लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन

लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन
लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन

Nilesh Trivedi | Updated: 12 Oct 2019, 11:45:32 AM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

लगातार दूसरे दिन भी जारी रहा संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों का विरोध प्रदर्शन

मंदसौर.
संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ द्वारा 19000 संविदा कर्मचारियों के साथ 51 जिलों में संविदा स्वराज आंदोलन की शुरुआत की। जिले में यह आंदोलन दूसरे दिन शुक्रवार को भी जारी रहा। संविदा कर्मियों ने काली पट्टी पहनकर कार्यस्थल पर काम किया। संविदा स्वराज आंदोलन में शुक्रवार को जिले के समस्त ब्लॉक में समस्त संविदा कर्मचारियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। अन्य विभागों के संविदा कर्मचारी भी इस आंदोलन में पूर्ण समर्थन के साथ शामिल हुए। यह विरोध प्रदर्शन शनिवार को भी होगा।


आंदोलन का यह है कारण
1 साल 6 माह बाद भी और मुख्यमंत्री के 1 अगस्त 2019 के सीधे निर्देश के बाद भी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, स्वास्थ्य समिति में 5 जून 2018 सामान्य प्रशासन नीति के तहत 90 प्रतिशत वेतन के लागू न होने सरकार के प्रति खासी नाराजगी। कांग्रेस सरकार द्वारा वचनपत्र अनुरूप नियमितीकरण की कार्रवाई भी नहीं की। निष्कासित मलेरिया एमपीडब्लयू, अप्रेजल पद समाप्ति के कर्मचारियों की बहाली भी नहीं हो पाई है। सरकार में एनएचएम रोगी कल्याण समिति के 2500 सपोर्ट स्टाफ को आउटसोर्स भी किया गया। शनिवार तक काली पट्टी बांधकर काम के बाद १६ अक्टूबर को जिला स्तर पर कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया जाएगा। 21 अक्टूबर को भोपाल में आंदोलन किया जाएगा।


यह है प्रमुख मांगे
सामान्य प्रशासन नीति अनुरूप 90 प्रतिशत वेतन अविलंब लागू किया जाए। वचन पत्र अनुरूप नियमितीकरण, किसान कर्जमाफी की तर्ज में किया जाए। निष्कासित कर्मचारियों की सेवा बहाली हो और आउटसोर्स किए गए सपोर्ट स्टाफ को एनएचएम में वापस लिया जाए।
................

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned