महासंग्राम 2019: पीएम मोदी, धोनी और कोहली बनाम बॉलीवुड के इन दिग्गजों का होगा महामुकाबला

  • वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में होने वाले हैं आईपीएल, वर्ल्ड कप और लोकसभा चुनाव।
  • जानकारों ने कहा- बी टाउन पर दिख सकता है वर्ल्ड कप का असर।
  • आईपीएल और लोकसभा चुनाव के दौरान नहीं पड़ता मल्टीप्लेक्स कारोबार खास असर।

Ashutosh Kumar Verma

March, 2207:48 PM

बाजार

नई दिल्ली। भारत में लोकतंत्र के महापर्व की शुरुआत चुनावी तारीखों के ऐलान के साथ हो चुकी है। विभिन्न पार्टियां आगामी लोकसभा चुनाव के लिए अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर रही है। वहीं दलाल स्ट्रीट की नजर देश के कई नामी दिग्गजों पर है। इस महामुकाबले में पीएम नरेंद्र मोदी और किक्रेटर्स विराट कोहलीमहेंद्र सिंह धोनी के सामने होंगे बॉलीवुड के सलमान खान , अक्षय कुमार , वरुण धवन, आलिया भट्ट और सुशांत सिंह राजपुत। इन सभी के बीच होने वाले महासंग्राम आपकी नजरों के लिए होगा, जिसका असर स्टॉक रिटर्न्स पर भी पड़ने वाला है।


वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में दो दर्जन से अधिक फिल्में होंगी रीलीज

अप्रैल-जून तिमाही मल्टीप्लेक्स ऑपरेटर्स के लिए सबसे बेहतर माना जाता है। इसी दौरान कई मेगा बजट और मल्टी स्टारर फिल्में रीलीज होती हैं। इस बार वरुण धवन और आलिय भट्ट की फिल्म कलंक, टाइगर श्रॉफ की फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2, सुशातं सिंह राजपूत की फिल्म ड्राइव और सलमान खान की फिल्म भारत पर्दे पर आने वाली है। इनके साथ ही करीब दो दर्जन ऐसी फिल्में है जो इस दौरान रीलीज होने वाली हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक और विवेक ओबेरॉय की फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी भी 12 अप्रैल को रीलीज होने वाली है।


मल्टीप्लेक्स के कारोबार पर पड़ेगा असर

वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही बॉलीवुड के लिए आसान नहीं होने वाली है, क्योंकि इस दौरान, लोकसभा चुनाव, आईपीएल का 12वां संस्करण और आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप भी होने वाला है। पीवीआर और आईनॉक्स जैसे मल्टीप्लेक्स के लिए जनवरी-मार्च तिमाही अच्छा रहा है। यही कारण रहा कि बॉक्स ऑफिस पर साल-दर-साल के हिसाब से 34 फीसदी का मुनाफा हुआ है। इमके ग्लोबल रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च तिमाही में पीवीआर का मार्केट शेयर 24 फीसदी बढ़ा है जो कि साल 2017 के सामान अवधि में 20 फीसदी था। वहीं आईनॉक्स का भी मार्केट शेयर 15 फीसदी से बढ़कर 17 फीसदी हो गया है। लेकिन, आगामी जून तिमाही में क्रिकेट और राजनीति बी-टाउन का खेल बिगाड़ सकती है।


कैसा रहा था लोकसभा चुनाव 2014 का असर

साल 2014 में लोकसभा चुनाव जो कि अप्रैल-मई के बीच हुआ था, इस दौरान पीवीआर का कुल मुनाफा 7.7 करोड़ रुपए रहा था। इसकी पहली तिमाही में यह मुनाफा 13.6 करोड़ रुपए था। साल 2015 की इसी अवधि में यह पीवीआर का मुनाफा 43.5 करोड़ रुपए का था। इसी तरह, आईनॉक्स ने भी जून 2014 की पहली तिमाही में 4.6 करोड़ रुपए की कमाई किया था। साल 2013 की सामान तिमाही में यह मुनाफा 14.2 करोड़ रुपए और साल 2015 की सामान तिमाही में यह आंकड़ा 25.3 करोड़ रुपए का था।


वर्ल्ड कप 2015 के दौरान बी-टाउन को लगा था धक्का

साल 2015 में आईसीसी वर्ल्ड कप करीब 6 सप्ताह तक चला था। इस दौरान आईनॉक्स को मार्च तिमाही में 4.1 करोड़ रुपए और पीवीआर को 35.7 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। आमतौर पर मार्च तिमाही बॉलीवुड के लिए सबसे खराब तिमाही साबित होता है। कुछ बाजार विश्लेषकों का कहना है कि आईपीएल से मल्टीप्लेक्टस बिजनेस पर कुछ खास असर नहीं पड़ने वाला है।


क्या है जानकारों का कहना

बाजार के एक विश्लेषक का कहना है कि आईपीएल हर साल आता है और लोग इसे हॉटस्टार मोबाइल ऐप पर भी देख लेते हैं। कुछ साल पहले तक ऐसा नहीं था। इस वजह से मल्टीप्लेक्स कारोबार पर इसका कुछ खास असर नहीं देखने को मिलेगा। वहीं एक और विश्लेषक का कहना है कि पिछले वर्ल्ड कप के दौरान मल्टीप्लेक्स कारोबार पर बुरा असर पड़ा था। वहीं, चुनाव 7 चरणों में होंगे और इसका असर भी कुछ खास नहीं पडऩे वाला है। हालांकि, वर्ल्ड कप से बाजार पर प्रभाव पड़ने के आसार हैं।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

Show More
Ashutosh Verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned