फरवरी माह में रिटेल महंगार्इ दर घटकर हुर्इ 4.4 फीसदी, 4 माह के निचले स्तर पर

सीएसओ की ओर से जारी आंकड़ों के अनुमसार, जनवरी में देश का औद्योगिकी उत्पादन पिछले साल की समान अवधि के 3.5 फीसदी के मुकाबले बढ़कर 7.5 फीसदी होगया।

By: manish ranjan

Published: 13 Mar 2018, 09:17 AM IST

नर्इ दिल्ली। भारत के औद्योगिक उत्पादन में इस साल जनवरी में पिछले साल के मुकाबले दोगुना से ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। वहीं खुदरा महंगाई दर में फरवरी में कमी आई है। सीएसओ की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुमसार, जनवरी में देश का औद्योगिकी उत्पादन पिछले साल की समान अवधि के 3.5 फीसदी के मुकाबले बढ़कर 7.5 फीसदी हो गया। हालांकि पिछले साल दिसंबर के मुकाबले यह थोड़ा ही अधिक है। दिसंबर में औद्योगिक उत्पादन में 7.1 फीसदी का इजाफा हुआ था। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के अनुसार, चालू वित्त वर्ष के शुरुआती 10 महीने यानी अप्रैल-जनवरी के दौरान संचयी औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईपीपी) बीते वित्त वर्ष के मुकाबले 4.1 फीसदी ज्यादा है।

 

खाद्य पदार्थों आैर र्इंधन के दामों में आर्इ कमी

देश में खुदरा महंगाई दर फरवरी में घटकर 4.4 फीसदी हो गई। सीएसओ की ओर से सोमवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक जनवरी-2018 में भारत में खुदरा महंगाई दर 5.07 फीसदी थी जो कि फरवरी में घटकर 4.4 फीसदी हो गई है। सालाना आधार पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित महंगाई दर फरवरी 2017 में 3.65 फीसदी दर्ज की गई है। पिछले महीने खासतौर से खाद्य पदार्थो की कीमतों में गिरावट और ईंधन के दाम घटने से महंगाई में कमी आई है। सब्जियों का उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पिछले महीने 17.57 फीसदी रही जबकि जनवरी में यह 26.97 फीसदी था। दुग्ध उत्पादों की महंगाई 4.21 फीसदी और अनाज व अनाज के उत्पादों की महंगाई 2.10 फीसदी दर्ज की गई। वहीं, मांस और मछली की महंगाई दर 3.31 फीसदी और अंडे की महंगाई 8.51 फीसदी रही।

नोटबंदी आैर जीएसटी से उबर रहा मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर
महंगार्इ दर के इस बार के आंकड़ों से राहत की बात ये है कि, देश का मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। मैन्यफैक्चिरिंग सेक्टर का विकास दर जनवरी माह मेें 8.7 फीसदी दर्ज किया गया। इसका साफ इशारा ये है कि ये सेक्टर अब नोटबंदी आैर जीएसटी के असर से उबर रहा है। वहीं इससे सेक्टर की बढ़ोतरी से देश में रोजगार के नए अवसर भी बढ़ेंगे।

Show More
manish ranjan Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned