scriptThe residents of Halakan district in the heat due to the cuts, the min | कटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहींकटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहीं | Patrika News

कटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहींकटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहीं

कटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहींकटौती से गर्मी में हलाकान जिलेवासी, मंत्री ने कहा घबराने की जरुरत नहीं

मंदसौर

Published: May 02, 2022 10:43:21 am


मंदसौर.
जिले में इन दिनों प्रचंड गर्मी का दौर चल रहा है। आसमान से बरसती आग के बीच गर्मी से राहत के लिए हर इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे है और ऐसे दौर में बिजली संकट भी गहराता जा रहा है। हर दिन हो रही अघोषित बिजली कटौती ने तपन सहने को जिलेवासियों को मजबुर कर दिया है। शहर से लेकर ग्रामीण अंचल में कई घंटों की अघोषित कटौती ने लोगों को गर्मी से हलाकान कर दिया है। इधर कटौती से हर कोई परेशान है। बीते दो दिन में अत्यधिक कटौती जिले में हो रही है, लेकिन कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग ने कहा कि इससे घबराने की जरुरत नहीं है। गांवों में दिन में और रात में अघोषित रुप से कटौती हो रही है। इससे दिनभर की गर्मी में परेशान लोगों को रातों की नींद भी सुकून की नहीं मिल पा रही है।
२४ घंटे में मिलीं बिजली की १२५० शिकायतें
२४ घंटे में मिलीं बिजली की १२५० शिकायतें

गर्मी के इस दौर में बढ़ा कटौती का दंश
पॉवर प्लांट में कोयला संकट के चलते गर्मी के इस दौर में अघोषित बिजली कटौती का दंश बढ़ता जा रहा है। शासन स्तर से विभागीय अधिकारियों पर कटौती रोकने के लिए भले ही बैठकों के साथ सख्ती का दौर चल रहा है लेकिन कटौती लोड सेटिंग के चलते कोई रोक नहीं पा रहा है। कटौती के इस दौर ने ग्रामीण क्षेत्र में गर्मी के सितम को बढ़ा दिया है। शहरीय क्षेत्र में छुटपुट तो ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों कटौती का दौर अधिक चल रहा है। ग्रामीण इलाको में पिछले दिनों लगातार कटौती हो रही थी। बीच में चार-पांच दिनों में स्थिति में सुधार हुआ था लेकिन दो दिनों से फिर से कटौती अधिक हो रही है। ऐसे में बिजली संकट गहरा रहा है। आम लोगों में गर्मी के दिनों में कटौती होनेे के कारण आक्रोश तो बढ़ता जा रहा है लेकिन कटौती में कमी नहीं आई है। जिले में वर्तमान में गर्मी तीखे तेवर दिखा रही है। आग उगलती धूप में निकलना भी मुश्किल हो रहा है और ऐसे दौर में हो रही कटौती से हर कोई परेशान है। गर्मी से राहत के लिए कटौती के कारण घरों में पंखे व कूलर भी साथ नहीं दे रहे है।

मांग व उत्पादन में अंतर के कारण बढ़ रहा बिजली संकट
विभाग से मिली जानकारी के अनुसार गर्मी के दिनों में बिजली की खपत अत्यधिक बढ़ती जा रहा है। अचानक से बिजली की खपत बढ़ गई है। आम तौर के बजाए गर्मी के इन दिनों में २० से ३० प्रतिशत अधिक बिजली की खपत हो रही है। खपत अधिक होने और उत्पादन प्रभावित होने के कारण फीडर बंद हुए तो कटौती होना शुरु हो गया। जनरेशन और डिमांग में आए अंतर के कारण जिले में अघोषित कटौती का दौर शुरु हो गया। बीती रात को भी कई घंटे कटौती हुई।

हर कोई है कटौती से परेशान
संजीत निवासी रईस चंद्र, देंवेंद्र मोर्य, मंगलेश सूर्यवंशी के साथ ही कनघट्टी अशोक पाटीदार, ओमप्रकाश कारपेंटर ने बताया कि कई घंटों तक लगातार कटौती हो रही है। संजीत में शनिवार को शाम ५.३० बजे से ९ बजे तक तो और रात १.३० बजे फिर से कटौती हुई। इसके अलावा जिले के सभी गांवों में लोड सेंटिग के चलते बारी-बारी से कटौती हो रही है। सुबह-शाम हो रही वो अलग है। एक तो गर्मी और मच्छरों से बेहाल है ऊपर से लाइट कटौती की मार से रात भर जगाना पड़ रहा है। गर्मी और मच्छरों की समस्या ने बिजली कटौती को और बढ़ा दिया है दोपहर में कटौती से लोग हाल बेहाल हो रहे है।

अब तक हो रही थी सिंचाई फीडर पर अब होने लगी घरेलु फीडर पर
बिजली विभाग से मिली जानकारी के अनुसार मांग और खपत के साथ उत्पादन में अंतर आने के कारण कटौती हो रही है। अब तक सिंचाई फीडर पर कटौती चल रही थी लेकिन अब घरेलु फीडर वह ग्रामीण अंचल में कटौती लोड सेङ्क्षटग के कारण शुरु हुई है।

कटौती पर मंत्री डंग बोले जितनी अभी जा रही उतनी कांग्रेस के समय आती थी
इधर रविवार को शहर में एक कार्यक्रम में पहुंचे कैबिनेट मंत्री हरदीपसिंह डंग ने गर्मी के दिनों में हो रही कटौती और बिजली संकट पर कहा कि घबराने की जरुरत नहीं है। मुख्यमंत्री इसकी मॉनीटरिंग कर रहे है। बिजली का संकट थोड़ा है। जितनी अभी जा रही है कांग्रेस के समय उतनी आती थी। कुछ दिन में स्थिति सामान्य हो जाएगी। पॉवर प्लांट पर संकट हर जगह खड़ा है ऐसे में बिजली आपूर्ति को निर्बाध करने के लिए सतत मॉनीटरिंग व प्रयास हर स्तर पर किए जा रहे है। गर्मी में खपत भी अधिक हो रही है इसलिए भी यह दिक्कत है।

धीरे-धीरे सामान्य हो रही स्थिति
गर्मी बढ़ते ही बिजली की खपत भी बढ़ गई है। जनरेशन और डिमांड के लिहाज से कटौती की जा रही है। सामान्य दिनों के मुकाबले इन दिनों खपत बढ़ गई है। ऐसे में ग्रामीण इलाको के अलग अलग फीडरों पर पीक टाइम के दौरान कटौती की जा रही है। पावर लोड को बेलेंस करने के लिए कटौती हो रही है। -सुधीर आचार्य, अधीक्षण यंत्री, एमपीईबी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलपंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के OSD प्रदीप कुमार भी हुए गिरफ्तार, 27 मई तक पुलिस रिमांड में विजय सिंगलारिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की 'पृथ्वीराज', जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंगGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: मिलर के तूफान में उड़ा राजस्थान, गुजरात ने पहले ही सीजन में फाइनल में बनाई जगहRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.