2.11 फीसदी के नुकसान के बाद भी Infosys ने किया बोनस शेयर का एेलान

Ashutosh Verma

Publish: Jul, 13 2018 06:04:08 PM (IST) | Updated: Jul, 14 2018 09:43:04 AM (IST)

बाजार
2.11 फीसदी के नुकसान के बाद भी Infosys ने किया बोनस शेयर का एेलान

इंफोसिस ने एक्सचेंज बोर्ड को दी जानकारी में बताया कि 30 जून को खत्म हुर्इ पहली तिमाही में कंपनी का मुनाफा 2.1 फीसदी घटकर 3,612 करोड़ हो गया है।

नर्इ दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी आर्इटी कंपनी ने शुक्रवार को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही का नतीजा जारी कर दिया है। इंफोसिस ने एक्सचेंज बोर्ड को दी जानकारी में बताया कि 30 जून को खत्म हुर्इ पहली तिमाही में कंपनी का मुनाफा 2.1 फीसदी घटकर 3,612 करोड़ हो गया है। इसके पहले वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में कुल 3,690 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इस मुनाफे के बाद इंफोसिस ने 1 पर 1 बोनस शेयर देने का एेलान किया है। वित्त वर्ष 2019 में रुपये में आय की बात करें तो इंफोसिस की आय 5.8 फीसदी घटकर 19,128 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में ये आंकड़ा 18,083 करोड़ रुपये रहा था। आज रिजल्ट से पहले इंफोसिस के शेयर 1.12 फीसदी तक तेजी के साथ बंद हुए।


आॅपरेटिंग मार्जिन में भी 100 बेसिस प्वाइंट की कमी
तिमाही आधार पर अप्रैलस से जून में इंफोसिस का एबिटडा 4,472 करोड़ रुपये से घटकर 4,267 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर पहली तिमाही में इंफोसिस का एबिट मार्जिन 24.7 फीसदी से घटकर 22.3 फीसदी रहा है। इंफोसिस ने वित्त वर्ष 2019 में कॉनस्टेंट करेंसी ग्रोथ 6-8 फीसदी रहने के अनुमान को बरकरार रखा है। साथ ही ऑपरेटिंग मार्जिन 22-24 फीसदी पर रहने के अनुमान को भी बरकरार रखा है। कंपनी का आॅपरेशन परफार्मेंस भी एनलिस्ट के मुताबिक नहीं रहा। आॅपरेटिंग मार्जिन भी 100 बेसिस प्वाइंट कम होकर 23.7 फीसदी हो गया है।


कंपनी ने किया बोनस शेयर का एेलान
हालांकि कंपनी ने अपने सेल्स ग्रोथ को 6 से 8 फीसदी के फोरकास्ट को मेंटेन रखा है। क्योंकि कंपनी बड़े मार्जिन में कपनी लगातार डीजिटल सर्विसेज में लगातार निवेश कर रही है। कंपनी के प्रबंध निदेश व मुख्य कार्यकारी अधिकारी सलिल पारेख ने कहा कि , "हमारा डीजिटल बिजनेस 8 फीसदी से आगे बढ़ रहा है आैर बाजार के अच्छे माहौल से हमारे बड़ी डील बढ़कर करीब एक अरब डाॅलर तक पहुंच गर्इ है।" प्रेस काॅन्फ्रेंस में पारेख ने कहा कि अमरीका, यूरोप आैर एशियार्इ पैसिफिक देशों में हमारी डिमांड बढ़ रही है। बोर्ड 1 पर 1 बोनस शेयर देने का एेलान किया है।

Ad Block is Banned