बने हुए शौचालय पर पहले लिखे हितग्राही का दबाया नाम और दूसरा रंग पुतवाकर अंदर दूसरा नाम लिख फिर से करवा लिया पास

बने हुए शौचालय पर पहले लिखे हितग्राही का दबाया नाम और दूसरा रंग पुतवाकर अंदर दूसरा नाम लिख फिर से करवा लिया पास

मंदसौर.
जिले की ग्राम पंचायत सेमलियाहीरा में शौचालय के नाम पर धांधली का मामला सामने आया है। पंचायत ने एक ही शौचालय जो बनकर तैयार है और उस पर हितग्राही का नाम लिखा है। उस पर पुताई कर उसी शौचालय को अन्य हितग्राही के नाम से फिर पास कर अप्रुव कर दिया और शौचालय के अंदर दूसरे हितग्राही का नाम लिखवा दिया। ऐसा नहीं की शौचालय से जुड़ा एक ही मामला ऐसा हो।

अन्य शौचालय भी जो बने है। वह भी दुर्गति के शिकार हो रहे है। अब पंचायत की शौचालय से लेकर जो भूखंड जारी किए गए है। उसे लेकर शिकायतें हो रही है। कुछ लोगों ने शपथ पत्र के साथ शिकायत की है। मामले में शिकायतकर्ता ने सिर्फ शौचालय व पट्टें ही नहीं बल्कि अन्य मामलों की शिकायत करते हुए कमेटी बनाकर पंचायत में हुए सभी कामों के साथ सरकार की योजनाओं का हितग्राहियों को दिए जाने वाले लाभ के मामले की जांच भी कराने की मांग की है। गांव में ऐसे कई शौचालय है जो अनुपयोगी होकर दुर्गति का शिकार हो रहे है। लक्ष्य पूरा करने के लिए पंचायत ने आनन-फानन में जैसे-तैसे शौचालय निर्माण से लेकर फोटो लोड कर पास करने का काम किया। इसी के कारण कई अनुपयोगी है तो दुर्गति के शिकाय इन शौचालयों के निर्माण की अब शिकायतें हो रही है।


शौचालय से लेकर पट्टों को लेकर की शिकायत
शिकायतकर्ता राकेश पाटीदार व विष्णु पाटीदार ने पंचायत द्वारा गांव में दिए गए पट्टों को लेकर भी जनसुनवाई से लेकर अन्य जगहों पर शिकायत की। इसमें बताया कि निर्धारित मापदंडों का पालन नहीं करते हुए पात्र लोगों से भी राशि लेकर पट्टें दिए गए है। साथ ही हितग्राहियां से राशि लेकर लाभ देने की बात करते हुए इनकी रिकार्डिंग होने की बात भी कही और कुछ लोगों के शिकायत को लेकर शपथ पत्र करवाकर भी दिए है। इसके अलावा शौचालय में अनियमितता की शिकायत की है। एक ही शौचालय जो बनकर तैयार है।

उसी दूसरे हितग्राही के नाम से फिर पास कर दिया तो अंदर और बाहर भी अलग-अलग नाम लिख रहे है। इसके अलावा पंचायत सचिव से लेकर सरपंच व जीआरएस की शिकायत करते हुए पंचायत में हुए कामों की जांच करवाकर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। पंचायत को लेकर शिकायतकर्ता ने हर जगह शिकायत की है।


यह है पूरा मामला
शिकायतकर्ताओं ने बताया कि पहले लीलाबाई पति बजरंग के नाम से शौचालय बना और पूर्ण होने के बाद नाम भी उस पर लिखा। फिर इसी बने हुए शौचालय को जगदीश पिता भुवानीलाल के नाम से पास कर लिया और इस पर दूसरे रंग से पुताई कर शौचालय के बाहर का नाम सफेद रंग में दबाकर अंदर नाम लिख दिया। यह शौचालय श्यामलाल पाटीदार के यहां बना हुआ है और अनुपयोगी है। पाटीदार का दूसरा मकान अन्य जगह बना। ऐसे में इसका उपयोग नहीं हो रहा है। साथ ही जीआरएस पर भी उन्होंने आरोप लगाते हुए शिकायत की है। कलेक्टर से लेकर जनसुनवाई और हेल्प लाईन १८१ पर भी शिकायतें दर्ज कराते हुए जांच की मांग की।


गलत शिकायत कर रहे है
इस प्रकार का कोई मामला पंचायत में नहीं हुआ है। शिकायतकर्ता झूठी शिकायत कर रहे है। गलत है तो शिकायत करें। उसकी जांच हो जाएगी। व्यक्तिगत कारणों के चलते शिकायतकर्ता बार-बार शिकायते कर रहा है।-सुभाष शर्मा, सचिव, ग्राम पंचायत, सेमलियाहीरा


दिखवाता हूं
मामला जानकारी में नहीं है। कल इसे दिखवाता हुं। नियमों के विरुद्ध हुआ है तो कार्रवाई की जाएगी। पंचायत की शिकायत की उचित जांच करवाई जाएगी। -बीएल प्रजापति, सीईओ, जनपद, मंदसौर

Nilesh Trivedi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned