कोरोना सेंटर में सेवाएं देने वाला प्रशिक्षु डॉक्टर ग्वालियर जाने के बाद पॉजिटिव

चार मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौटे: प्राचार्य सहित पूरा परिवार होम क्वॉरंटीन

By: Mukesh Mahavar

Updated: 28 May 2020, 05:34 PM IST

मंदसौर. शहर के कोरोना सेंटर में लगभग दो माह अपनी सेवाएं देने के बाद ग्वालियर पहुंचे प्रशिक्षु डॉक्टर की कोरोना रिपोर्ट वहां पर जांच के बाद पॉजिटिव आई है। जिसके बाद डॉक्टर को ग्वालियर छोडऩे पिता सहित पूरे परिवार के चार लेागों को मंदसौर में होम क्वॉरटीन किया गया है। वहीं चार संक्रमित बुधवार को स्वस्थ्य होकर घर लौटे। अब जिले में स्वस्थ्य होने वालों का आंकड़ा बढ़कर ६८ हो गया है। वहीं प्रशासन को १५ जांच सेंपल का इंतजार है।


संक्रमित प्रशिक्षु डॉक्टर के पिता ने बताया कि उसने ३० मार्च से २४ मई तक कोरोना सेंटर में अपनी सेवाएं प्रशिशु पीरियड के दौरान दी। उसके बाद मेरे बेटे को मैं २५ मई को उसके ग्वालियर मेडिकल कॉलेज छोड़कर आया। जहां पर उसकी जांच की गई। जिसमें गत दिवस जांच पॉजिटिव आई।उसे वहां भर्तीकिया गया है। मंदसौर में परिवार के चार लोग है। मेरे चार कमरे है। और हम परिवार में चार सदस्य अलग-अलग कमरे में होम क्वॉरंटीन है। चाल रिछाबछा का निवासी है। उसे भी होम क्वॉरंटीन किया होगा। संक्रमित प्रशिक्षुडॉक्टर के पिता सरकारी विद्यालय में प्राचार्य है।

सीएमएचओ डॉ महेश मालवीय ने बताया कि जिले में 2446 9 आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है जिनमें से कुल 2446 9 यात्रियों को होम एवं कोरोना सेंटर में 14 दिनों के लिए क्वॉरंटीन किया गया है, जिसमें से होम क्वॉरंटीन 7614 एवं क्वॉरंटीन सेंटर 59 व्यक्तियों को क्वॉरंटीन किया गया। जिसमें से 16 8 96 यात्रियों का क्वॉरंटीन पूर्ण हो चुका है। 128 7 व्यक्तियों के सेंपल लिए गए है। जिसमें से 1272 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है, जिसमें 90 पॉजिटीव, 68 कोरोना पोजिटीव स्वस्थ्य होने पर सेन्टर से डिस्चार्ज किया गया। 1070 नेगिटिव पाए गए है। 15 सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त होना शेष है।

देश के कई राज्यों से लाए मजदूर तो भेजे भी
डिप्टी कलेक्टर गरिमा रावत ने बताया कि जिले में लॉक डाउन लगने के बाद से अब तक जिले से अन्य स्थानों पर 10 हजार 938 मजदूरों को 393 बसों के माध्यम से पहुंचाया गया। इसमें जिले की तहसीलों से सीधे भेजने का काम किया गया मल्हारगढ़ से 6 हजार 26 7, दलोदा से 654, सीतामऊ से 459, सुवासरा से 338, शामगढ़ से 1 हजार 594, गरोठ से 530 व भानपुरा से 1 हजार 96 यात्रियों को गंतव्य स्थान तक पहुंचाया गया इसके साथ ही लॉक डाउन के बाद जिले से अन्य राज्यों के अंतर्गत जिसमें राजस्थानए गुजरात उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक, हैदराबाद, छत्तीसगढ,़ उड़ीसा हिमाचल सहित अन्य राज्यों में 2 हजार 185 मजदूरों को पहुंचाया गया एवं अन्य राज्यों से मंदसौर जिले में 5 हजार 664 मजदूर आए।

Mukesh Mahavar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned