भीलवाड़ा से आए सातों संदिग्ध मरीजों की आज आएगी रिपोर्ट


भीलवाड़ा से आए सातों संदिग्ध मरीजों की आज आएगी रिपोर्ट

By: Vikas Tiwari

Published: 28 Mar 2020, 05:39 PM IST

मंदसौर.

भीलवाड़ा से कुचडौद और डासिया गांव के सात लोगों की जांच रिपोर्ट शुक्रवार को भोपाल भेजी है। इन सातों संदिग्ध लोगों की रिपोर्ट आज आएगी। इन सातों को आईशोलेशन वार्ड में क्वारटाइन किया गया है। तो तीन लोग ऐसे भी सामने आए है जो बेघर है। इनमें एक व्यक्ति हैदराबाद से आया है। जिनको रैन बसेरा में रख आइशोलेट किया गया है। कलेक्टर मनेाज पुष्प ने बताया कि व्यक्ति विशेष को मध्यप्रदेश के अंदर एक जिले से दूसरे जिले तक यात्रा करने की अनुमति दिए जाने के निर्देश प्राप्त हुए है। निर्देशों के परिपेक्ष मे निर्धारित प्रारुम में अत्यावश्यक एवं विशेष परिस्थिति में ही अनुमति प्रदान करने के लिए अनुविभागीय अधिकारी को अधिकृत किया है। साथ ही जिले से बाहर जाने वाले व्यक्ति का पहले स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाना आवश्यक है। स्वास्थ्य परीक्षण के उपरांत चिकित्सक द्वारा अनुमति प्रारुप पर ही अनुशंसा के आधार पर अनुमति जारी की जाएगी।
मिठाई और नमकीन की दुकानों पर की चैकिंग
सुबह कुछ समय के लिए मिठाई और नमकीन की दुकानों को आदेश के बाद खोला गया। इन दुकानों पर पुरानी मिठाई और नमकीन ना बेची इसको लेकर सीएमओ सविता प्रधान, सीएसपी नरेंद्र सौलंकी, तहसीलदार नारायण नांदेड़ा ने चैङ्क्षकग की और निर्देश दिए। अधिकारियों द्वार गोविंद स्वीट्स पर जांच की गई। इसके बाद बीकानेर स्वीट्स और फिर बालाजी नमकीन पर जांच की गई। बालाजी नमकीन पर पुरानी नमकीन थी जिसको दुकानदार ने ही नष्ट की। इसके अलावा भावसार नमकीन पर भी संचालक द्वारा कुछ पुरानी नमकीन को डिस्पोजल किया गया।
कॉलोनियों में लगाए बैरीकेट्स
सीएसपी नरेंद्र सौलंकी ने बताया कि लाकडाउन का कई लोग उल्लघंन कर रहे है। जिनके खिलाफ अब सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए कई कॉलोनी जैसे अभिनंदन नगर, नईआबादी, गौल चौराहा सहित कई जगह बेरीकेट्स लगवा दिए है। और एक मुख्य मार्ग खुला रखा है। जहां पर चैकिंग है। अब जो भी लाकडाउन का उल्लघंन करेगा उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार को १० वाहनों को जप्त किया गया है।
पैदल आए लोगों को भेजा
सीएसपी नरेंद्र सौलंकी ने बताया कि कई लोग पैदल-पैदल मंदसौर पहुंचे। इसमें चार लोग नीमच से आए। जिनको मेडिकल जांच भी हुई है। उनको उनके गांव नाहरगढ़ छुड़वाया गय है। इसके अलावा कुछ लोग प्रतापगढ़ जाने के लिए आए थे। जिनके लिए आरटीओ द्वारा बस की व्यवस्था की गई और उनको प्रतापगढ़ छोड़ा गया है।
कोरोना वायरस को लेकर गठित टीम के नोडल अधिकारी मेडिकल विशेषज्ञ डॉ डीके शर्मा ने बताया कि कुचडोद और डासिया गांव के सात लेाग है। इसमें से सात लोग और दो बच्चे है। सातों का स्वास्थ्य खराब है। जिनका उपचार किया गया है और उनको क्वारटाईन किया गया है। चूंकि सातों भीलवाड़ा से आए है इन सभी के सेंपल लिए गए है। और भोपाल एम्स मेडिकल कॉलेज भिजवाए गए है। इन सातों की जांच रिपोर्ट शनिवार को आ जाएगी।

Vikas Tiwari Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned