बाढ़ से डेमेज हुई सड़कों की जानकारी लेने पहुंचे लोक निर्माण विभाग के अफसर

बाढ़ से डेमेज हुई सड़कों की जानकारी लेने पहुंचे लोक निर्माण विभाग के अफसर
बाढ़ से डेमेज हुई सड़कों की जानकारी लेने पहुंचे लोक निर्माण विभाग के अफसर

Nilesh Trivedi | Updated: 06 Oct 2019, 10:19:39 AM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

बाढ़ से डेमेज हुई सड़कों की जानकारी लेने पहुंचे लोक निर्माण विभाग के अफसर

मंदसौर.
भारी बारिश ने जिले में लोक निर्माण विभाग की सड़कों का दम निकाल दिया है। सड़क कम और गड्ढें ज्यादा दिख रहे है तो शहर की मुख्य सड़क तो पूरी तरह खस्ताहाल हो चुकी है। जिले में लोनिवि की करीब १७ करोड़ रुपए की सड़क खराब हुई है।

१५६ किमी की १७ करोड़ रुपए की सड़को के खराब होने की जानकारी विभाग ने शासन को भेजी। वहीं जिले में विभिन्न स्थानों पर करीब ४१ पुल क्षतिग्रस्त हो चुकी है। स्थानीय अमले की इस रिपोर्ट के बाद शनिवार को उज्जैन से विभाग के आला अधिकारी मंदसौर पहुंचे और स्थानीय अधिकारियों के साथ घुमते हुए निरीक्षण कर सड़को के हाल देखे तो जिलेभर मे हुए नुकसान पर भी चर्चा करते हुए जानकारी ली। साथ ही पुलियाओं पर वैकल्पिक मार्ग से आवागमन चालू करने के अलावा गड्ढों को भरने के निर्देश दिए। वहीं बारिश के बाद शहर की मुख्य सड़क पर डामरीकरण कराने के निर्देश भी दिए।


लोक निर्माण विभाग के ईई सचिन हरित ने बताया कि सीई एमपीसिंह, अधीक्षण यंत्री आरके जैन सहित विभागीय अमले ने यहां पहुंचकर निरीक्षण किया। इसमें मुख्य सड़क जो अधिक डेमेज हुई है। उसे देखा तो जिले में अन्य सड़को के हुए नुकसान पर भी भी जानकारी ली और निर्देश दिए। इनमें वर्तमान में गड्ढें भरे जाएंगे। वहीं पूर्व में स्वीकृत हो चुके डामरीकरण के काम को बारिश के बाद कराया जाएगा।

इसके अलावा सड़को के नुकसान कोलेकर भेजी रिपोर्ट पर शासन से राशि मिलने के बाद उनकी मरम्मत से लेकर अन्य काम कराएंगे। शिवना, चंबल, तुंबड नदी के बहाव में बही पुल-पुलियाओं की जानकारी भी ली। सेतु विभाग के एसडीओ प्रवीण नरवरे ने बताया कि एमपीआरडीसी सहित भोपाल की टीम ने यहां पहुंचकर क्षतिग्रस्त हुई पुलियाओं को देखा है। चोमहेला-सीतामऊ मार्ग पर धतुरिया में चंबल में बहे पुल का भी निरीक्षण किया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned