scriptThe minister came to see the crop damage in the fields and the adminis | मंत्री जी खेतों में फसल नुकसानी देखने पहुंचे और प्रशासन ने एक दिन पहले ही 11 करोड़ की राहत राशि रिपोर्ट भेज मांगी | Patrika News

मंत्री जी खेतों में फसल नुकसानी देखने पहुंचे और प्रशासन ने एक दिन पहले ही 11 करोड़ की राहत राशि रिपोर्ट भेज मांगी

ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ

मंदसौर

Updated: January 12, 2022 03:15:44 pm


मंदसौर.
जिले में गत दिनों हुई तेज बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है। सबसे अधिक नुकसान सीतामऊ क्षेत्र में हुआ है। यहां पर सबसे अधिक किसानों की फसलें खराब हुई है। पर्यावरण मंत्री हरदीप ङ्क्षसह डंग मंगलवार को खेतों में पहुंच निरीक्षण किया और किसानों से बात की। वहीं प्रशासन ने एक दिन पहले यानिकी सोमवार को ही जिले में हुई ओलावृष्टि और बारिश से फसल नुकसान की रिपोर्ट भोपाल भेजी है। और ११ करेाड़ रुपए राहत राशि की मांग भी की है।
जानकारी के अनुसार जिले में कुछ दिनों पहले हुई बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को बहुत अधिक नुकसान पहुंचा है। नुकसानी का आंकलन राजस्व विभाग की टीम ने किया। तो सामने आया कि जिले में कुल ५ हजार ६२७ किसानों की फसल को नुकसान हुआ है। इसमें कई किसान तो ऐसे है। जिनकी पूरी फसल नष्ट हो गई है। ५ हजार ६२७ किसानों के चार हजार ४७६ हैक्टेयर में नुकसानी का अंाकलन हुआ है।
इसमें मंदसौर क्षेत्र के तीन गांव, सीतामऊ क्षेत्र के १९ गांव, गरेाठ क्षेत्र के ४ गांव और भानपुरा क्षेत्र के पांच गांव है। सीतामऊ क्षेत्र में सबसे अधिक ३ हजार ९६ हैक्टेयर में बुआई की गई फसल खराब हुई है। सीतामऊ अनुविभागीय कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसानर ८ गांव तो ऐसे है। जो सौ फीसदी फसल खराब हुई है।
करीब २१ करेाड़ रूपए की फसल खराब
कलेक्टोरेट कार्यालय के सूत्रों की माने तो जिले में बारिश और ओलावृष्टि से चार हजार ४७६ हैक्टेयर में खड़ी करीब २१ करेाड़ रूपए की फसल खराब हुई है। सर्वे की पूरी जानकारी एकत्र कर कलेक्टर गौतम ङ्क्षसह को रिपोर्ट दी गई है। जिसके बाद कलेक्टर ने जिले में किसानों के लिए करीब ११ करोड़ रूपए की राहत राशि की मांग रिपोर्ट भेज कर की है। उल्लेखनीय है कि २०१९ में भी सबसे अधिक नुकसान ओलावृष्टि से सीतामऊ क्षेत्र में हुआ था।
इनका कहना....
सीतामऊ क्षेत्र के १९ गांव, गरेाठ क्षेत्र के ४ गांव और भानपुरा क्षेत्र के पांच गांव में फसल नुकसानी हुई है। भोपाल रिपोर्ट भेज दी है। और राहत राशि की मांग की गई है।
गौतम ङ्क्षसह, कलेक्टर ।
mandsaur news
mandsaur news

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.