऔर उन्हें निराश लौटना पड़ रहा है। ऐसा कई बार हो चुका है। इसी के कारण ग्रामिणों ने गुरूवार को पंचायत मे स्थित सोसाईटी का घेराव कर धरना दिया।
समाधान नही हुआ तो झार्डा मेन रोड़ पर होगा चक्काजाम
ग्रामीणों ने चेतावनी दी की जल्द ही उनकी समस्या का स्थाई समाधान नहीं किया गया तो झार्डा रोड पर चक्काजाम किया जाएगा।साथ ही गांव की महिलाएं कंकु बाई, कमला बाई, कोशल्या बाई, संगीता बाई ने बताया राशन नहीं मिलने के कारण कईदिनों से परेशान हो रहे है।आने-जाने में ही थक जाते है। साथ ही अंगुठा लगाने वाली मशीन का काम बंद करने मांग की है।
सेल्समेन सुरेंद्र सिंह हाडा़ ने बताया कि इसमें में कुछ नहीं कर सकता हूं। सरकार द्वारा अंगुठा लगाने के बाद राशन देने का आदेश है। इसलिए सर्वर के कारण राशन वितरण में दिक्कत होती है।

Jagdish Vasuniya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned