इन 6 बड़े कारणों से बाजार में अगले हफ्ते दिखेगी हलचल, संसद पर होगी निवेशकों की नजर

इन 6 बड़े कारणों से बाजार में अगले हफ्ते दिखेगी हलचल, संसद पर होगी निवेशकों की नजर

Manish Ranjan | Updated: 16 Dec 2018, 02:15:16 PM (IST) बाजार

शेयर बाजार में लगातार चार सत्रों से लाभ के बाद गत सप्ताह कारोबार के अंतिम सत्र में सेंसेक्स व निफ्टी हरे निशान पर बंद हुए।

नई दिल्ली। शेयर बाजार में लगातार चार सत्रों से लाभ के बाद गत सप्ताह कारोबार के अंतिम सत्र में सेंसेक्स व निफ्टी हरे निशान पर बंद हुए। ठोस मुद्रास्फीति, आईआईपी आंकड़े और अमरीकी-चीन व्यापार संबंधों के कारण बाजार में काफी उठा-पटक देखने को मिली था। बाजार में सबसे ज्यादा गिरवाट चुनाव परिणामों के कारण देखने को मिली। लेकिन इन सबके बावजूद सप्ताहिक आधार पर, बीएसर्इ सेंसेक्स 289 अंक यानी 0.81 फीसदी तक बढ़ गया। जबकि निफ्टी में 111 अंक यानी 1.05 फीसदी की तेजी आई। नए सप्ताह की शुरूआत में क्रूड ऑयल की कीमतें, रुपया और वैश्विक बाजार के लिए महत्वपूर्ण ट्रिगर्स साबित हो सकती है। आइए जानते हैं कि आखिर किन वजहों से बीते सप्ताह बाजार में तेजी देखने को मिलेगी।

संसद का शीतकालीन सत्र करेगा तय करेगा बाजार की चाल

सबसे पहला कारण जिससे बाजार का मूड प्रभावित हो सकता है, वो है संसद का शीतकालीन सत्र जोकि 11 दिसंबर को शुरू हो चूका है। संसद का शीतकालीन सत्र 8 जनवरी 2019 को समाप्त होगा। साथ ही ये 2019 के आम चुनावों से पहले एनडीए सरकार का अंतिम सत्र भी होगा। संसद के इस शीतकालीन सत्र के दौरान निवेशकों में उत्साह देखने को मिल सकता है। ट्रिपल तलाक बिल और इंडियन मेडिकल काउंसिल जैसे कुछ महत्वपूर्ण बिलों का बाजार पर असर पड़ सकता है।

फेडरल रिजर्व से प्रभावित हो सकता है बाजार

18 दिसंबर को होने वाली अमरीकी फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजे से भी निवेशकों का रूझान तय होगा। एेसे में निवेशकों की नजर पूरी तरह से फेड के बैठक पर होगी। आपको बता दें कि चीन व्यापार समझौते का असर भी शेयर बाजारों पर पड़ा है। साथ ही आर्थिक विकास को काफी हद तक प्रभावित किया है। विश्लेषकों का मानना है कि बाजार को फेडरल रिजर्व से राहत की उम्मीद हो सकती हैं।

बैंक ऑफ इंग्लैंड कर सकता है ये बदलाव

दूसरी तरफ बैंक ऑफ इंग्लैंड को लेकर ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि वह ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं करेगी। कुछ बाजार जानकारों की माने तो ब्रिटिश प्रधानमंत्री और यूरोपीय संघ के साथ समझौते के बाद बैंक ऑफ इंग्लैंड बदलाव कर सकता है।

आने वाले सप्ताह में ये हो सकता है बाजार का हाल

बीते सप्ताह शुक्रवार को निफ्टी50 एक फ्लैट नोट पर बंद हुआ है। बाजार विशेषज्ञों की माने तो शेयर बाजार में कमाजोरी तब देखने को मिल सकती है, जब इंडेक्स अपने 200 दिनों के चलने वाले औसत (10,756) से नीचे टूटाता है। लेकिन निफ्टी ने 10,800 से ऊपर बंद पर एक अच्छा सप्ताह देखा,पिछले दो दिनों में निफ्टी 10,830 के स्तर पर रहा। इसी प्रकार, बैंक निफ्टी ने भी अच्छी बढ़त दिखाई। लेकिन 27,050 के स्तर को पार करने के लिए अभी और तेजी से बढ़त करने की जरूरत है। आने वाले सप्ताह में निफ्टी 35,320 / 10,600 और 36,460 / 10, 970 पर हो सकता है। जबकि बैंक निफ्टी 26,140 और 27,350 के बीच रह सकता है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned