इन जगहों पर मिल रहा सबसे सस्ता पेट्रोल, टाॅफी से भी कम है एक लीटर की कीमत

इन जगहों पर मिल रहा सबसे सस्ता पेट्रोल, टाॅफी से भी कम है एक लीटर की कीमत

Ashutosh Verma | Publish: Sep, 06 2018 06:12:05 PM (IST) बाजार

भारत में भले ही पेट्रोल-डीजल की कीमतें रोजाना नर्इ उंचाइयों पर पहुंच रहा हो लेकिन दुनिया में कुछ एेसे जगह भी हैं जहां पेट्रोल की कीमतें बेहद सस्ती हैं।

नर्इ दिल्ली। भारत के लोग लगातार बढ़ रहे पेेट्रोलियम पदार्थों के दाम से परेशान हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने 15 जून 2017 से पेट्रोल-डीजल की कीमतों को रोजाना आधार पर तय करने का फैसला लिया था। जिसके बाद अब हर रोज सुबह 6 बजे पेट्रोल-डीजल की कीमतें तय की जाती हैं। इसके पहले प्रत्येक 15 दिन पर पेट्रोल-डीजल की के दाम को तय किया जाता था। लोगों के लिए सबसे परेशानी की बात ये है कि तेल की कीमतें बढ़ने से खाने-पीने की चीजों से लेकर रोजमर्रा की जरूरतों के सामान की भी कीमतें तेजी से बढ़ रही हैं। लेकिन भारत में भले ही पेट्रोल-डीजल की कीमतें रोजाना नर्इ उंचाइयों पर पहुंच रहा हो लेकिन दुनिया में कुछ एेसे जगह भी हैं जहां पेट्रोल की कीमतें बेहद सस्ती हैं। कुछ जगहों पर तो पेट्राेल महज एक टाॅफी से भी कम कीमत में मिल रहा है।


इन जगहों पर मिलता है सबसे सस्ता पेट्रोल
ये बात जानकर अापको शायद यकीन न हों लेकिन ग्लोबल पेट्रोल प्राइस नाम की एक वेबसाइट के मुताबिक दक्षिण अमरीकी देश वेनेजुएला में एक लीटर पेट्रोल खरीदने के लिए आपको महज 60 पैसे खर्च करने होंगे। केवल वेनेजुएला ही नहीं बल्कि दुनिया के कर्इ आैर देश हैं जहा पेट्रोल की कीमतें भारत की तुलना में बेहद कम हैं। कच्चे तेल के सबसे बड़े उत्पादक देशों में से एक र्इरान में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 20.36 रुपए है। सुडान में यदि आप पेट्रोल खरीदते हैं तो यहां पर आपको एक लीटर के लिए 24.47 रुपये देने होंगे। कुवैत में भी पेट्रोल की कीमत 24.76 रुपये प्रति लीटर है। यही नहीं, अलजेरिया, इक्वाडोर, नाइजीरिया आैर बहरीन जैसे कर्इ एेसे देश हैं जहां पर एक लीटर पेट्रोल के लिए लोगों को सिर्फ 25 से 38 रुपये ही खर्च करना होता है।


आज भी बढ़े हैं पेट्रोल-डीजल के दाम
देश में आज भी पेट्रोल आैर डीजल के दाम एक आैर नया रिकाॅर्ड बनाने के करीब पहुंच गया है। आज डीजल की कीमत 76 रुपए प्रति लीटर के करीब पहुंच चुका है। पेट्रोल भी 87 रुपए प्रति लीटर के करीब आ चुका है। अगस्त आैर सितबंर के मौजूदा हफ्तों के दिनों को जोड़कर देखा जाए तो इन दिनों में डीजल में चार रुपए से ज्यादा बढ़ चुके हैं। जहां देश के लोगों में इस बात का गुस्सा बढ़ता जा रहा है वहीं दूसरी सरकार यह समझाने में लगी हैं कि क्रूड आॅयल की कीमतें आैर रुपए में गिरावट की वजह से पेट्रोल आैर डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर विपक्ष का कहना है कि अगर राज्य सरकारें अपने राज्यों ये ड्यूटी कम करें तो दामों में कमी लार्इ जा सकती है।

Ad Block is Banned