8 रुपए तक बढ़ने जा रहे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, आप पर आएगी ये संकट

8 रुपए तक बढ़ने जा रहे हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, आप पर आएगी ये संकट

Ashutosh Kumar Verma | Publish: May, 18 2018 12:42:09 PM (IST) बाजार

माॅर्गन स्टेनली के अनुसार 2020 तक कच्चे तेल का दाम 90 डाॅलर प्रति बैरल तक जा सकता है।

नर्इ दिल्ली। कर्नाटक चुनाव के दौरान लगातार 20 दिनों तक घरेलू बाजार में तेल के दाम में काेर्इ बढ़ोतरी नहीं हुर्इ थी लेकिन अब पिछले पांच दिन में पेट्रोल के दाम में 1 रुपए आैर डीजल के दाम में 1.15 रुपए तके की बढ़ोतरी हो चुकी हैं। पेट्रोल-डीजल के दाम में लगातार बढ़ोतरी को देखते हुए कयास लगाया जा रहा है कि अाने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल के दाम 90 रुपए प्रति लीटर पार हो सकता है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में बड़ी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है वहीं डाॅलर के मुकाबले रुपए में भी कमजोरी जारी है। एेसे में तेल कंपनियां के लिए अधिक समय तक पेट्रोल-डीजल के दाम को होल्ड करने में मुश्किल हो रही है। जानकार इस बात की आशंका जता रहे हैं कि पेट्रोल-डीजल के दाम 6 से 8 रुपए तक बढ़ सकते हैं।


क्या है आज पेट्रोल-डीजल के दाम

कर्नाटक चुनाव के बाद आज लगातार पांचवें दिन भी तेल के दाम में इजाफा हुआ है। राजधानी दिल्ली में आज पेट्रोल के दाम में 29 पैसे की बढ़ोतरी की गर्इ है। इसके साथ ही दिल्ली में अब एक लीटर पेट्रोल के लिए आपको 75.61 रुपए चुकाने होंगे। वहीं डीजल के दाम में भी 29 पैसे की बढ़ोतरी की गर्इ जिसके बाद अब ये 67.08 रुपए प्रति लीटर हो गया है। दूसरे महानगरों की बात करें तो मुंबर्इ में पेट्रोल 29 पैसे बढ़कर 83.50 रुपए हो गया है वहीं डीजल भी 30 पैसे चढ़कर 71.41 रुपए हो गर्इ है। कोलकाता में पेट्रोल अाज 28 पैसे बढ़कर 78.29 रुपए प्रति लीटर तो डीजल 30 पैसे बढ़कर 69.62 रुपए प्रति लीटर हो गर्इ है। चेन्नर्इ में एक लीटर पेट्रोल के लिए अब आपको 78.42 रुपए देने होंगे। वहीं चेन्नर्इ में डीजल 31 पैस महंगा होकर 70.70 रुपए प्रति लीटर हो गर्इ हैं।


90 डाॅलर प्रति बैरल के पार जा सकता है कच्चे तेल का दाम

आज अंतर्राष्ट्रीयबाजार में कच्चे तेल का दाम 80 डाॅलर प्रति बैरल के पार चली गर्इ है। इस विषय से जुड़े जानकारों का मानना है कि निकट भविष्य में कच्चे तेल की कीमत में कोर्इ राहत नहीं मिलने वाली। वहीं माॅर्गन स्टेनली के अनुसार, कच्चे तेल की कीमतोें में उछाल अगले दो साल तक देखने को मिल सकता है। आैर इस तरह 2020 तक कच्चे तेल का दाम 90 डाॅलर प्रति बैरल के स्तर काे पार कर सकता है। ये उछाल कच्चे तेल के डिमांड आैर सप्लार्इ के अनुपात बिगड़ने से होगा। इसके पहले अक्टूबर 2014 में कच्चे तेल का दाम 90 डाॅलर प्रति बैरल के पार जा चुका हैं।


पड़ेगी महंगार्इ की मार

इसके बाद जाहिर है कि घरेलू बाजार में पेट्रोल-डीजल के दाम में भी बढ़ोतरी जारी रहेगी। माॅर्गन स्टेनली ने अपने रिपोर्ट में दावा किया है कि पेट्रोल-डीजल के दाम मे 6 से 8 रुपए तक का इजाफा हो सकता है। एेसे में देश की तेल विपणन कंपनियो को तेल के दाम को स्थिर स्तर पर रखना मुश्किल होगा। पहले ही कर्नाटक चुनाव के दौरान तेल के दाम को स्थिर रखने पर इन कंपनियों को मार्जिन बिगड़ चुका है।घरेलू बाजार में तेल के दाम से महंगार्इ की मार पड़ने वाली हैं। क्योंकि कारोबारियों पर माल ढुलार्इ का बोझ बढ़गे जिसका सीधा असर बाजार पर दिखने को मिलेगा।

Ad Block is Banned