इस खाड़ी देश ने किया कारनामा, मात्र 6 महीने में बचा लिया हजारों गैलन तेल

दुबर्इ RTA के अनुसार टेस्ला से हुए करार के अनुसार सितंबर 2017 से दुबर्इ की सड़कों पर टेस्ला की 50 इलेक्ट्रिक गाड़ियां दौड़ रही हैं।

By: Saurabh Sharma

Published: 31 Mar 2018, 01:13 PM IST

नर्इ दिल्ली। देश में 2030 तक इलेक्ट्रिक कारों को सड़क पर उतारने का विचार चल रहा है। ताकि र्इंधन को बचाया जा सके। लेकिन दुनिया में एक देश एेसा भी है जहां की सड़कों पब्लिक ट्रांसपोर्ट के तौर पर चल रही गाड़ियों ने कुछ ही महीनों में कर्इ हजार गैलन र्इंधन को बचा लिया है। ताज्जुब की बात तो ये है कि उस देश में र्इंधन की भी कोर्इ कमी नहीं है। उसके बाद भी उस देश ने इलेक्ट्रिक कारों को प्रोमोट किया आैर देश में र्इंधन बचाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर वो देश कौन सा है जिसने यह कारनामा किया है।

इस खाड़ी देश ने बचाया र्इंधन
खाड़ी देशाें की आय का मुख्य स्रोत र्इंधन है। जहां से वो पूरे विश्व को पेट्रोलियम सप्लार्इ करते हैं। लेकिन वो खुद कितना र्इंधन इस्तेमाल करते हैं। इस बारे में आप सोच भी नहीं सकते। जी हां, जहां पूरा विश्व र्इंधन को बचाने पर विचार कर रहा है आैर इलेक्ट्रोनिक व्हीकल की आेर भाग रहा है। वहीं दुबर्इ ने इस पर काम करना शुरू भी कर दिया है। पिछले 6 महीने से पब्लिक ट्रांसपोर्ट के तौर पर चलार्इ जा रही इलेक्ट्रोनिक टैक्सी को प्रोमोट करते हुए 60 हजार गैलन पैट्रोलियम की बचत की है। दुबर्इ के रोड एंड ट्रांसपोर्ट अथोरिटी ने अपनी इस रिपोर्ट की जानकारी दी है। जिसे उन्होंने ट्वीट किया है। ताज्जुब की बात तो ये है कि यह सभी कारें टेस्ला की हैै। टेस्ला वही कंपनी है जिसने इलेक्ट्रोनिक कारों की शुरूआत की है।

क्या है आटीए की रिपोर्ट?
दुबर्इ रोड एंड ट्रांसपोर्ट अथाॅरिटी से प्राप्त जानकारी के अनुसार टेस्ला से हुए करार के अनुसार सितंबर 2017 से दुबर्इ की सड़कों पर टेस्ला की 50 इलेक्ट्रिक गाड़ियां दौड़ रही हैं। 21 लाख किलोमीटर तक चल चुकी इन गाड़ियों ने 64,186 ट्रिप लगा चुकी हैं। जिससे देश को 60 हजार गैलन पेट्रोलियम की बचत हुर्इ है। दुबर्इ टैक्सी काॅरपोरेशन के आॅपरेशन डायरेक्टर अदल अहमद शरीफ के अनुसार इस तरह की टैक्सी से लोग काफी संतुष्ट भी नजर आ रहे हैं।

200 कारों को खरीदने का है प्लान
दुबर्इ टैक्सी काॅरपोरेशन की मानें तो देश से हुए करार के अनुसार सड़कों पर 200 टेस्ला कारों को दौड़ाने का प्लान है। जिनमें से 50 कारें पहले से ही सड़कों पर दौड़ रही हैं। जिसकी सफलता के बाद पहले 75 गाड़ियों को लाया जाएगा। जिसके बाद इनकी संख्या 125 हो जाएगी। अगले साल यानि 2019 में बाकी 75 गाड़ियों को दुबर्इ की सड़कों पर लाने की तैयारी की जाएगी। हैरानी की बात तो ये है कि दुबर्इ में इलेक्ट्रोनिक गाड़ियों को चार्ज करने के लिए 3 सुपर चार्जर स्टेशन, 24 डेस्टिनेशन चार्जर्स मौजूद हैं। साथ ही कर्इ जगहों पर आैर चार्जर बनाने का भी प्लान किया जा रहा है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned