अचानक बदला मौसम, बारिश की बूंदों ने बढ़ाई किसानों की चिंता

अचानक बदला मौसम, बारिश की बूंदों ने बढ़ाई किसानों की चिंता

By: Nilesh Trivedi

Published: 07 Mar 2020, 11:15 AM IST

मंदसौर.
शहर सहित पूरे जिले में बीती रात को अचानक मौसम में बदलाव हुआ। और बढ़ते तापमान के बीच ठंडक घुल गई। शुक्रवार को दिनभर आसमान पर बादलों का डेरा रहा तो ठंडी हवाएं भी चली। रात में हुई बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी और फसलों में नुकसान किया। अचानक बदले मौसम के साथ बारिश की बूंदों ने किसानों की चिंताओं को बढ़ा दिया और रात में करीब १५ मिनिट हुई बारिश किसानों की फसलों पर आफत बनकर बरसी। प्रदेश में अन्य जिलों में हो रही ओलावृष्टि के बीच जिले मेंं मौसम बदला तो किसान ओलावृष्टि की संभावनाओं के कारण अधिक चिंता में नजर आया। शुक्रवार को सुबह के समय ठंडक भरा माहौल रहा। वर्तमान में खेतों में रबी की फसल आने की तैयारी में है। ऐसे में किसान फसल लेने के लिए अपनी तैयारियों में लगा है तो अफीम की फसल में चिरा लगाया जा चुका है और बारिश के साथ तेज हवाओं ने अफीम व गेहूं के साथ अन्य फसलों में नुकसान किया है।


तेज हवा के साथ फिर बदला मौसम, किसानों की बढ़ी चिंता

लिंबावास.
गांव सहित बांसखेड़ी, बरूजना, गोपालपूरा, झार्डा, पिरगुराडिया सहित आसपास के क्षेत्र मेेंं बारिश और के कारण किसानों की चिंता बढ़ गई है। वर्तमान में रबी की फसल खेतों में आने वाली है और ऐसे में बदले मौसम ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। फसल कटाई का दौर शुरु होने वाला है और अब बदले मौसम ने फसल में नुकसान कर दिया है। अफीम में चिरा लगाने का काम चल रहा है। ऐसे में रात को तेज हवा चलने के कारण किसानों की नींद उड़ गई है। किसान कारूलाल, मदनलाल, प्रहलाद ने बताया कि हमने चार बीघा खेत में गेहुं की फसल की बुआई कर रखी और एक बार और सिंचाई कर फसल को काटने वाले थे लेकिन गुरूवार रात में तेज बारिश के कारण २५ प्रतिशत नुकसान बताया जा रहा है। अफीम किसान जगदीश, कमल, अर्जून, राहुल, मांगीलाल सहित ने बताया की वर्तमान में प्रत्येक किसान के अफीम फसल पर फूल व डोडे आ गए है और किसानों ने चिरा लगाकर अफीम निकालना शुरू कर दिया है लेकिन गुरूवार रात से मौसम में परिवर्तन हुआ इससे नुकसान हुआ।


हवा चलने कि वजह से फसल की नहीं हो पाई चिराई
किसान कारूलाल, पूखराज, विजय, दिनेश ने बताया कि तेज गति से हवा चलने कि वजह से कई किसानो ने अफीम कि लुहाई चिराई का कार्य रोक दिया है वही जिन किसानों ंने फसल को चिरा लगाया है उन किसानों की फसल के डोडे भी हवा की वजह से आपस में टकरानेके कारण दुध पत्तों पर टपक रहा है। इससे अफीम की औसत पूरी करने की चिंता भी किसानों में बढ़ गई है।

बारिश ने किसानों की उम्मीद पर फेरा पानी
फोटो एमएन ०७१७
दलौदा.
गांव पटेला में बीत रात को हुई तेज बारिश ने किसानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। सबसे अधिक नुकसान अफीम काश्तकारों को हुआ है। वर्तमान में अफीम का सीजन चल रहा है और इसी समय बारिश ने अफीम के साथ किसानों की उम्मीदों को धो दिया है। रात दो बजे तेज हवाएं चलना शुरु हुई। इसके बाद १५ मिनिट बारिश हुई। बारिश इतनी तेज थी की सड़कों पर पानी बह निकला।


तेज हवा ने गेहूं की फसल की तोड़ी कमर
बुगलिया.
गांव दिलावरा, बुगलिया, गुजरदा, घटावदा, दाऊदखेड़ी के गांवों में गुरुवार रात में तेज हवा के साथ बारिश हुई। इसके कारण अफीम सहित गेहूं व अन्य जिसों में नुकसान हुआ है। खेतों में खड़े गेहूं की कमर हवा ने तोड़ दी और गेहूं खेत में ही आड़े हो गए।
...
बारिश ने खींची किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीर
बाजखेड़ी.
बदलते मौसम के मिजाज ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। गुरुवार रात को भी हल्की बारिश की बूंदाबांदी ने अफीम किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें खींच दी है। बारिश के बाद तेज हवाओं के चले दौर के कारण किसान चिंता में है। अफीम के साथ सरसों सहित गेहूं व अन्य फसलों में नुकसान हुआ है।
..
खेतों में रखी लहसुन बारिश से भीगी
दलोदा.
बीती रात्रि अचानक मौसम ने बदला हुआ। रात करीब २ बजे पानी की तेज बौछार शुरू हुई जो लगभग 15-20 मिनट तक चली। बारिश के चलते मौसम में ठंडक घुल गई। पानी के कारण खेत में पड़ी हुई लहसुन की फसलें गीली हो गई बारिश के चलते अफीम में भी नुकसान हुआ है।
....

Nilesh Trivedi Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned