रियल एस्टेट सेक्टर में आई गिरावट, घरों की बिक्री 23 फीसदी गिरी

- कोरोना के असर से अप्रैेल-जून तिमाही में बेहद कमजोर रहा रियल एस्टेट का प्रदर्शन।
- अप्रेल-जून तिमाही में आवासीय बिक्री 19,635 इकाई रही ।
मुंबई में घरों की बिक्री बढ़कर 5,821 इकाई पर पहुंच गई ।
बेंगलूरु में घरों की बिक्री में 47 प्रतिशत का इजाफा हुआ है ।
कोलकाता में घरों की बिक्री53 प्रतिशत तक घट गई है।

By: विकास गुप्ता

Published: 06 Jul 2021, 01:25 PM IST

नई दिल्ली। चालू वित्त वर्ष की अप्रेल-जून तिमाही में देश के सात प्रमुख शहरों में घरों की बिक्री में 23 फीसदी की गिरावट आई है। कोरोना महामारी की दूसरी लहर की वजह से घरों की बिक्री घटी है। हालांकि सालाना आधार पर तिमाही के दौरान घरों की बिक्री 83 फीसदी बढ़ी है। जेएलएल इंडिया के मुताबिक, जून तिमाही में आवासीय संपत्तियों की बिक्री 19,635 इकाई रही। जनवरी-मार्च तिमाही में यह 25,583 इकाई और पिछले साल अप्रेल-जून तिमाही में 10,753 इकाई रही थी। मुंबई के तहत मुंबई शहर, मुंबई उपनगर, ठाणे और नवी मुंबई आते हैं।

बेंगलूरु में दर्ज की गई तेजी-
बेंगलूरु में घरों की बिक्री 47 प्रतिशत बढ़कर 3,500 इकाई पर पहुंच गई, जो पिछली तिमाही में 2,382 इकाई रही थी। चेन्नई में बिक्री 81 फीसदी घटकर 3,200 से 600 इकाई रह गई। दिल्ली-एनसीआर में बिक्री 55 फीसदी घटकर 2,440 इकाई रह गई। जनवरी-मार्च की तिमाही में यह आंकड़ा 5,448 इकाई का रहा था। हैदराबाद में 3,709 इकाई से घटकर 3,157 इकाई रह गई। कोलकाता में आवासीय इकाइयों की बिक्री 56 फीसदी घटकर 1,320 इकाई से 578 इकाई रह गई।

मुंबई में घरों की बिक्री में मामूली सुधार-
मुंबई में घरों की बिक्री मामूली बढ़कर 5,779 इकाई से 5,821 इकाई पर पहुंच गई। वहीं पुणे में बिक्री छह फीसदी घटकर 3,539 इकाई रह गई, जो इससे पिछली तिमाही में 3,745 इकाई रही थी। अप्रेल-जून, 2020 के दौरान बेंगलूरु में बिक्री 1,977 इकाई, चेन्नई में 460 इकाई, दिल्ली-एनसीआर में 2,250 इकाई, हैदराबाद में 1,207 इकाई, कोलकाता में 481 इकाई, मुंबई में 3,527 इकाई और पुणे में 851 इकाई रही थी।

शहरों का ऐसा प्रदर्शन-
शहर - घरों की बिक्री
चेन्नई - 600
दिल्ली-एनसीआर - 2,440
हैदराबाद - 3,175
कोलकाता - 578
पुणे - 3,539

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned