प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ताला कड़कड़ाती ठंड में बाहर हुआ प्रसव

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ताला कड़कड़ाती ठंड में बाहर हुआ प्रसव

By: harinath dwivedi

Published: 11 Dec 2017, 08:55 PM IST



-एएनएम सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मचारियों को सूचना देने के बाद भी नहीं आए

भानपुरा.
भानपुरा तहसील के भगवानपुरा से संतराबाई को प्रसव पीड़ा होने पर परिजन ढाबला माधोसिंह के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर सोमवार सुबह चार बजे लेकर आए। लेकिन यहां पर उन्होंने ताला लटका हुआ मिला। इसके बाद परिजनों ने स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित एएनएम को फोन भी किया। लेकिन कोईभी स्वास्थ्यकर्मीतीन से चार घंटे बीत जाने के बाद भी नहीं आया। ऐसे में संतरा बाई को प्रसव पीड़ा अधिक हुई। इसके बाद परिजनों ने जननी सुरक्षा पर फोन किया। काफी देर तक जननी सुरक्षा भी नहीं आई। ऐसे में परिजनों ने १०० डायल वाहन पर फोन किया।प्रसव पीड़ा अधिक होने पर महिलाओं ने स्वास्थ्य केंद्र के बाहर ही चादर की आड़ कर प्रसव करवाया। इसके बाद १०० डायल वाहन मौके पर पहुंचा। स्वास्थ्यकर्मी के पहुंचने के बाद जज्चा-बच्चा को प्राथमिक स्वास्थ्य केद्र में भर्तीकिया गया। दोनों स्वस्थ्य है।
प्रसुता के पति राकेश बंजारा व उनके परिजनों ने कहा कि हम सुबह से 4 से 5 बजे के बीच भगवान पुरा गांव से ढाबला माधोसिंह प्राथमिक सवास्थ्य केन्द्र पर आ गए थे, यहां ताला लगा था बाहर ही हमने इंतजार किया। जननी एक्सप्रेस भी नहीं आई और यहां पदस्थ नर्स व एएनएम भी नहीं थी। खुले में ही पर्दा लगाकर सुबह 6 बजे प्रसव करवाया।सुबह 8 बजे के लगभग स्टाफ नर्स विजेता पुराणिक आई।
ग्राम पंचायत के सरपंच प्रकाश बंजारा ने कहा कि इस तरह की लापरवाही पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाईहोना चाहिए। आए दिन लापरवाही सामने आती है। क्षेत्रवासी भगवान भरोसे है। इस प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर चिकित्सक का पद तो वर्षों से रिक्त पड़ा है। यहां 2 एएनएम, 1 स्टाफ नर्स, 1 फर्मास्टिट व 1 स्वीपर का पद है। सभी पदस्थ है।र स्वीपर को छोड़ कोईभी कर्मचारी हेडक्वार्टर पर नहीं रहता है।
ंबीएमओ का हेडक्वार्टर संधारा और रहते शामगढ़
ब्लॉक मेडीकल ऑफिसर बीएल सिसोदिया है। जिनका हेड क्वार्टर संधारा है। लेकिन वे वे ५० किलोमीटर दूर शामगढ़ में रहते है। इस मामले में स्टाफ नर्स विजेता पुराणिक ने कहा कि मुझे फ ोन ही नहीं आया । मेरे पास हेड क्वार्टर की चाबी नहीं थी। इस कारण में हेड क्वार्टर पर न रहकर गांव में ही मेरे भाई के यहां थी 8 बजे में जानकारी मिलते ही पहुंची व महिला को भर्ती किया। थाना प्रभारी गोपालसिंह चौहान ने कहा ग्रामीणों का फ ोन 100 डायल पर आया था। मैंने पुलिस जवान व 100 डायल पुलिस वाहन वहां भेजा पर तब तक प्रसव हो चुका था।
एसडीएम ने कहा करवाएंगे जांच
एसडीएम आरपी वर्मा ने कहा कि घटना की जांच मैं स्वयं करुंगा। जो भी दोषी होगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। घटना शर्मसार कर देने वाली है।
सीएमएचओ ने कहा होगी कार्रवाई
सीएमएचओ डॉ महेश मालवीय ने कहा कि इस मामले की िनष्पक्ष जांच होगी। जिसकी भी लापरवाही सामने आएगी उस पर कार्रवाई की जाएगी।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned