इन तीन वजहों से शुक्रवार को दो माह के निचले स्तर पर फिसला शेयर बाजार

इन तीन वजहों से शुक्रवार को दो माह के निचले स्तर पर फिसला शेयर बाजार

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 19 Jul 2019, 06:04:11 PM (IST) बाजार

  • सेंसेक्स 560 अंक तो निफ्टी 177 अंक टूटकर हुआ बंद।
  • बैंकिंग व एनबीएफसी सेक्टर में सबसे अधिक बिकवाली।

नई दिल्ली। बेंचमार्क इंडेक्स ( benchmark index ) में शुक्रवार को भारी गिरावट दर्ज की गई। दिनभर के कारोबार के बाद बैंकिंग और NBFC सेक्टर में सबसे अधिक गिरावट दर्ज की गई। इन दोनों सेक्टर में बिकवाली एशियन डेवलपमेंट बैंक ( Asian Development Bank ) द्वारा भारत के ग्रोथ अनुमान को 7 फीसदी के स्तर पर रखने के बाद आया है।

शुक्रवार को वैश्विक बाजार में तेजी के बाद घरेलू शेयर बाजार की शुरुआत अच्छी रही। उम्मीद की जा रही है इस माह में होने वाली बैठक में अमरीकी फेडरल रिजर्व बैंक ( Federal Reserve Bank ) ब्याज दरों में कटौती कर दी गई। सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन 130 अंकों की बढ़त के बाद दिनभर के बाद सेंसेक्स ( BSE Sensex ) 560 अंक लुढ़ककर 38,337 के स्तर पर बंद हुआ। इसी प्रकार निफ्टी 50 ( Nifty 50 ) भी अच्छी शुरुआत के बाद 177 अंक गिरकर 11,419 के स्तर पर बंद हुआ। आइए जानते हैं कि बाजार में आज किन वजहों से बाजार में भारी बिकवाली का दौर देखने को मिला।

यह भी पढ़ें - जबरदस्त बिकवाली के बाद दो माह के निचले स्तर पर फिसला बाजार, 560 अंक टूटा सेंसेक्स

1. विदेशी पोर्टफोलियो निवेश को लेकर चिंता: बीते गुरुवार को लगातार 13वां सत्र था तक घरेलू स्टॉक में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने अपना निवेश कम किया। केव गुरुवार को ही 1,405 करोड़ रुपये की बिकवाली रही। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को भी अपने बजट प्रस्ताव में किये गये घोषणे पर स्थिर रहीं। उन्होंने कहा कि कटौती से बचने के लिए आप कॉरपोरेट स्ट्रक्चर का पालन करें।

2. वित्तीय कंपनियों के स्टॉक्स में बिकवाली: सेंसेक्स में प्वाइंट के मामले में टॉप 7 कंपनियां वित्तीय सेक्टर्स की हैं। बजाज फाइनेंस 5 फीसदी, इंडसइंड बैंक 3 फीसदी, एसबीआई 1.7 फीसदी, एचडीएफसी 1.6 फीसदी और कोटक महिंद्रा बैंक 1 फीसदी टूटकर बंद हुआ। ऑटो स्टॉक्स में आज बिकवाली का दौर रह। इस सेक्टर्स में गिरावट वाले शेयरों की बात करें तो इसमें महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स, हीरो मोटोकॉर्प और बजाज ऑटो के शेयर्स शामिल रहे, जिनमें आज 3 फीसदी तक की गिरावट रही।

यह भी पढ़ें - बड़ा खुलासाः मुनाफे को लेकर 3 साल तक आपसे झूठ बोलता रहा SBI, नहीं हुई कोई कार्रवाई

3. पहली तिमाही के नतीजे: जून तिमाही के नतीजे निवेशकों के उम्मीद के मुताबिक नहीं रहे हैं। शुक्रवार को ही मार्केट कैप के मामले में देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के नतीजे जारी होने वाले हैं। उम्मीद है कंपनी के पेट्रोकेमिकल कारोबार में कुछ खास मुनाफा नहीं होगा। वहीं, शनिवार को एचडीएफसी बैंक भी तिमाही नतीजे जारी करने वाला है। मार्केट कैप के मामले में एचडीएफसी तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned