Share Market Prediction: विदेशी पोर्टफोलियो समेत इन वजहों से तय होगी बाजार का चाल

  • विशेषज्ञों का कहना है कि निवेशक की आर्थिक वृद्धि को गति देने और ग्राहकों की धारणा को फिर से मजबूत करने के लिए सरकार की ओर से कदम उठाये जाने वाले कदमों पर नजर है।

By: Ashutosh Verma

Updated: 18 Aug 2019, 02:13 PM IST

नई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के निवेश, अमरीका-चीन व्यापार वार्ता एवं तेल और रुपये की चाल से इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों की दिशा तय होगी। विशेषज्ञों का कहना है कि निवेशक की आर्थिक वृद्धि को गति देने और ग्राहकों की धारणा को फिर से मजबूत करने के लिए सरकार की ओर से कदम उठाये जाने वाले कदमों पर नजर है।


सैमको सिक्योरिटीज एंड स्टॉकनोट के संस्थापक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी जिमीत मोदी ने कहा, 'कंपनियों के परिणाम जारी करने का दौर समाप्त हो गया है और अधिकतर कंपनियों की कमाई के तिमाही आंकड़े संतोषजनक नहीं रहे हैं। अर्थव्यवस्था नरमी की चपेट में है और इस तिमाही में मजबूती हासिल करने के लिए कंपनियों के पास करने के लिए बहुत कुछ नहीं है और अब बहुत सी चीजें सरकार की ओर से उठाये जाने वाले कदमों पर निर्भर हैं।'

यह भी पढ़ें - कंगाल पाकिस्तान में रहना भी मुहाल, किराये से लेकर बेरोजगारी तक में भारी इजाफा

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के शोध विभाग के उपाध्यक्ष अजीत मिश्रा ने भी कहा, 'कंपनियों की कमाई के आंकड़े जारी करने का समय समाप्त हो चुका है और घरेलू स्तर पर बाजार को प्रभावित करने वाला कोई पहलू नहीं है। अब वैश्विक घटनाक्रमों से दिशा तय होने की उम्मीद है।

निवेशकों की नजर अमेरिका-चीन व्यापार वार्ता की प्रगति, कच्चे तेल और रुपये/डॉलर की चाल पर होगी।' विशेषज्ञों का कहना है कि आर्थिक सुस्ती, कंपनियों की आय में कमी, वाहन उद्योग से जुड़े संकट एवं वैश्विक व्यापार से जुड़े मुद्दे से निवेश धारणा प्रभावित हो रही है।

यह भी पढ़ें - खादी को 'मेक इन इंडिया' से मिला बूस्ट, कमाई के मामले में हिंदुस्तान यूनीलीवर को भी छोड़ा पीछे

एपिक रिसर्च के सीईओ मुस्तफा नदीम ने कहा, 'इस सप्ताह निफ्टी की नजर वैश्विक संकेतों पर होगी क्योंकि वहां बहुत से घटनाक्रम हो रहे हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच व्यापार वार्ता सितंबर में संभावित है।' पिछले सप्ताह सेंसेक्स में 231.58 अंक यानी 0.60 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी।

(नोट: यह खबर न्यूज एजेंसी फीड से प्रकाशित की गई है। पत्रिका बिजनेस ने इसमें हेडलाइन के अतिरिक्त कोई अन्य बदलाव नहीं किया है।)

Show More
Ashutosh Verma Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned