आम लोगों की जेब पर आफत, सालभर में 20 फीसदी बढ़ी Subsidy gas cylinder की कीमत

  • एक साल में करीब 40 फीसदी घट गए Crude Oil Price
  • देश के कई लोगों की Gas Subsidy हो गई है पूरी तरह से जीरो
  • आने वाले दिनों में फिर से बढ़ सकते हैं घरेलू Gas Cylinder के दाम

By: Saurabh Sharma

Updated: 26 Jun 2020, 04:42 PM IST

नई दिल्ली। घरेलू गैस सिलेंडर के दाम ( Domestic Gas Cylinder Price ) में हाल के महीनों में इजाफा देखने को मिला है। उम्मीद है कि आने वाले महीने में भी यह इजाफा जारी रह सकता है। खास बत तो ये है कि सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर ( Subsidy Gas Cylinder Price ) की कीमतों में एक साल के अंदर 20 फीसदी का इजाफा देखने को मिल चुका है। इस इजाफे में और भी बढ़ोतरी हो सकती है। जबकि आईओसीएल भी कह चुका है देश की राजधानी दिल्ली में जून के महीने में जीरो हो चुकी है। जानकारों की मानें तो हर महीने सब्सिडी वाले सिलेंडर ( Gas Cylinder Price ) की बढ़ती कीमत और गिरती ग्लोबल कीमतों से सब्सिडी खत्म हो गई है। कैरोसिन ऑयल के बाद गैस की सब्सिडी खत्म होने से सरकार को काफी मिली है। मतलब साफ है आने वाले दिनों में गैस सिलेंडर पर सब्सिडी सपना हो जाएगी।

बिना घर से बाहर निकले ही जुड़ जाएगा Ration Card में New Familly Member का नाम

ट्वीटर पर हुआ था खुलासा
पेट्रोलियम मिनिस्ट्री के एक ट्विटर हैंडल ञ्चरूशक्कहृत्र_द्गस्द्ग1ड्ड से जानकारी मिली है कि मई और जून के बाद से कोई सब्सिडी नहीं रहने वाली है। कस्टमर की कंप्लेन का जवाब देते हुए कहा गया था कि 1 मई 2020 से एलपीजी गैस की कीमतें काफी कम हुई हैं और वह सब्सिडी वाली गैस की कीमत के बेहद करीब पहुंच चुकी है। मई 2020 में किसी भी ाग्राहक को सब्सिडी ट्रांसफर नहीं होनी है। फ्यूख्र में गैस सिलेंडर की कीमतों में कुछ बदलाव होगा सब्सिडी भी खुद एडजस्ट हो जाएगी।

नौकरीपेशा लोगों को लग सकता है बड़ा झटका, PF Interest Rate में हो सकती है कटौती

कुछ को मिली है सब्सिडी
जानकारों की मानें तो ऐसा नहीं है कि किसी को सब्सिडी मिली ही नहीं, कुछ ग्राहकों को 10-12 रुपए की सब्सिडी का भुगतान हुआ है। साल भर में एलपीजी का मार्केट प्राइस 737.5 रुपए से कम होकर घटकर 593 तक आ गया। वहीं समान समय में सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत 96 रुपए का इजाफा होकर 593 रुपए पर आ गया है। आपको बता दें कि देश में कुल एलपीजी सिलेंडर कस्टमर की संख्या 28 करोड़ है। जिनमें से करीब 1.5 करोड़ ग्राहक सब्सिडी नहीं लेते है। लगभग 8 करोड़ उज्जवला योजना के तहत सिलेंडर इस्तेमाल कर रहे हैं।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned