विदेशी संकेतों और तिमाही नतीजों पर निर्भर करेगी शेयर बाजार की चाल

  • घरेलू शेयर बाजार को इस सप्ताह विदेशी बाजार से मिले संकेतों से दिशा मिलेगी
  • चुनावी माहौल में निवेशक सर्तकता बरत रहे हैं
  • ऐसे में बाजार की चाल सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम और डॉलर के मुकाबले रुपये के रुखों से नियंत्रित हो रही

By: Shivani Sharma

Updated: 05 May 2019, 04:54 PM IST

नई दिल्ली। घरेलू शेयर बाजार को इस सप्ताह विदेशी बाजार से मिले संकेतों से दिशा मिलेगी। चुनावी माहौल में निवेशक सर्तकता बरत रहे हैं। ऐसे में बाजार की चाल सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम और डॉलर के मुकाबले रुपये के रुखों से नियंत्रित हो रही है। इसके अलावा, प्रमुख कंपनियों की पिछली तिमाही के नतीजे और घरेलू व विदेशी आर्थिक आंकड़ों पर भी बाजार की नजर होगी।


भारती एयरटेल सोमवार को जारी करेगी नतीजे

देश की प्रमुख दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल के बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के नतीजे सोमवार को जारी हो सकते हैं और इसी दिन निजी क्षेत्र के अग्रणी बैंक आईसीआईसीआई बैंक के भी नतीजे जारी होने जा रहे हैं। इसके अगले दिन मंगलवार को वेदांता की चौथी तिमाही के नतीजे जारी हो सकते हैं।


ये कंपनियां जारी कर सकती हैं Q4 के नतीजे

एशियन पेंट्स और एचसीएल टेक्नोलोजीज बीते वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के अपने नतीजे गुरुवार को जारी कर सकती हैं, जबकि सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को भारतीय स्टेट बैंक और लार्सन एंड टुब्रो के चौथी तिमाही के नतीजे आने वाले हैं। इन प्रमुख कंपनियों के कारोबारी प्रदर्शन के नतीजों से बाजार को दिशा मिलेगी।


ये भी पढ़ें: केवल ऑपरेटरों के ऑडिट के लिए TRAI ने की BECIL की नियुक्ति


निक्केई इंडिया जारी कर सकती है पीएमआई

सेवा क्षेत्र की गतिविधियों का आकलन करने वाला सूचकांक निक्केई इंडिया सेवा क्षेत्र पीएमआई (परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स) के अप्रैल महीने का आंकड़ा कारोबारी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को जारी हो सकता है। वहीं, सप्ताह के आखिर में शुक्रवार को मार्च महीने के औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी होने वाले हैं। इन दोनों प्रमुख आंकड़ों पर बाजार की इस सप्ताह नजर बनी रहेगी।


विदेशी बाजार का पड़ेगा भारत पर असर

अमेरिका में पिछले सप्ताह के आखिर में जारी हुए गैर कृषि क्षेत्र की नौकरियों के आंकड़े के बाद विदेशी बाजार की प्रतिक्रियाओं का असर भी भारतीय बाजार पर इस सप्ताह के शुरुआती सत्र में देखने को मिलेगा। अमेरिका में अप्रैल में नौकरियों में वृद्धि हुई जबकि बेरोजगारी दर घटकर 3.6 फीसदी पर आ गई जोकि 49 साल का निचला स्तर है। इस आंकड़े के बाद पिछले सप्ताह अमेरिकी बाजार तेजी के साथ बंद हुआ था। हालांकि भारतीय शेयर बाजार की चाल इस बात पर निर्भर करेगी कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों का निवेश के प्रति कैसा रुझान रहता है।


जल्द आएगा चुनाव का परिणाम

देश में इस समय लोकसभा चुनाव की गहमागहमी लगातार बढ़ती जा रही है। चार चरण के मतदान पूरे हो गए हैं और पांचवें चरण में इस सप्ताह छह मई को सात राज्यों के 51 लोकसभा क्षेत्रों में मतदान होगा। सात चरणों में हो रहे लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा और मतगणना 23 मई को होगी।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार,फाइनेंस,इंडस्‍ट्री,अर्थव्‍यवस्‍था,कॉर्पोरेट,म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

Bharti Airtel Ltd
Show More
Shivani Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned