इस शख्स ने 13 हजार की लिमिट के SBI कार्ड से की 9 करोड़ की धोखाधड़ी

चौकाने वाली बात ये है कि इस शख्स ने जिस कार्ड से ये धोखाधड़ी किया है उसकी अधिकतम खर्च सीमा मात्र 13 हजार रुपए था।

By: manish ranjan

Published: 13 Mar 2018, 03:53 PM IST

नर्इ दिल्ली। एक शख्स के भारतीय स्टेट बैंक के ट्रैवल कार्ड से 9 करोड़ रुपए का धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। चौकाने वाली बात ये है कि इस शख्स ने जिस कार्ड से ये धोखाधड़ी किया है उसकी अधिकतम खर्च सीमा मात्र 13 हजार रुपए था। लेकिन इस शख्स ने चालाकी से बैंक को चूना लगाने में कामयाब हो गया। सामने आर्इ जानकारियों के मुताबिक एसबीआइ को 9 करोड़ रुपए का चूना लगाने वाला ये शख्स मुंबर्इ का रहने वाला है। अभी तक इस शख्स को गिरफ्तार नहीं किया गया है।


ब्रिटिश र्इ-काॅमर्स से किया खरीदारी

दरअसल बैंक ने जो ट्रैवल कार्ड जारी किया था उसकी अधिकतम लिमिट 13,000 रुपए का था लेकिन इस शख्स ने एक ब्रिटिश र्इ-काॅमर्स साइट से खरीदारी के दौरान बैंक को 9.1 करोड़ रुपए का बट्टा लगा दिया। हालांकि इस मामले में सीबीआर्इ ने मामला दर्ज कर लिया है। एसबीआइ ने इस मामले को लेकर एक एनआरआर्इ शख्स पर इस धोखाधड़ी का अाराेप लगाया है। सबसे पहले इस मामलो काे यलांचिलि साॅफ्टवेयर एक्सपोर्ट्स लिमिटेड सामने लेकर आर्इ। जिसके बाद इस साॅफ्टवेयर कंपनी ने 28 फरवरी 2017 को इस मामले के बारे में बैंक को बताया। बैंक को दर्ज अपने शिकायत में कंपनी ने कहा कि, इस शख्स ने प्रीपेड कार्ड को 374 बार प्रयोग किया गया है। आैर इन्ही प्रयोगों के दौरान बैंक के साथ धोखाधड़ी किया गया है।


बैलेंस ने होने के बावजूद भी किया धोखाधड़ी

कंपनी ने ये भी बताया की इस धोखाधड़ी को 8 नवंबर 2016 से 7 फरवरी 2017 के बीच अंजाम दिया गया है। जिस शख्स के नाम से ये कार्ड जारी किया गया है उसका नाम संदीप कुमार रधु बताया गया है। आपको बता दें कि शुरुआती 200 डाॅलर मिलने बैलेंस के तौर पर मिलने के बाद से इस कार्ड को कभी रिचार्ज नहीं कराया गया था। सबसे खास बात ये है कि इसके बावजूद भी इस कार्ड से धाेखाधड़ी हुआ।

Show More
manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned