काली पट्टी बांधकर एक्ट संशोधन का कर्मचारी कर रहे हैं विरोध

सरकार के निर्णय का विरोध

By: Mukesh Mahavar

Published: 29 May 2020, 05:31 PM IST

मंदसौर . लॉकडाउन के दौर में शासन ने मंडी एक्ट में संशोधन किया है वह कई क्षेत्रों में निजी मंडी के साथ ही अन्य नियमों को लागू किया है इसका अब मंडी के कर्मचारियों द्वारा खुले रुप से विरोध किया जा रहा है मंडियों में काम कर रहे कर्मचारी वर्तमान में काली पट्टी बांधकर दफ्तरों में काम कर रहे हैं और सरकार के इस निर्णय का विरोध कर रहे हैं मंडी क्षेत्र में निजी मंडी को बढ़ावा देने का कर्मचारियों द्वारा विरोध किया जा रहा है और मंडी एक्ट में फिर से संशोधन कर मंडी हितों का ध्यान रखने की मांग की जा रही है गुरुवार को भी शहर की कृषि उपज मंडी में अधिकारियों व कर्मचारियों ने हाथ पर काली पट्टी बांधकर काम किया।
संयुक्त संघर्ष मोर्चा मध्य प्रदेश मंडी बोर्ड के आवाहन पर कृषि उपज मंडी अधिनियम 1972 को संशोधन कर मॉडल एक्टर लागू करने के विरोध में पूर्व में भी शासन को ज्ञापन द्वारा अवगत कराया गया लेकिन शासन द्वारा कोई निर्णय नहीं लिया गया इसी के कारण गुरुवार से संयुक्त मोर्चा मंडी बोर्ड के आह्वान पर प्रदेश की सभी मंडियों के साथ शहर सहित जिले की सभी मंडियों में अधिकारी कर्मचारियों द्वारा काली पट्टी बांधकर कार्य किया गया मंदसौर मंडी में भी सभी कर्मचारियों ने आक्रोश प्रकट कर काली पट्टी बांधकर के कार्य किया और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नारेबाजी करते हुए इस एक्ट के विरोध में नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया।

Mukesh Mahavar Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned