21 दिनों में होगा 9 लाख करोड़ का नुकसान लेकिन फिर भी बाजार में दिखी रौनक, आखिर कैसे संभला बाजार ?

  • bailout पैकेज से बाजार में दिखी रौनक
  • संसेक्स और निफ्टी के ज्यादातर शेयरों में तेजी
  • अमेरिका ने किया अब तक के सबसे बड़े राहत पैकेज का ऐलान
  • मोदी सरकार भी राहत पैकेज के दिये संकेत

Pragati Vajpai

25 Mar 2020, 04:48 PM IST

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ( corona virus), पिछले कुछ दिनों में पूरी दुनिया को हिलाकर रख देने वाले इस वायरस से अपने देश को बचाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी (pm modi ) ने 21 दिनों के लॉकडाउन ( 21 days lockdown ) की घोषणा की है। 21 दिनों तक लोगों को घर में रखने की कीमत है 9 लाख करोड़ रूपए। जी हां 21 दिनों के लिए पूरे देश को लॉकडाउन करने की वजह से अर्थव्यवस्था को इतना नुकसान होने की आशंका है। और ये हम नहीं कह रहे है बल्कि ब्रिटिश ब्रोकरेज हाउस बार्कलेज का अनुमान है। ( बार्कलेज ने फिस्कल ईयर 2021 के लिए ग्रोथ का अनुमान 1.7 फीसदी घटाकर 3.5 फीसदी कर दिया है। इसके साथ ही उन्होने लिखा है कि क्यूमलेटिव स्लोडाउन की वजह से भारत की GDP में 4 फीसदी यानी 120 अरब डॉलर का नुकसान हो सकता है)

होम मिनिस्ट्री को सताई गार्ड्स की चिंता, दिये छंटनी और वेतन न काटने के आदेश

प्रधानमंत्री मोदी को भी इस बात का अहसास है कि 21 दिनों के लॉकडाउन की कीमत चुकानी होगी लेकिन इस वक्त संकट और संक्रमण से जूझ रहे देश में पैसों से ज्यादा जरूरी है लोगों को बचाना। और शेयर मार्केट ने भी मोदी के इस फैसले का स्वागत किया है तभी तो 9 लाख करोड़ के नुकसान की आशंका के बीच लगातार गिरावट झेल रहे शेयर मार्केट में रौनक लौटती नजर आ रही है। क्या ये सिर्फ मोदी पर भरोसा है कुछ और । दरअसल शेयरमार्केट में अचानक आई इस हरियाली के पीछे ठोस कारण है।

share_bajar.jpg

बेलआउट (Bailout) पैकेज- खबर लिखे जाने तक संसेक्स लगभग 2000 अंको की बढ़त के साथ 28500 पर कारोबार कर रहा है। सेंसेक्स के 30 में से 27 शेयरों में तेजी देखी जा रही है जबकि निफ्टी के 50 में से 41 शेयरों में तेजी देखने को मिल रही है। शेयर मार्केट की बात करें तो फार्मा शेयरों में अच्छी खरीदारी देखने को मिल रही है। PIRAMAL ENT, cipla और जियों के शेयर्स में तेजी देखने को मिली । वहीं लॉकडाउन में सिर्फ ग्रॉसरी स्टोर खुलने के फैसले का असर रिटेल शेयरों में पर देखने को मिला। डीमार्ट 4 फीसदी तो स्पेंसर रिटेल में 12 फीसदी की तेजी देखी गई।

लॉकडाउन के बीच आनंद महिन्द्रा ने लोगों से की 3 गरीबों की मदद की अपील, क्या आप देंगे उनका साथ ?

इसकी सबसे बड़ी वजह रही आर्थिक राहत पैकेज ( bailout package ), दरअसल सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि सरकार जल्द ही राहत पैकेज की घोषणा कर सकती है। होटल, टूरिज्म और एविएशन सेक्टर के लिए विशेष राहत पैकेज मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। खबर तो यहां तक आ रही है कि कोरोना की वजह से दिवालिया होने की कगार पर खड़े एविएशन सेक्टर को सरकार की तरफ से 12000 करोड़ का बेलआउट पैकेज मिल सकता है । इस खबर की सुगबुगाहट के साथ ही संसेक्स ने 28000 के ऊपर छलांग लगा दी थी । ( मोदी सरकार ने राहत पैकेज के लिए टास्क फोर्स का गठन janta curfew से पहले कर दिया था, और वित्त मंत्री ने मंगलवार को आर्थिक कामकाजों में रियायत देते हुए जरूरी कामों की तारीख 30 तक के लिए बढ़ा दी है) ।

 

कैबिनेट मीटिंग

अमेरिका ने दिया अब तक का सबसे बड़ा पैकेज- वहीं दूसरी ओर अमेरिकी सीनेट की ओर से 2 लाख करोड़ के बेलआउट पैकेज की वजह से भी ग्लोबल मार्केट में सुधार हुआ और इसका फायदा भी आज भारतीय शेयर बाजार को मिला है। अमेरिका ने अबतक का सबसे बड़ा बेलआउट पैकेज दिया है और जैसी उम्मीद थी अमेरिका ने अपने नागरिकों को डायरेक्ट पेमेंट के माध्यम से राहत दी है । अमेरिका पने हर नागरिक को 1200 डॉलर का चेक देने जा रहा है। और अमेरिका की इस पहल का असर दुनिया भर के बाजारों पर दिखा है।

Show More
Pragati Bajpai Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned